बीमारी का बगैर दवाई भी इलाज़ है,मगर मौत का कोई इलाज़ नहीं दुनियावी हिसाब किताब है कोई दावा ए खुदाई नहीं लाल किताब है ज्योतिष निराली जो किस्मत सोई को जगा देती है फरमान दे के पक्का आखरी दो लफ्ज़ में जेहमत हटा देती है

Tuesday, 10 December 2019

आज राशी फल व पंचांग

ऊं नमः शिवाय शिवजी सदा सहाय
ऊं नमः शिवाय गुरु जी सदा सहाय
ऊं नमः शिवाय श्री बालाजी सदा सहाय

निशुल्क पंचांग अपने मोबाइल फोन पर मंगवाने के लिए 9911342666 पर अपने नाम के साथ ही शहर का नाम लिख कर व्हाट्सएप्प करे
 *आज का श्री बालाजी पंचांग* ~ 🌞
⛅ *दिनांक 10 दिसम्बर 2019*
⛅ *दिन - मंगलवार*
⛅ *विक्रम संवत - 2076*
⛅ *शक संवत - 1941*
⛅ *अयन - दक्षिणायन*
⛅ *ऋतु - हेमंत*
⛅ *मास - मार्गशीर्ष*
⛅ *पक्ष - शुक्ल*
⛅ *तिथि - त्रयोदशी सुबह 10:44 तक तत्पश्चात चतुर्दशी*
⛅ *नक्षत्र - कृत्तिका 11 दिसम्बर प्रातः 05:58 तक तत्पश्चात रोहिणी*
⛅ *योग - शिव शाम 04:27 तक  तत्पश्चात सिद्ध*
⛅ *राहुकाल - दोपहर 02:59 से शाम 04:18 तक*
⛅ *सूर्योदय - 07:05*
⛅ *सूर्यास्त - 17:56*
⛅ *दिशाशूल - उत्तर दिशा में*
⛅ *व्रत पर्व विवरण -
 💥 *विशेष - त्रयोदशी को बैंगन खाने से पुत्र का नाश होता है।(ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-34)*
             

🌷 *ससुराल में तकलीफ़ हो तो* 🌷
👩🏻 *सुहागन देवियाँ को अगर ससुराल में बहुत कष्ट है .... अपनी शुभ मनोकामनाएं पूरी न होने की पीड़ा है, उनके लिए महर्षि अंगीरा के बताये अनुसार मार्गशीर्ष शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा को माँ पार्वती का स्मरण करते हुए उनको मन ही मन प्रणाम करें .... " हे माँ मैं अपने घर में सुख ... शांति ... और समृद्धि की वृद्धि हेतु ये व्रत कर रही हूँ "... सुबह ये संकल्प करें और ११ मंत्र से माँ पार्वती को प्रणाम करें ....*
🌷 *ॐ पार्वतये नमः*
🌷 *ॐ हेमवत्ये नमः*
🌷 *ॐ अम्बिकाय नमः*
🌷 *ॐ गिरीश वल्लभाय नमः*
🌷 *ॐ गंभीर नाभ्ये नमः*
🌷 *ॐ अपर्नाये नमः*
🌷 *ॐ महादेव्यै नमः*
🌷 *ॐ कंठ कामिन्ये नमः*
🌷 *ॐ क्षण मुखाये नमः*
🌷 *ॐ लोक मोहिन्ये नमः*
🌷 *ॐ मेनका कुक्षी रत्नाये नमः*
🙏🏻 *ये 11 नाम कम से कम एक बार तो बोल ही लेना, ज्यादा भी बोल सकतें है । जो बहने ये न कर पायें तो उनकी ओर से हम ये कर रहे है इसका पुण्य उन्हें पहुंचे उनके घर में भी सुख शांति बनी रहे ।**-*
             
🌷 *बलवर्धक* 🌷
➡ *२ से ४ ग्राम शतावरी का चूर्ण गर्म दूध के साथ ३ माह तक सेवन करें इससे शरीर में बल आता है, साथ ही नेत्र ज्योति भी बढ़ती है
             

🌷 *सुबह उठते वक्त* 🌷
🌞 *सुबह उठकर जो " ॐ ब्रह्मणे नमः " " ॐ ब्रह्मणे नमः" गुरु साक्षात् ब्रह्म स्वरुप है | गुरु का स्मरण करते हुए " ॐ ब्रह्मणे नमः " ऐसा जो मन में बोलता है, और वंदन करता है वो समस्त तीर्थो में स्नान करने और समस्त यज्ञो में भाग लेने का पुण्य प्राप्त करता है |*
🙏🏻
पंचक तिथि प्रारंभ -
2 दिसंबर 24:57 से 7 दिसंबर 25:28 मिनट तक।

30 दिसंबर 09:35से 4 जनवरी 10:05 मिनट तक।
एकादशी
रविवार, 08 दिसंबर मोक्षदा एकादशी
रविवार, 22 दिसंबर सफला एकादशी
प्रदोष
09 दिसंबर 2019 सोमवार सोम प्रदोष व्रत
23 दिसंबर 2019 सोमवार सोम प्रदोष व्रत
अमावस्या
26 दिसंबर 2019- गुरुवार- पौष अमावस्या।

आज का राशिफल🕉
मेष
दिन की शुरुआत में क्रोध हावी रहेगा। मन माफिक काम न होने से परिजनों पर नाराज होंगे। नौकरी में नया प्रस्ताव मिलेगा। धार्मिक रुचि बढ़ेगी। व्यापारिक प्रतिस्पर्धा में न पड़ें।


वृषभ
निवेश किये धन से अर्जित होने वाले वाले लाभ में विलंब होगा। संतान के लिए निर्णय लेने में दुविधा होगी। अर्थ व्यवस्था बिगड़ने से निर्माण कार्य की गति प्रभावित हो सकती है।


मिथुन
 कम समय में अधिक लाभ अर्जित करने के चक्कर में न उलझें। मेहनत करें। कार्यस्थल पर आपके पराक्रम की प्रशंसा बढ़ेगी। व्यापार में नई योजनाओं का प्रारंभ होगा। जल्दबाजी नुकसानदायक रहेगी
कर्क
 आज विशेष उन्नतिकारक योगों के कारण मन में प्रसन्नता रहेगी। मन को भक्तिभाव में लगाने की कोशिश करेंगे। कार्यस्थल पर अनुकूल परिणाम के लिए सक्रियता आवश्यक है। भवन निर्माण के लिए ऋण लेना पड़ सकता है।


सिंह
आलस को त्याग कर काम करें। रुके कार्य में सफलता मिलेगी। पूंजी निवेश में सोच से अधिक लाभ होगा। अपनी कार्ययोजना और निर्णय पर अमल करना जरूरी है। किसी के प्रति आकर्षित होंगे।


कन्या
 आज का पूंजी निवेश लाभदायी रहेगा। कार्यस्थल पर मान सम्मान की प्राप्ति होगी। व्यापार में वृद्धि होने के कारण काम आपकी योजनाओं के अनुसार होंगे। वायु विकार से पीड़ित रहेंगे।
तुला
 समय रहते जरूरी दस्तावेजों को संभाल लें, सामाजिक कार्यों में सम्मान प्राप्त होगा। स्थायी संपत्ति क्रय करने में जल्दी न करें। परिवार की समस्या का समाधान होगा। निजी कार्य की व्यस्तता रहेगी।


वृश्चिक
दैवीय कार्यों में दिन बीतेगा। आज रचनात्मक काम होंगे। नवीन अनुबंध व समझौतों के कारण आपके लाभ में वृद्धि होगी। जनकल्याण की भावना के कारण प्रतिष्ठा बढ़ेगी।


धनु
 पारमार्थिक कार्यों में धन लगेगा। सामाजिक कार्यों से सुयश मिलेगा एवं आपके प्रभाव में वृद्धि होगी। व्यापार अच्छा चलेगा। परिवार से सहयोग मिलने से कार्य आसानी से पूरे होंगे। अपनी पारिवारिक जिम्मेदारी की ओर विशेष ध्यान दें।
मकर
 कार्य की सफलता से मनोबल मजबूत होगा। कार्य की अधिकता रहेगी। अजनबी व्यक्ति का विश्वास न करें, धोखा मिल सकता है। कार्यक्षेत्र में वृद्धि के योग है। सक्रिय होने के कारण संबंध व परिचय क्षेत्र बढ़ेगा।


कुंभ
 कम बोलें, अच्छा बोलें। सुख-समृद्धि बढ़ेगी। आर्थिक निवेश में सोच-समझकर निर्णय लेने पर लाभ होगा। स्वाध्याय में रुचि बढ़ेगी। परिवार, समाज में आपका महत्व बढ़ेगा।


मीन
 व्यापार-व्यवसाय में चल रही उलझनों से परेशान रहेंगे। किसी परिजन के साथ अपने विशेष कार्य की पूर्ति के लिए देव स्थलों का भ्रमण करेंगे। लाभ होने की संभावना बनती है। मित्र मिलन संभव है।


जिनका आज जन्मदिन है उनको हार्दिक शुभकामनाये


दिनांक 10 को जन्मे व्यक्ति का मूलांक 1 होगा।
🎂🎂🎂🎂🎂🎂
 आपका मूलांक एक होगा। आप राजसी प्रवृत्ति के व्यक्ति हैं। आपको अपने ऊपर किसी का शासन पसंद नहीं है। आप साहसी और जिज्ञासु हैं। आपका मूलांक सूर्य ग्रह के द्वारा संचालित होता है। आप अत्यंत महत्वाकांक्षी हैं। आपकी मानसिक शक्ति प्रबल है। आपको समझ पाना बेहद मुश्किल है। आप आशावादी होने के कारण हर स्थिति का सामना करने में सक्षम होते हैं। आप सौन्दर्यप्रेमी हैं। आपमें सबसे ज्यादा प्रभावित करने वाला आपका आत्मविश्वास है। इसकी वजह से आप सहज ही महफिलों में छा जाते हैं।

शुभ दिनांक : 1,  10,  19,  28 

शुभ अंक : 1,  10,  19,  28,  37,  46,  55,  64,  73,  82
शुभ वर्ष : 2017,  2026,  2044,  2053,  2062 

ईष्टदेव : सूर्य उपासना तथा मां गायत्री 

शुभ रंग : लाल,  केसरिया,  क्रीम, 

कैसा रहेगा यह वर्ष
यह वर्ष आपके लिए अत्यंत सुखद रहेगा। अधूरे कार्यों में सफलता मिलेगी। स्वास्थ्य की दृष्टि से यह वर्ष उत्तम रहेगा। पारिवारिक मामलों में महत्वपूर्ण कार्य होंगे। अविवाहितों के लिए सुखद स्थिति बन रही है। विवाह के योग बनेंगे। नौकरीपेशा के लिए समय उत्तम हैं। पदोन्नति के योग हैं। बेरोजगारों के लिए भी खुशखबर है इस वर्ष आपकी मनोकामना पूरी होगी। 

Posted By Lal Kitab Anmol01:20

Sunday, 8 December 2019

आज का राशिफल व पंचांग सहित सोमप्रदोष व्रत पर जानकारी

ऊं नमः शिवाय शिवजी सदा
सहाय
ऊं नमः शिवाय गुरु जी सदा सहाय
ऊं नमः शिवाय श्री बालाजी
सदा सहाय

निशुल्क पंचांग अपने मोबाइल फोन पर मंगवाने के लिए 9911342666 पर नाम के साथ ही अपने शहर का नाम लिख कर व्हाट्सएप्प करे
 ~ *आज का श्री बालाजी पंचांग* ~
⛅ *दिनांक 09 दिसम्बर 2019*
⛅ *दिन - सोमवार*
⛅ *विक्रम संवत - 2076*
⛅ *शक संवत - 1941*
⛅ *अयन - दक्षिणायन*
⛅ *ऋतु - हेमंत*
⛅ *मास - मार्गशीर्ष*
⛅ *पक्ष - शुक्ल*
⛅ *तिथि - द्वादशी सुबह 09:54 तक तत्पश्चात त्रयोदशी*
⛅ *नक्षत्र - भरणी 10 दिसम्बर प्रातः 05:05 तक तत्पश्चात कृत्तिका*
⛅ *योग - परिघ शाम 05:18 तक  तत्पश्चात शिव*
⛅ *राहुकाल - सुबह 08:20 से सुबह 09:40 तक*
⛅ *सूर्योदय - 07:05*
⛅ *सूर्यास्त - 17:56*
⛅ *दिशाशूल - पूर्व दिशा में*
⛅ *व्रत पर्व विवरण - सोमप्रदोष व्रत, अखंड द्वादशी*
 💥 *विशेष - द्वादशी को पूतिका(पोई) अथवा त्रयोदशी को बैंगन खाने से पुत्र का नाश होता है।(ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-34)*
             
🌷 *पिशाच मोचिनी तिथि (श्राद्ध)* 🌷
➡ *पिशाचमोचन श्राद्ध तिथिः मार्गशीर्ष शुक्ल चतुर्दशी जो इस वर्ष 10 दिसम्बर 2019 मंगलवार को सुबह 10:45 से 11 दिसम्बर बुधवार को सुबह 10:59 तक मार्गशीर्ष शुक्ल चतुर्दशी है।*
🙏🏻 *इस दिन प्रेत योनि को प्राप्त जीवों (पूर्वजों) के निमित्त तर्पण आदि करने से उनकी सदगति होती है |जिनके घर-परिवार, आस-पडोस या परिचय में किसी की अकाल मृत्यु हुई हो या कोई भूत-प्रेत अथवा पितृबाधा से पीड़ित हो, वे पिशाच मोचिनी तिथि को उनकी सदगति, आत्मशांति और मुक्ति के लिए संकल्प करके श्राद्ध - तर्पण अवश्य करें | भूत-प्रेतादिक से ग्रस्त व्यक्ति इसे अवश्य करें |*
➡ *विधिः  प्रातः स्नान के बाद दक्षिणमुख होकर बैठें। तिलक, आचमन आदि के बाद पीतल या ताँबे के थाल अथवा तपेली आदि मे पानी लें। उसमें दूध, दही, घी, शक्कर, शहद, कुम -कुम, अक्षत, तिल, कुश मिलाकर रखें। हाथ में शुद्ध जल लेकर संकल्प करें कि ʹअमुक व्यक्ति (नाम) के प्रेतत्व निवारण हेतु हम आज पिशाचमोचन श्राद्ध तिथि को यह पिशाचमोचन श्राद्ध कर रहे हैं।ʹ हाथ का जल जमीन पर छोड़ दें। फिर थोड़े काले तिल अपने चारों ओर जमीन पर छिड़क दें कि भगवान विष्णु हमारे श्राद्ध की असुरों से रक्षा करें। अब अनामिका उँगली में कुश की अँगूठी पहनकर (ʹૐ अर्यमायै नमःʹ) मंत्र बोलते हुए पितृतीर्थ से 108 तर्पण करें अर्थात् थाल में से दोनों हाथों की अंजली भर-भर के पानी लें एवं दायें हाथ की तर्जनी उँगली व अँगूठे के बीच से गिरे, इस प्रकार उसी पात्र में डालते रहें। ( तर्पण पीतल या ताँबे के थाल अथवा तपेली में बनाकर रखे जल से करना है।)*
🙏🏻 *108 तर्पण हो जाने के बाद दायें हाथ में शुद्ध जल लेकर संकल्प करें कि सर्व प्रेतात्माओं की सदगति के निमित्त किया गया, यह तर्पण कार्य भगवान नारायण के श्रीचरणों में समर्पित है। फिर तनिक शांत होकर भगवद्-शांति में बैठें। बाद में तर्पण के जल को पीपल में चढ़ा दें
🌷 *मार्गशीर्ष मास की शुक्ल मास चतुर्दशी* 🌷
🙏🏻 *मस्त्यपुराण कहता है कि - मार्गशीर्ष मास शुक्ल पक्ष चतुर्दशी तिथि के दिन अगर कोई शिवजी का १७ नामों से पूजन करे या वो १७ मंत्र बोलकर उनको प्रणाम करे | जो शिव है वो गुरु है और जो गुरु है वो शिव है | अपने गुरुदेव का भी स्मरण करते करते करें , तो भी उन तक पहुँच जाता है | और ज्यादा किसी को समस्या है वो विशेष रूप से, १७ नाम मस्त्यपुराण में बताया है | उसी दिन खास महिमा है उसकी, मार्गशीर्ष मास के बारे में जानते होंगे, जो भगवत गीता पाठ करते हैं | तो भगवान ने गीता के १० वे अध्याय में कहाँ है – ‘मासा नाम मार्गशीर्षोंहम’ की जो मार्गशीर्ष मास में भगवान ने अपनी विभूति बताया और उसमे शुक्ल पक्ष की चतुर्दशी |*
👉🏻 *१७ नाम इस प्रकार* 👈🏻
🌷 १) *ॐ शिवाय नम:*
🌷 २) *ॐ सर्वात्मने नम:*
🌷 ३) *ॐ त्रिनेत्राय नम:*
🌷 ४) *ॐ हराय नम:*
🌷 ५) *ॐ इन्द्र्मुखाय नम:*
🌷 ६) *ॐ श्रीकंठाय नम:*
🌷 ७) *ॐ सत्योजाताय नम:*
🌷 ८) *ॐ वामदेवाय नम:*
🌷 ९) *ॐ अघोरहृदयाय नम:*
🌷 १०) *ॐ तत्पुरुषाय नम:*
🌷 ११) *ॐ ईशानाय नम:*
🌷 १२) *ॐ अनंतधर्माय नम:*
🌷 १३) *ॐ ज्ञानभुताय नम:*
🌷 १४) *ॐ अनंतवैराग्यसिंघाय नम:*
🌷 १५) *ॐ प्रधानाय नम:*
🌷 १६) *ॐ व्योमात्मने नम:*
🌷 १७) *ॐ युक्तकेशात्मरूपाय नम:*
🙏🏻 *तो जिनको जीवन में कष्ट आदि हैं  उनको दूर करने में मदद मिलती है | और दो नाम पार्वतीजी के बोलेंगे उसी दिन – ॐ पुष्ट्ये नम: , ॐ तुष्टये नम: माँ पार्वती को नमन करके ये दो मंत्र उस दिन बोले की मैं श्रद्धा और भक्ति से पुष्ट बनूँ क्योंकि पार्वतीजी ‘भवानी शंकरों वन्दे श्रद्धा विश्वास रुपिनों’ आप श्रद्धा की मूर्ति है माँ मैं श्रद्धा से पुष्ट बनूँ मैं गुरुदेव के प्रति विचार रूपी सात्विक श्रद्धा से पुष्ट बनूँ |*
🌷 *शिव गायत्री मंत्र – ॐ तत्पुरुषाय विद्महे | महादेवाय धीमहि, तन्नो रूद्र प्रचोदयात् ।।*

पंचक
पंचक तिथि प्रारंभ - 3 दिसम्बर, 12:58 AM  पंचक तिथि समाप्त - 8 दिसम्बर, 01:29 AM पर
एकादशी
रविवार, 08 दिसंबर मोक्षदा एकादशी
रविवार, 22 दिसंबर सफला एकादशी
प्रदोष
09 दिसंबर 2019 सोमवार सोम प्रदोष व्रत
23 दिसंबर 2019 सोमवार सोम प्रदोष व्रत
अमावस्या
26 दिसंबर 2019- गुरुवार- पौष अमावस्या।
आज का राशिफल🕉
मेष
: सामाजिक समारोह में शामिल होंगे। आत्मविश्वास में वृद्धि होगी। आप क्यों दूसरे के मामलों में पड़ते है, नुकसान आपका ही होगा। बिना मांगे अपनी राय न दें। पिता के साथ गंभीर विषय पर चर्चा होगी।
वृषभ
: धार्मिक कार्यों में सहभागिता होगी। समय रहते अपने कार्यों को पूर्ण करें। आपके आलसी रवैये से नुकसान हो सकता है। कारोबार विस्तार के लिए कर्ज लेना पड़ सकता है।
मिथुन
 मनचाहा जीवनसाथी मिलने से प्रस्सन होंगे। आपके व्यवहार से लोग आकर्षित होंगे। कार्यस्थल पर पूजा-पाठ में शामिल होंगे। भाई-बहनों से स्नेह मिलेगा। विद्युत उपकरण खरीद सकते हैं।
कर्क
: पूंजी निवेश से अच्छा परिणाम प्राप्त होगा। नए वस्त्रों की प्राप्ति आज हो सकती है। वाहन पर धन खर्च होगा। जरूरतमंद की मदद करें, रुके कार्य बन जाएंगे। भूमि लाभ संभव।
सिंह
 कारोबार में नई तकनीक से लाभ होगा। कार्य की अधिकता से तनाव रहेगा। कार्य स्थल पर कर्मचारियों की अनियमिता से परेशान रहेंगे। मन की बात कहने का समय नहीं है।
कन्या
 वित्तीय मामलों में दूसरों पर भरोसा न करें। भावनात्मक संबंधों में नजदीकियां बढ़ेगी। किसी भी नए कार्य को करने के पूर्व रणनीति तैयार करें। नौकरी में तरक्की के आसार है।
तुला
: व्यस्त जिन्दगी में कुछ समय अपनों को भी दें। आप मन के साफ हैं, पर किसी को समझाने के लिए नर्मी से पेश आएं। शिक्षा स्थल पर विवाद की स्थिति को टालें। किसी भी कार्य को करने से पहले अपने परिवार के बारे में जरुर सोचें।
वृश्चिक
 वही होता है जो भगवान को मंजूर होता है। व्यर्थ की चिंता छोड़ दें और अपने सपने पूरे करने में लग जाएं। आज आकस्मिक धन प्राप्त हो सकता है। कला से लोगों को प्रभावित करेंगे।
धनु
 लंबे समय से चले आ रहे विवाद आज सुलझ सकते हैं। संतान सुख संभव। विदेश जाने के योग हैं। जीवनसाथी के सहयोग से कार्य पूर्ण होंगे। किसी के देखा देखी में अपना नुकसान हो सकता है।
मकर
अपने व्यवहार और आचरण बदलें। सब आपके हो जाएंगे। अपने माता-पिता से ऐसा व्यवहार ठीक नहीं है। जैसा व्यवहार आप करेंगे वैसा आपके साथ भी हो सकता है, अपनी भूल सुधारें, लाभ होगा।
कुंभ
 परिवार की खिलाफ जा सकते हैं। जल्दबाजी में कुछ फैसले लेने पड़ेंगे। संचित धन का उपयोग सतर्कता पूर्वक करें। नई जिम्मेदारी मिलने की संभवाना है। पैर में चोट लग सकती है।
मीन
 अपने करियर के प्रति महतवपूर्ण फैसले लेने पड़ेंगे। आर्थिक पक्ष मजबूत होगा। परिवार के साथ लंबी यात्रा के योग है। अच्छे कार्य की शुरुआत बड़ों के आशीर्वाद से हो। विदेश जाने की बाधा दूर हो सकती है।

जिनका आज जन्मदिन है उनको हार्दिक शुभकामनाये

🎂🎂🎂🎂🎂🎂
अंक ज्योतिष का सबसे आखरी मूलांक है नौ। आपके जन्मदिन की संख्या भी नौ है। यह मूलांक भूमि पुत्र मंगल के अधिकार में रहता है। आप बेहद साहसी हैं। आपके स्वभाव में एक विशेष प्रकार की तीव्रता पाई जाती है। आप सही मायनो में उत्साह और साहस के प्रतीक हैं। मंगल ग्रहों में सेनापति माना जाता है। अत: आप में स्वाभाविक रूप से नेतृत्त्व की क्षमता पाई जाती है। लेकिन आपको बुद्धिमान नहीं माना जा सकता। मंगल के मूलांक वाले चालाक और चंचल भी होते हैं। आपको लड़ाई-झगड़ों में भी विशेष आनंद आता है। आपको विचित्र साहसिक व्यक्ति कहा जा सकता है।

शुभ दिनांक : 9,  18,  27 

शुभ अंक : 1,  2,  5,  9,  27,  72
शुभ वर्ष : 2017,  2017,  2025,  2036,  2045

ईष्टदेव : हनुमान जी,  मां दुर्गा। 

शुभ रंग : लाल,  केसरिया,  पीला

कैसा रहेगा यह वर्ष
अपनी शक्ति का सदुपयोग कर प्रगति की और अग्रसर होंगे। पारिवारिक विवाद सुलझेंगे। महत्वपूर्ण कार्य योजनाओं में सफलता मिलेगी। अधिकार क्षेत्र में वृद्धि संभव है। नौकरी में आ रही बाधा दूर होगी। स्वास्थ्य भी ठीक रहेगा। राजनैतिक व्यक्ति सफलता का स्वाद चख सकते हैं। मित्रों स्वजनों का सहयोग मिलने से प्रसन्नता रहेगी।

Posted By Lal Kitab Anmol20:05

Saturday, 7 December 2019

आज का पंचांग व राशिफल

अंतर्गत लेख:

ऊं नमः शिवाय शिवजी सदा सहाय
ऊं नमः शिवाय श्री गुरु जी सदा सहाय
ऊं नमः शिवाय श्री बालाजी  सदा सहाय

निशुल्क पंचांग अपने मोबाईल फोन पर मंगवाने के लिए 9911342666 पर अपने नाम के साथ ही शहर का नाम लिख कर व्हाट्सएप्प करे।
 ~ *आज का श्री बालाजी  पंचांग* ~
⛅ *दिनांक 08 दिसम्बर 2019*
⛅ *दिन - रविवार*
⛅ *विक्रम संवत - 2076*
⛅ *शक संवत - 1941*
⛅ *अयन - दक्षिणायन*
⛅ *ऋतु - हेमंत*
⛅ *मास - मार्गशीर्ष*
⛅ *पक्ष - शुक्ल*
⛅ *तिथि - एकादशी सुबह 08:29 तक तत्पश्चात द्वादशी*
⛅ *नक्षत्र - अश्विनी 09 दिसम्बर प्रातः 03:31 तक तत्पश्चात भरणी*
⛅ *योग - वरीयान् शाम 05:18 तक  तत्पश्चात परिघ*
⛅ *राहुकाल - शाम 04:18 से शाम 05:37 तक*
⛅ *सूर्योदय - 07:04*
⛅ *सूर्यास्त - 17:55*
⛅ *दिशाशूल - पश्चिम दिशा में*
⛅ *व्रत पर्व विवरण - मोक्षदा एकादशी, श्रीमद् भगवद्गीता जयंती*
 💥 *विशेष - हर एकादशी को श्री विष्णु सहस्रनाम का पाठ करने से घर में सुख शांति बनी रहती है lराम रामेति रामेति । रमे रामे मनोरमे ।। सहस्त्र नाम त तुल्यं । राम नाम वरानने ।।*
💥 *आज एकादशी के दिन इस मंत्र के पाठ से विष्णु सहस्रनाम के जप के समान पुण्य प्राप्त होता है l*
💥 *एकादशी के दिन बाल नहीं कटवाने चाहिए।*
💥 *एकादशी को चावल व साबूदाना खाना वर्जित है |*
💥 *एकादशी को शिम्बी(सेम), द्वादशी को पूतिका(पोई) अथवा त्रयोदशी को बैंगन खाने से पुत्र का नाश होता है।(ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-34)*
💥 *जो दोनों पक्षों की एकादशियों को आँवले के रस का प्रयोग कर स्नान करते हैं, उनके पाप नष्ट हो जाते हैं।*
             
🌷 *बिल्ली रास्ता काट जाये तो*
🐈 *बिल्ली रास्ता काट जाये तो अपशकुन मत मानो ....राहु का वाहन है बिल्ली.... बिल्ली रास्ता काट जाये तो राहु देवता आ रहे हैं पीछे-पीछे मेरी मदद करने के लिए ...मेरा मनोबल बढाने के लिए एक बार मन में बोल दो " ॐ रहवये नमः " ...राहु का मंत्र है ...राहु भी खुश हो जायेंगे ।*
           
🌷 *वास्तु शास्त्र* 🌷
🏡 *गाय में 33 करोड़ देवी-देवताओं का वास माना जाता है ।घर-दुकान या मंदिर में या उत्तर-पूर्व दिशा में गाय की तस्वीर लगाने से दुर्भाग्य खत्म होता है ।*
           
🌷 *तुलसी को पानी अर्पण से पुण्य* 🌷
🌿 *अपने घर में तुलसी का पौधा अवश्य लगाना चाहिए उसकी हवा से भी बहुत लाभ होते हैं और तुलसी को एक ग्लास पानी अर्पण करने से सवा मासा सुवर्ण दान का फल मिलता है।*

पंचक
पंचक तिथि प्रारंभ - 3 दिसम्बर, 12:58 AM  पंचक तिथि समाप्त - 8 दिसम्बर, 01:29 AM पर
एकादशी
रविवार, 08 दिसंबर मोक्षदा एकादशी
रविवार, 22 दिसंबर सफला एकादशी
प्रदोष
09 दिसंबर 2019 सोमवार सोम प्रदोष व्रत
23 दिसंबर 2019 सोमवार सोम प्रदोष व्रत
अमावस्या
26 दिसंबर 2019- गुरुवार- पौष अमावस्या।

आज का राशिफल🕉
मेष
काम की अधिकता रहेगी। नौकरी में मनचाहा स्थानांतरण व पदोन्नति के भी योग बन रहे हैं। आर्थिक निवेश सोच-समझकर करें। पारिवारिक कार्यों में आपकी पूछ परख बढ़ेगी।
वृषभ
 आज आपको पत्नी से सहयोग व समर्थन मिलेगा। व्यवसाय में उन्नति संभव है। कारोबार में कुछ नवीन योजनाएं बनेंगी। आपके द्वारा लिए गए निर्णय गलत साबित होंगे।
मिथुन
सामाजिक आयोजनों में आपकी प्रशंसा होगी। व्यापार, व्यवसाय में लाभदायक सौदे आत्मबल बढ़ाएंगे। आज साहस, पराक्रम बढ़ेगा। धर्म ग्रंथों के पठन-पाठन में अभिरुचि बढ़ेगी।
कर्क
आप बहूत जल्दी दूसरों के विश्वास में आ जाते हैं, सतर्क रहें। विपरीत परिस्थितियों से दृढ़ता से सामना कर सकेंगे। व्यापार में परेशानियों का अंत होगा। प्रेम प्रसंग के योग है। उधार लिया पैस कैसे चुकाएंगे, इसी सोच में परेशान रहेंगे।
सिंह
आपकी दिनचर्या में आये बदलाव से निजी कार्य प्रभावित होंगे। परिवार में मांगलिक अवसर आएंगे। व्यवसाय में लाभ के योग बन रहे हैं। नौकरों पर नजर रखें।
कन्या
आज रुका धन मिलने से धन संग्रह बढ़ेगा। आत्मविश्वास के बलबुते पर आगे बढ़ेंगे। पारिवारिक सुख-संतोष बना रहेगा। मनोरंजन के कार्यों में रुचि बढ़ेगी। आज अपनी वस्तुएं संभालकर रखें।
तुला
अपने स्वास्थ के प्रति आप कितने लापरवाह हैं। किसी नए व्यापार में निवेश करने के योग है। आज विद्वानों के साथ रहने का अवसर मिलेगा। लाभदायक सौदे होंगे। प्रसिद्धि मिलेगी।
वृश्चिक
: अपने संबंधों के प्रति आप लापरवाही कर रहे हैं। व्यवसाय में विकास की योजनाएं बन सकती है। आर्थिक अनुकूलता रहने से सुख साधन बढ़ेंगे। निजी जीवन में भागदौड़ के बाद सफलता की संभावना है। आपके लिए शनिदेव की आरधना लाभदायक रहेगा।
धनु
 नौकरी में बदलाव चाहते हैं, पर फैसला लेने में असमंजस की स्थिति रहेगी। साहित्य पठन में रुचि बढ़ेगी। संतान के भविष्य की चिंता रहेगी। कारोबार में सोच-समझकर लिए गए निर्णय शुभ फल देंगे।
मकर
समय का सदुपयोग करें। अपनी संगत बदलें। दूसरों की उन्नति से दुखी न हों, आप मेहनत करें और संकुचित मानसिकता बदलें। व्यापार में हर किसी पर विश्वास न करें। अपनों से प्रतिस्पर्धा से बचें। कानूनी विवाद पक्ष में हल होंगे।
कुंभ
समय पर काम होने से मन अशांत रहेगा। कलात्मक कार्यों का प्रतिफल मिलेगा। व्यापारिक नवीन योजनाएं बनेंगी। निर्माण कार्य में सुधार होगा। जीवनसाथी की भावनाओं का अपमान करने से बचें। वैवाहिक जीवन में तनाव रहेगा।
मीन
आज खान-पान पर नियंत्रण जरूरी है। व्यर्थ के दिखाओं से दूर रहें। मानसिक शांति की तलाश में रहेंगे। संतान के विवाह में विलंब से चिंता होगी। न्यायालयीन कार्य आज पूरे होंगे। व्यवसाय में कोशिशों के बावजूद मंदी रहेगी।

जिनका आज जन्मदिन है उनको हार्दिक शुभकामनाये
🎂🎂🎂🎂🎂🎂
दिनांक 8 को जन्मे व्यक्ति का मूलांक 8 होगा। यह ग्रह सूर्यपुत्र शनि से संचालित होता है। इस दिन जन्मे व्यक्ति धीर गंभीर,  परोपकारी,  कर्मठ होते हैं। आपकी वाणी कठोर तथा स्वर उग्र है। आप भौतिकतावादी है। आप अदभुत शक्तियों के मालिक हैं। आप अपने जीवन में जो कुछ भी करते हैं उसका एक मतलब होता है। आपके मन की थाह पाना मुश्किल है। आपको सफलता अत्यंत संघर्ष के बाद हासिल होती है। कई बार आपके कार्यों का श्रेय दूसरे ले जाते हैं। 

शुभ दिनांक : 8  17,  26

शुभ अंक : 8,  17,  26,  35,  44
शुभ वर्ष : 2020  2024,  2028

ईष्टदेव : हनुमानजी,  शनि देवता 

शुभ रंग : काला,  गहरा नीला,  जामुनी   

कैसा रहेगा यह वर्ष
सभी कार्यों में सफलता मिलेगी। जो अभी तक बाधित रहे है वे भी सफल होंगे। व्यापार-व्यवसाय की स्थिति उत्तम रहेगी। नौकरीपेशा व्यक्ति प्रगति पाएंगे। बेरोजगार प्रयास करें, तो रोजगार पाने में सफल होंगे। शत्रु वर्ग प्रभावहीन होंगे, स्वास्थ्य की दृष्टि से समय अनुकूल ही रहेगा। राजनैतिक व्यक्ति भी समय का सदुपयोग कर लाभान्वित होंगे।

Posted By Lal Kitab Anmol21:46

Friday, 6 December 2019

श्री एक मुखी हनुमत्कवच

🕉🕉🕉🕉🕉🕉🕉🕉🕉🕉🕉
        *🔸श्री एक मुखी हनुमत्कवच🔸*

*मनोजवं मारुततुल्य वेगं, जितेंद्रियं बुधिमतां वरिष्ठं । वातात्मजं वानर्युथ्मुख्यं, श्रीराम्दूतं शरणं प्रप्धे ।।*
*अथ श्री हनुमते नम:*
*एकदा सुखमासीनं शंकरं लोकशंकरं । पप्रच्छ गीरिजाकांतं कर्पूधवलं शिवं ।।*

*पार्वत्युवाच.*
*भगवन्देवदेवेश लोकनाथं जगद्-गुरो । शोकाकुलानां लोकानां केन रक्षा भवेद ध्रुवं ।।*

*संग्रामे संकटे घोरे भूतप्रेतादिके भये । दुखदावाग्नि संतप्त चेतसां दुखभागिनां ।।*

*ईश्वर उवाच*
*श्रणु देवि प्रवक्ष्यामि लोकानां हितकाम्यया । विभीषणाय रामेण प्रेम्णा दत्तं च यत्पुरा ।।*

*कवचं कपिनाथस्य वायुपुत्रस्य धीमत: । गुह्यं ते संप्रवछ्यामि विशेषाच्छ्रिणु सुन्दरि ।।*

*ॐ अस्य श्रीहनुमत् कवच-स्त्रोत्र-मंत्रस्य श्रीरामचंद्र ऋषिः । अनुष्टुप्छंदः ।*
*श्रीमहावीरो हनुमान देवता । मारुतात्मज इति बीजं ।।*
*ॐ अंजनीसुनुरिति शक्ति: । ॐ ह्रैं ह्रां ह्रौं इति कवचं ।*
*स्वाहा इति कीलकं । लक्ष्मण प्राणदाता इति बीजं ।*
*मम् सकलकार्य सिध्दयर्थे जपे वीनियोग: ।।*

*अथन्यास*
*ॐ ह्रां अंगूष्ठाभ्यां नम: । ॐ ह्रीं तर्जनीभ्यां नम: । ॐ ह्रूं मध्यमाभ्यां नम: । ॐ ह्रै अनामिकाभ्यां नम: । ॐ ह्रौं कनिष्ठिभ्यां नम: । ॐ ह्र: करतल करप्रिष्ठाभ्यां नम: ।*

*ॐ अंनीसूनवे ह्र्दयाय नम: । ॐ रुदमूर्तये सिरसे स्वाहा । ॐ वायुसुतात्मने शिखायै वषट् । ॐ वज्रदेहाय कवचाय हुं ।* ॐ रामदूताय नेत्र-त्रयाय वौषट् । ॐ ब्र्ह्मास्त्र निवारणाय अस्त्राय फट् ।*

*ॐ राम-दूताय विद-महे कपि-राजाय धीमहि । तन्नो हनुमान प्रचोदयात् ॐ हुं फट् ।।*
*।। इति दिग्बन्धः ।।*

*ॐ ध्यायेद्-बाल दिवाकर-धुतिनिभं देवारिदर्पापहं । देवेन्द्र-प्रमुख-प़शस्त-यशसं देदीप्यमानं रुचा । सुग्रीवादि-समस्त-वानर-युतं सुव्यक्त-तत्वप्रियं। संरक्तारुण-लोचनं पवनजं पीतांबरालंकृतं ।।१।।*

*उधन्मार्तण्ड-कोटि-प्रकट-रुचियुतं चारु-वीरासनस्थं। मौंजी-यज्ञो-पवीता-रुण-रुचिर-शिखा-शोभितं कुंडलागम् । भक्ता-नामिष्ट-दं तं प्रणत्-मुनिजनं वेदनाद-प्रमोदं। ध्याये-देव विधेयं प्ल्वंग-कुल-पतिं गोष्पदी भूतवार्धिं ।।२।।*

*वज्रांगं पिंगकेशाढ्यं स्वर्णकुंडल-मंडितं । नियुध्द-कर्म-कुशलं पारावार-पराक्रमं ।।३।।*

*वामहस्ते महावृक्षं दशास्यकर-खंडनं । उध-दक्षिण-दौर्दण्डं हनुमंतं विचिंतयेत् ।।४।।*

*स्फटिकांभं स्वर्णकान्ति द्विभुजं च कृतांजलिं । कुंडलद्वय-संशौभि मुखांभोजं हरिं भजेत् ।।५।।*

*उधदादित्य संकाशं उदारभुजविक़मम् । कंदर्प-कोटिलावण्यं सर्वविधा-विशारदम् ।।६।।*

*श्रीरामहृदयानंदं भक्तकल्पमहीरूहम् । अभयं वरदं दोर्भ्यां कलये मारूतात्मजम् ।।७।।*

*अपराजित नमस्तेऽस्तु नमस्ते रामपूजित । प्रस्थानं च करिष्यामि सिद्धिर्भवतु मे सदा ।।८।।*

*यो वारां निधि-मल्प-पल्वल-मिवोल्लंघ्य-प्रता-पान्वितो। वैदेही-घन-शोक-तापहरणो वैकुण्ठ-तत्वप्रियः । अक्षाघूर्जित-राक्षसेश्वर-महादर्पापहारी रणे सोऽयं-वानर-पुंगवोऽवतु सदा युष्मान्-समीरात्मजः ।।९।।*

*वज्रांगं पिंगकेशं कनकमयल-सत्कुण्डला-क्रांतगंडं नाना विधाधिनाथं करतल-विधृतं पूर्णकुंभं दृढं च । भक्ताभीष्टाधिकारं विदधति च सदा सर्वदा सुप्रसन्नं त्रैलोक्यं-त्राणकारं सकलभुवनगम् रामदूतम् नमामि ।।१०।।*

*उधल्लांगूल-केशप्रलय-जलधरं भीममूर्तिं कपींद्रं वंदे रामांघ्रि-पद्म-भ्रमरपरिवृतं तत्वसारं प्रसनम् । वज्रांगं वज्ररुपं कनकमयल-सत्कुण्डला-क्रांतगंडं दंभोलिस्तंभ-सार-प्रहरण विकटं भूतरक्षोऽधिनाथम् ।।११।।*

*वामे करे वैरिभयं वहंतं शैलं च दक्षेनिजकण्ठलग्नम् । दधान-मासाद्ध सुवर्णवर्ण भजेज्ज्वलत्कुंडल-रामदूतम् ।।१२।।*

*पद्मरागमणि कुंडलत्विषा-पाटलीकृत-कपोलमण्डलम् । दिव्यगेह-कदली-वनांतरे भावयामि पवमान-नन्दनम् ।।१३।।*

*ईश्वर उवाच*
*इति वदति-विशेषद्राधवो राक्षसेंद्र प्रमुदितवरचितो रावणस्यानुजो हि  रघूवरदूतं पूज्यमास भूयः स्तुतिभिरकृतार्थ स्वं परं मन्यमानः ।।१४।।*

*वन्दे विघुद्वलय सुभगम् स्वर्णयज्ञोपवीतं। कर्णद्वंद्वे कनकरूचिरे-कुण्डले धारयन्तम् । उच्चैर्ह्रस्य दधुमणि किरणो श्रेणि संभावितांगम् सत्कौपीनं कपिवरवृतं कामरूपं कपीन्द्रम् ।।१५।।*

*मनोजवं मारुत तुल्य वेगं, जितेंद्रियं बुद्धिमतां वरिष्ठं । वातात्मजं वानरयूथमुख्यं, श्रीरामदूतं सततं स्मरामि ।।१६।।*

*ॐ नमो भगवते ह्रदाय नम: ।*
*ॐ आंजनेयाय शिरसे स्वाहा ।*
*ॐ रूद्रमूर्तये शिखायै वषट् ।*
*ॐ रामदूताय कवचाय हुम् ।*
*ॐ हनुमते नेत्रत्रयाय वौषट् ।*
*ॐ अग्निगर्भाय अस्त्राय फट् ।*

*ॐ नमो भगवते अंगुष्ठाभ्यां नम: ।*
*ॐ वायुसूनवे तर्जनीभ्यां नम: ।*
*ॐ रूद्रमूर्तये मध्यमाभ्यां नम: ।*
*ॐ वायुसूनवे अनामिकाभ्यां नम: ।*
*ॐ हनुमते कनिष्ठिकाभ्यां नम: ।*
*ॐ अग्निगर्भाय करतल करप्रिष्ठाभ्यां नम: ।*

*अथ मंत्र उच्यते*
*ॐ ऐं ह्रीं श्रीं ह्रां ह्रीं ह्रूं ह्रैं ह्रौं ह्रः ।*

*ॐ ह्रीं ह्रौं ॐ नमो भगवते महाबल पराक्रमाय भूत प्रेत पिशाच शाकिनी डाकिनी यक्षिणी पूतनामारी महामारी भैरव यक्ष बेताल राक्षस ग्रह राक्षसादिकं क्षणेन हन हन भंजय भंजय मारय मारय सिक्ष्य सिक्ष्य महामाहेश्वर रूद्रावतार ह्रुं फट् स्वाहा ।*

*ॐ नमो भगवते हनुमादाख्याय रूद्राय सर्वदुष्टजनमुखस्तंभनं कुरू-कुरू ह्रां ह्रीं ह्रूं ठं-ठं-ठं फट् स्वाहा ।*

*ॐ नमो भगवते अंजनीगर्भसंभूताय रामलक्ष्मणानन्दकराय कपिसैन्यप्रकाशनाय पर्वतोत्पाटनाय सुग्रीव साधकाय रणोच्च्टनाय कुमार ब्रह्मचारिणे गंभीर-शब्दोदयाय |*

*ॐ ह्रां ह्रीं ह्रूं सर्वदुष्ट निवारणाय स्वाहा ।*

*ॐ नमो हनुमते सर्वग्रहान्भूतभविष्य-दूर्तमानान्-दूरस्थान् समीपस्थान् सर्वकाल दुष्टदुर्बुद्धीन उच्चाट योच्चाटय परबलानि क्षोभय क्षोभय मम् सर्वकार्यं साधय साधय हनुमते |*

*ॐ ह्रां ह्रीं ह्रूं फट् देहि ।*
*ॐ शिवं सिद्धं ह्रां ह्रीं ह्रूं ह्रौं स्वाहा ।*

*ॐ नमो हनुमते* *परकृतयंत्र-मंत्र-पराऽहंकार-भूतप्रेत पिशाच परदृष्टि-सर्वविध्न-दुर्जनचेटक विधा सर्वग्रहान् निवारय निवारय वध वध पच पच दल दल किल किल सर्वकुयंत्राणि-दुष्टवाचं फट् स्वाहा ।*

*ॐ नमो हनुमते पाहि पाहि एहि एहि सर्वग्रह भूतानां शाकिनी-डाकिनीनां विषम् दुष्टानां सर्वविषयान् आकर्षय आकर्षय मर्दय मर्दय भेदय भेदय मृत्युमुत्पाटयोत्पाटय शोषय शोषय ज्वल ज्वल प्रज्ज्वल प्रज्ज्वल भूतमंडलं प्रेतमंडलं पिशाचमंडलं निरासय निरासय भूतज्वर प्रेतज्वर चातुर्थिकज्वर विषंज्वर माहेश्वरज्वरान् छिंधि छिंधि भिंधि भिंधि अक्षिशूल वक्षःशूल शरोभ्यंतरशूल गुल्मशूल पित्तशूल ब्रह्र-राक्षसकुल परकुल नागकुल विषं नाशय नाशय निर्विषं कुरू कुरू फट् स्वाहा ।*

*ॐ ह्रीं सर्वदुष्ट ग्रहान् निवारय फट् स्वाहा ।।*

*ॐ नमो हनुमते पवनपुत्राय वैश्वानरमुखाय हन हन पापदृष्टिं षंढ़दृष्टिं हन हन हनुमदाज्ञया स्फुर स्फुर फट् स्वाहा ।।*

*श्रीराम उवाच*

*हनुमान् पूर्वतः पातु दक्षिणे पवनात्मजः । प्रतीच्यां पातु रक्षोध्न उत्तरास्यांब्धि पारगः ।।१।।*

*उध् मूध्वर्गः पातु केसरीप्रियनंदनः । अधस्च विष्णु भक्तस्तु पातु मध्ये च पावनिः ।।२।।*

*अवान्तर दिशः पातु सीताशोकविनाशनः । लंकाविदाहकः पातु सर्वापदभ्यो निरंतरं ।।३।।*

*सुग्रीवसचिवः पातु मस्तकं वायुनंदनः । भालं पातु महावीरो भ्रुवोमध्ये निरंतरं ।।४।।*

*नेत्रे छायापहारी च पातु नः प्लवगेश्वरः । कपोलौ कर्णमूले तु पातु श्रीरामकिंकरः ।।5।।*

*नासाग्रम्-अंजनीसूनुर्वक्त्रं पातु हरीश्वरः । वाचं रूद्रप्रियः पातु जिह्वां पिंगललोचनः ।।६।।*

*पातु दंतांफाल्गुनेष्टश्चिबुकं दैत्यप्राणह्रृत् । पातु कण्ठण्च दैत्यारीः स्कंधौ पातु सुरार्चितः ।।७।।*

*भुजौ पातु महातेजाः करौतू चरणायुधः । नखांनखायुध पातु कुक्षिं पातु कपीश्वरः ।।८।।*

*वक्षोमुद्रापहारी-च पातु पार्श्र्वे भुजायुधः । लंकाविभंजनः पातु पृष्ठदेशे निरंतरं ।।९।।*

*नाभिंच रामदूतोस्तु कटिं पात्वनिलात्मजः । गुह्मं पातु महाप्रज्ञः सक्थिनी-च शिवप्रियः ।।१०।।*

*उरू-च जानुनी पातु लंकाप्रासादभंजनः । जंधे पातु महाबाहुर्गुल्फौ पातु महाबलः ।।११।।*

*अचलोध्दारकः पातु पादौ भास्करसन्निभः । पादांते सर्वसत्वाढ्यः पातु पादांगुलीस्तथा ।।१२।।*

*सर्वांगानि महावीरः पातु रोमाणि चात्मवान् । हनुमत्कवचं यस्तु पठेद्विद्वान् विलक्षणः ।।१३।।*

*स-एव पुरूषः श्रेष्ठो भक्तिं मुक्तिं-च विंदति । त्रिकालमेककालं-वा पठेन्मात्रयं सदा ।।१४।।*

*सर्वान-रिपून्क्षणे जित्वा स पुमान् श्रियमाप्नुयात् । मध्यरात्रे जले स्थित्वा सप्तवारं पठेद्धादि ।।१५।।*

*क्षयाऽपस्मार-कुष्ठादिता-पत्रय-निवारणं । आर्किवारेऽश्र्वत्थमूले स्थित्वा पठतिः यः पुमान् ।।१६।।*

*अचलां श्रियमाप्नोति संग्रामे विजयीभवेत् ।।१७।।*

*यः करे धारयेन्-नित्यं-स पुमान् श्रियमाप्नुयात् । विवाहे दिव्यकाले च द्धूते राजकुले रणे ।।१८।।*

*भूतप्रेतमहादुर्गे रणे सागरसंप्लवे । दशवारं पठेद्रात्रौ मिताहारी जितेंद्रियः ।।१९।।*

*विजयं लभते लोके मानवेषु नराधिपः । सिंहव्याघ्रभये चोग्रेशर शस्त्रास्त्र यातने ।।२०।।*

*श्रृंखलाबंधने चैव काराग्रहकारणे । कायस्तंभ वहिन्नदाहे च गात्ररोगे च दारूणे ।।२१।।*

*शोके महारणे चैव ब्रह्मग्रहविनाशने । सर्वदा तु पठेन्नित्यं जयमाप्नोत्य संशयं ।।२२।।*

*भूर्जेवा वसने रक्ते क्षौमेवा तालपत्रके । त्रिगंधेन् अथवा मस्या लिखित्वा धारयेन्नरः ।।२३।।*

*पंचसप्तत्रिलौहैर्वा गोपितं कवचं शुभं । गलेकट्याम् बाहुमूले वा कण्ठे शिरसि धारितं ।।२४।।*

*सर्वान्कामानवाप्नोति सत्यं श्रीरामभाषितं ।।२५।।*

*उल्लंघ्य सिंधोः सलिलं-सलिलं यः शोकवन्हि जनकात्मजायाः । आदाय तेनैव ददाह लंकां नमामितं प्राण्जलिराण्जनेयम् ।।२६।।*

*ॐ हनुमान् अंजनी सूनुर्वायुर्पुत्रो महाबलः । श्रीरामेष्टः फाल्गुनसंखः पिंगाक्षोऽमित विक्रमः ।।२७।।*

*उदधिक्रमणश्चैव सीताशोकविनाशनः । लक्ष्मणप्राणदाताच दशग्रीवस्य दर्पहा ।।२८।।*

*द्वादशै तानि नामानि, कपींद्रस्य महात्मनः । स्वापकाले प्रबोधे च यात्राकाले च यः पठेत् ।।२९।।*

*तस्य सर्वभयं नास्ति, रणे च विजयी भवेत् । धन-धान्यं भवेत् तस्य दुःखं नैव कदाचन ।।३०।।*

*ॐ ब्रह्माण्ड पूर्णांतर गते नारद अगस्त् संवादे । श्रीरामचंद्र कथितम् पंच-मुखेक एकमुखी हनुमत् कवचं ।।*

*ॐ तत्-सत्।।।*
*🌹स्वामीज्ञानामृत🌹*
🕉🕉🕉🕉🕉🕉🕉🕉🕉🕉🕉

Posted By Lal Kitab Anmol19:28

आज का राशिफल व पंचांग

ऊं नमः शिवाय शिवाजी सदा सहाय
ऊं नमः शिवाय गुरु जी सदा सहाय
ऊं नमः शिवाय श्री बालाजी सदा सहाय

जय शनिदेव महाराज

निशुल्क पंचांग अपने मोबाइल फोन पर मंगवाने के लिए 9911342666 पर अपने शहर का नाम लिख कर व्हाट्सएप्प करे।
*आज का श्री बालाजी पंचांग* ~ 🌞
⛅ *दिनांक 07 दिसम्बर 2019*
⛅ *दिन - शनिवार*
⛅ *विक्रम संवत - 2076*
⛅ *शक संवत -1941*
⛅ *अयन - दक्षिणायन*
⛅ *ऋतु - हेमंत*
⛅ *मास - मार्गशीर्ष*
⛅ *पक्ष - शुक्ल*
⛅ *तिथि - एकादशी पूर्ण रात्रि तक*
⛅ *नक्षत्र - रेवती 08 दिसम्बर रात्रि 01:29 तक तत्पश्चात अश्विनी*
⛅ *योग - व्यतिपात शाम 05:05 तक  तत्पश्चात वरीयान्*
⛅ *राहुकाल - सुबह 09:39 से सुबह 10:58 तक*
⛅ *सूर्योदय - 07:04*
⛅ *सूर्यास्त - 17:55*
⛅ *दिशाशूल - पूर्व दिशा में*
⛅ *व्रत पर्व विवरण - एकादशी वृद्धि तिथि*
 💥 *विशेष - हर एकादशी को श्री विष्णु सहस्रनाम का पाठ करने से घर में सुख शांति बनी रहती है lराम रामेति रामेति । रमे रामे मनोरमे ।। सहस्त्र नाम त तुल्यं । राम नाम वरानने ।।*
💥 *आज एकादशी के दिन इस मंत्र के पाठ से विष्णु सहस्रनाम के जप के समान पुण्य प्राप्त होता है l*
💥 *एकादशी के दिन बाल नहीं कटवाने चाहिए।*
💥 *एकादशी को चावल व साबूदाना खाना वर्जित है | एकादशी को शिम्बी (सेम) ना खाएं अन्यथा पुत्र का नाश होता है।*
💥 *जो दोनों पक्षों की एकादशियों को आँवले के रस का प्रयोग कर स्नान करते हैं, उनके पाप नष्ट हो जाते हैं।*
             
🌷 *श्रीमद् भगवद्गगीता जयंती* 🌷
👉🏻 *गतांक से आगे......*
🙏🏻 *जानिए भगवद् गीता के 9 बेहतरीन मैनेजमेंट सूत्र जिनमे छुपा है आपकी हर परेशानी का हल*
🌷 *4 श्लोक*
*विहाय कामान् य: कर्वान्पुमांश्चरति निस्पृह:।*
*निर्ममो निरहंकार स शांतिमधिगच्छति।।*
🙏🏻 *अर्थ- जो मनुष्य सभी इच्छाओं व कामनाओं को त्याग कर ममता रहित और अहंकार रहित होकर अपने कर्तव्यों का पालन करता है, उसे ही शांति प्राप्त होती है।*
➡ *मैनेजमेंट सूत्र - यहां भगवान श्रीकृष्ण कहते हैं कि मन में किसी भी प्रकार की इच्छा व कामना को रखकर मनुष्य को शांति प्राप्त नहीं हो सकती। इसलिए शांति प्राप्त करने के लिए सबसे पहले मनुष्य को अपने मन से इच्छाओं को मिटाना होगा। हम जो भी कर्म करते हैं, उसके साथ अपने अपेक्षित परिणाम को साथ में चिपका देते हैं। अपनी पसंद के परिणाम की इच्छा हमें कमजोर कर देती है। वो ना हो तो व्यक्ति का मन और ज्यादा अशांत हो जाता है। मन से ममता अथवा अहंकार आदि भावों को मिटाकर तन्मयता से अपने कर्तव्यों का पालन करना होगा। तभी मनुष्य को शांति प्राप्त होगी।*
🌷 *5 श्लोक*
*न हि कश्चित्क्षणमपि जातु तिष्ठत्यकर्मकृत्।*
*कार्यते ह्यश: कर्म सर्व प्रकृतिजैर्गुणै:।।*
🙏🏻 *अर्थ- कोई भी मनुष्य क्षण भर भी कर्म किए बिना नहीं रह सकता। सभी प्राणी प्रकृति के अधीन हैं और प्रकृति अपने अनुसार हर प्राणी से कर्म करवाती है और उसके अनुसार  परिणाम भी देती है।*
➡ *मैनेजमेंट सूत्र- बुरे परिणामों के डर से अगर ये सोच लें कि हम कुछ नहीं करेंगे तो ये हमारी मूर्खता है। खाली बैठे रहना भी एक तरह का कर्म ही है, जिसका परिणाम हमारी आर्थिक हानि, अपयश और समय की हानि के रूप में मिलता है। सारे जीव प्रकृति यानी परमात्मा के अधीन हैं, वो हमसे अपने अनुसार कर्म करवा ही लेगी। और उसका परिणाम भी मिलेगा ही। इसलिए कभी भी कर्म के प्रति उदासीन नहीं होना चाहिए, अपनी क्षमता और विवेक के आधार पर हमें निरंतर कर्म करते रहना चाहिए।*
🌷 *6 श्लोक*
*नियतं कुरु कर्म त्वं कर्म ज्यायो ह्यकर्मण:।*
*शरीरयात्रापि च ते न प्रसिद्धयेदकर्मण:।।*
🙏🏻 *अर्थ- तू शास्त्रों में बताए गए अपने धर्म के अनुसार कर्म कर, क्योंकि कर्म न करने की अपेक्षा कर्म करना श्रेष्ठ है तथा कर्म न करने से तेरा शरीर निर्वाह भी नहीं सिद्ध होगा।*
➡ *मैनेजमेंट सूत्र- श्रीकृष्ण अर्जुन के माध्यम से मनुष्यों को समझाते हैं कि हर मनुष्य को अपने-अपने धर्म के अनुसार कर्म करना चाहिए जैसे- विद्यार्थी का धर्म है विद्या प्राप्त करना, सैनिक का कर्म है देश की रक्षा करना। जो लोग कर्म नहीं करते, उनसे श्रेष्ठ वे लोग होते हैं जो अपने धर्म के अनुसार कर्म करते हैं, क्योंकि बिना कर्म किए तो शरीर का पालन-पोषण करना भी संभव नहीं है। जिस व्यक्ति का जो कर्तव्य तय है, उसे वो पूरा करना ही चाहिए।*
🌷 *7 श्लोक*
*यद्यदाचरति श्रेष्ठस्तत्तदेवेतरो जन:।*
*स यत्प्रमाणं कुरुते लोकस्तदनुवर्तते।।*
🙏🏻 *अर्थ- श्रेष्ठ पुरुष जैसा आचरण करते हैं, सामान्य पुरुष भी वैसा ही आचरण करने लगते हैं। श्रेष्ठ पुरुष जिस कर्म को करता है, उसी को आदर्श मानकर लोग उसका अनुसरण करते हैं।*
➡ *मैनेजमेंट सूत्र- यहां भगवान श्रीकृष्ण ने बताया है कि श्रेष्ठ पुरुष को सदैव अपने पद व गरिमा के अनुसार ही व्यवहार करना चाहिए, क्योंकि वह जिस प्रकार का व्यवहार करेगा, सामान्य मनुष्य भी उसी की नकल करेंगे। जो कार्य श्रेष्ठ पुरुष करेगा, सामान्यजन उसी को अपना आदर्श मानेंगे। उदाहरण के तौर पर अगर किसी संस्थान में उच्च अधिकार पूरी मेहनत और निष्ठा से काम करते हैं तो वहां के दूसरे कर्मचारी भी वैसे ही काम करेंगे, लेकिन अगर उच्च अधिकारी काम को टालने लगेंगे तो कर्मचारी उनसे भी ज्यादा आलसी हो जाएंगे।*
🌷 *8 श्लोक*
*न बुद्धिभेदं जनयेदज्ञानां कर्म संगिनाम्।*
*जोषयेत्सर्वकर्माणि विद्वान्युक्त: समाचरन्।।*
🙏🏻 *अर्थ- ज्ञानी पुरुष को चाहिए कि कर्मों में आसक्ति वाले अज्ञानियों की बुद्धि में भ्रम अर्थात कर्मों में अश्रद्धा उत्पन्न न करे किंतु स्वयं परमात्मा के स्वरूप में स्थित हुआ और सब कर्मों को अच्छी प्रकार करता हुआ उनसे भी वैसे ही कराए।*
➡ *मैनेजमेंट सूत्र- ये प्रतिस्पर्धा का दौर है, यहां हर कोई आगे निकलना चाहता है। ऐसे में अक्सर संस्थानों में ये होता है कि कुछ चतुर लोग अपना काम तो पूरा कर लेते हैं, लेकिन अपने साथी को उसी काम को टालने के लिए प्रोत्साहित करते हैं या काम के प्रति उसके मन में लापरवाही का भाव भर देते हैं। श्रेष्ठ व्यक्ति वही होता है जो अपने काम से दूसरों के लिए प्रेरणा का स्रोत बनता है। संस्थान में उसी का भविष्य सबसे ज्यादा उज्जवल भी होता है।*
🌷 *9श्लोक*
*ये यथा मां प्रपद्यन्ते तांस्तथैव भजाम्यहम्।*
*म वत्र्मानुवर्तन्ते मनुष्या पार्थ सर्वश:।।*
🙏🏻 *अर्थ- हे अर्जुन। जो मनुष्य मुझे जिस प्रकार भजता है यानी जिस इच्छा से मेरा स्मरण करता है, उसी के अनुरूप मैं उसे फल प्रदान करता हूं। सभी लोग सब प्रकार से मेरे ही मार्ग का अनुसरण करते हैं।*
➡ *मैनेजमेंट सूत्र- इस श्लोक के माध्यम से भगवान श्रीकृष्ण बता रहे हैं कि संसार में जो मनुष्य जैसा व्यवहार दूसरों के प्रति करता है, दूसरे भी उसी प्रकार का व्यवहार उसके साथ करते हैं। उदाहरण के तौर पर जो लोग भगवान का स्मरण मोक्ष प्राप्ति के लिए करते हैं, उन्हें मोक्ष की प्राप्ति होती है। जो किसी अन्य इच्छा से प्रभु का स्मरण करते हैं, उनकी वह इच्छाएं भी प्रभु कृपा से पूर्ण हो जाती है। कंस ने सदैव भगवान को मृत्यु के रूप में स्मरण किया। इसलिए भगवान ने उसे मृत्यु प्रदान की। हमें परमात्मा को वैसे ही याद करना चाहिए, जिस रुप में हम उसे पाना चाहते हैं।*
पंचक
पंचक तिथि प्रारंभ - 3 दिसम्बर, 12:58 AM  पंचक तिथि समाप्त - 8 दिसम्बर, 01:29 AM पर
एकादशी
रविवार, 08 दिसंबर मोक्षदा एकादशी
रविवार, 22 दिसंबर सफला एकादशी
प्रदोष
09 दिसंबर 2019 सोमवार सोम प्रदोष व्रत
23 दिसंबर 2019 सोमवार सोम प्रदोष व्रत
अमावस्या
26 दिसंबर 2019- गुरुवार- पौष अमावस्या।
आज का राशिफल🕉
मेष: आज आपका दिन अच्छा रहेगा। आपके परिवार के सुख-सौभाग्य में वृद्धि होगी। मार्केटिंग से जुड़े लोगों के लिए दिन फायदेमंद हो सकता है। कोई नया क्लाइंट आपसे जुड़ने की कोशिश करेगा। किसी पुराने मित्र से आपकी मुलाकात होगी।आपका स्वास्थ्य बेहतर बना रहेगा। जीवनसाथी के साथ समय बिताएंगे।

वृष: आज का दिन शुभ रहेगा। आर्थिक पक्ष मजबूत होगा। कारोबार में किए गए सौदे फायदेमंद होंगे। परिवार और दोस्तों के साथ अच्छा समय बीतेगा। छोटी दूरी की यात्रा कर सकते हैं। कई दिनों से रुका पैसा मिल सकेगा। नौकरी की तलाश में जुटे लोगों को रोजगार‍ मिलेगा। परिवार के किसी सदस्य से कुछ तीखी बहस हो सकती है।

मिथुन: आज का दिन आपका जीवन एक महत्वपूर्ण मोड़ ले सकता है। आर्थिक दृष्टिकोण से आपके लिए समय काफी अच्छे परिणाम देने वाला रहेगा। कुछ मामलों में छोटे विवाद भी हो सकते हैं। थोड़ा सोच-समझकर ही बोलें। सामाजिक नजरिए से मान-सम्मान में बढ़ोतरी होगी। नौकरी में प्रमोशन का योग है।
कर्क: आज आपके भाग्य में सकारात्मक फेरबदल के योग हैं। आकस्मिक धनलाभ होने की संभावना है। परिजनों के साथ खुशहाल समय बीतेगा। स्वास्थ्य अच्छा रहेगा। मन चिंतारहित होगा। स्थायी संपत्ति में वृद्धि होगी। रोजगार के अवसर मिलेंगे। यात्रा, नौकरी व निवेश मनोनुकूल रहेंगे। आप धार्मिक कार्य, पूजा-पाठ आदि में व्यस्त रहेंगे।

सिंह: आज आपको मेहनत का फल मिलेगा। पुरानी योजना फलीभूत होगी। धन प्राप्ति के नए स्रोत नजर आएंगे। समाज में मान-प्रतिष्ठा बढ़ेगी। लोन लेने का विचार टाल दें। कानूनी विवादों का निपटारा आपके पक्ष में होने की संभावना है। परिवारजनों के साथ संयमपूर्वक व्यवहार करें। स्वास्थ्य का ध्यान रखें।

कन्या: आज आपका दिन बेहतरीन रहेगा। किस्मत का साथ मिलेगा। कारोबारियों को उम्मीद से ज्यादा लाभ होगा। आपका आर्थिक पक्ष मजबूत रहेगा। लोग आपकी योजना से काफी प्रभावित होंगे। भागीदारों के साथ संबंध अच्छे रहेंगे। लवमेट के लिए आज का दिन शानदार रहेगा। परिवार के लोग सहयोग करेंगे।
तुला: आज का दिन सामान्य रहेगा। जीवन में कुछ नया होने की उम्मीद आज जाग सकती है। कुछ नई योजनाओं पर काम शुरू हो सकता है। नए लोगों से मुलाकात आपके लिए फायदेमंद होगी। घर में सुख-शांति का माहौल रहेगा। कार्यालय में सहकर्मियों का सहयोग मिलेगा। माता-पिता की ओर से अच्छे समाचार मिलेंगे।

वृश्चिक: आज आपको अनुकूल समाचार मिलेंगे। दिन आनंदपूर्वक व्यतीत होगा। व्यवसाय ठीक चलेगा। कुछ काम आपकी लापरवाही से अटक सकते हैं। नई चीजों की शुरुआत के लिहाज से समय काफी अच्छा रह सकता है। जायदाद संबंधी समस्या सुलझने के रास्ते बनेंगे। नए संबंध लाभदायी सिद्ध होंगे। अप्रत्याशित लाभ होगा। प्रेम-प्रसंग में मधुरता रहेगी।
धनु: आज आपके मन में उदासी छाई रहेगी। शरीर में फुर्ती तथा मन में प्रसन्नता का अभाव रहेगा। धन हानि का योग है। जमीन तथा वाहन के कागजात को सावधानी पूर्वक बनवाएं। साहित्य के क्षेत्र से जुड़े लोगों को आज कोई बड़ी खुशखबरी मिलेगी। परिवारजनों के साथ तनाव हो सकता है। संतान पक्ष से कोई शुभ समाचार मिल सकता है।

मकर: आपके अधूरे काम पूरे हो सकते हैं। आपको कुछ नए मौके मिल सकते हैं। मिलकर किये गए कामों में आपको बहुत हद तक सफलता मिलने के योग हैं। प्रेम-प्रसंग में भी आपको सफलता मिल सकती है। आप किसी छोटे से कोई नई बात सीख सकते हैं। किसी भी महत्वपूर्ण निर्णय को लेने से पहले अच्छी तरह सोच लें।
कुंभ: आज रोजमर्रा के कामों में आपको फायदा होगा। कारोबार में रूका हुआ पैसा आपको वापस मिलेगा। धार्मिक कार्य में कुछ खर्च हो सकता है। किसी अहम कार्य में असफलता से मन में असंतोष और निराशा होगी।आपके दाम्पत्य संबंध अच्छे रहेंगे। स्वास्थ्य के प्रति सचेत रहें। आज किसी से अधिक विवाद न करें।

मीन: आज का दिन शुभ रहेगा। नए कार्यों की शुरुआत के लिए दिन अच्छा है। धन लाभ होने की संभावनाएं हैं। व्यापार-व्यवसाय लाभप्रद रहेगा। प्रभावशाली लोगों से मुलाकात की संभावना है। निवेश के मामले में आपको कोई नयी सलाह मिल सकती है। पुरानी बातों के झंझट में पड़ने से बचें। संतान की शिक्षा की चिंता समाप्त होगी।

जिनका आज जन्मदिन है उनको हार्दिके।शुभकामनाये
🎂🎂🎂🎂🎂🎂🎂
दिनांक 7 को जन्मे व्यक्ति का मूलांक 7 होगा। इस अंक से प्रभावित व्यक्ति अपने आप में कई विशेषता लिए होते हैं। यह अंक वरूण ग्रह से संचालित होता है। आप खुले दिल के व्यक्ति हैं। आपकी प्रवृत्ति जल की तरह होती है। जिस तरह जल अपनी राह स्वयं बना लेता है वैसे ही आप भी तमाम बाधाओं को पार कर अपनी मंजिल पाने में कामयाब होते हैं। आप पैनी नजर के होते हैं। किसी के मन की बात तुरंत समझने की आपमें दक्षता होती है। 

शुभ दिनांक : 7,  16,  25

शुभ अंक : 7,  16,  25,  34
शुभ वर्ष : 2020,  2023  2026

ईष्टदेव : भगवान शिव तथा विष्णु 

शुभ रंग : सफेद,  पिंक,  जामुनी,  मेहरून   

कैसा रहेगा यह वर्ष
आपके कार्य में तेजी का वातावरण रहेगा। आपको प्रत्येक कार्य में जुटकर ही सफलता मिलेगी। व्यापार-व्यवसाय की स्थिति उत्तम रहेगी। अधिकारी वर्ग का सहयोग मिलेगा। नौकरीपेशा व्यक्तियों के लिए समय सुखकर रहेगा। नवीन कार्य-योजना शुरू करने से पहले केसर का लंबा तिलक लगाएं व मंदिर में पताका चढ़ाएं। 

Posted By Lal Kitab Anmol19:12

Tuesday, 3 December 2019

आज का राशिफल व पंचांग व कुछ महत्वपूर्ण सुझाव

अंतर्गत लेख:

ऊं नमः शिवाय श्री शिवजी सदा सहाय
ऊं नमः शिवाय श्रीगुरू जी सदा सहाय
ऊं नमः शिवाय श्री बाला जी सदा सहाय

निशुल्क पंचांग अपने मोबाइल फोन पर मंगवाने के लिए 9911342666 पर अपने नाम के साथ ही शहर का नाम लिख कर व्हाट्सएप्प करे।
*आज का श्री बालाजी पंचांग* ~ 🌞
⛅ *दिनांक 04 दिसम्बर 2019*
⛅ *दिन - बुधवार*
⛅ *विक्रम संवत - 2076*
⛅ *शक संवत -1941*
⛅ *अयन - दक्षिणायन*
⛅ *ऋतु - हेमंत*
⛅ *मास - मार्गशीर्ष*
⛅ *पक्ष - शुक्ल*
⛅ *तिथि - अष्टमी 5 दिसम्बर रात्रि 01:44 तक तत्पश्चात नवमी*
⛅ *नक्षत्र - शतभिषा शाम 05:10 तक तत्पश्चात पूर्व भाद्रपद*
⛅ *योग - हर्षण दोपहर 02:55 तक  तत्पश्चात वज्र*
⛅ *राहुकाल - दोपहर 12:17 से दोपहर 01:17 तक*
⛅ *सूर्योदय - 07:02*
⛅ *सूर्यास्त - 17:55*
⛅ *दिशाशूल - उत्तर दिशा में*
⛅ *व्रत पर्व विवरण - बुधवारी अष्टमी  (सूर्योदय से रात्रि 1:44 तक)*
 💥 *विशेष - अष्टमी को नारियल का फल खाने से बुद्धि का नाश होता है।(ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-34)*
💥 *अष्टमी तिथि के दिन स्त्री-सहवास तथा तिल का तेल खाना और लगाना निषिद्ध है।(ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-38)*
               🌞
🌷 *ज्योतिष शास्त्र* 🌷
🙏🏻 *ज्योतिष शास्त्र के अंतर्गत अनेक ऐसे छोटे व आसान उपाय बताए गए हैं, जिन्हें करने से जीवन की हर परेशानी दूर हो सकती है। बहुत से लोग इन उपायों के बारे में या तो जानते नहीं हैं  और यदि जानते हैं तो इन पर विश्वास नहीं करते। इन उपायों पर विश्वास करने के लिए जरूरी है स्वयं पर विश्वास करना।*
🙏🏻  *ज्योतिष के अनुसार, यदि ये उपाय सच्चे मन से किए जाएं तो जल्दी ही इनका सकारात्मक प्रभाव देखा जा सकता है। आज हम आपको कुछ ऐसे ही छोटे और अचूक उपाय बता रहे हैं, जिन्हें सच्चे मन से करने से आपकी जिंदगी की हर परेशानी दूर हो सकती है। ये उपाय इस प्रकार हैं-*
👉🏻 *करें इन 9 में से कोई भी 1 उपाय, चमक सकती है किस्मत*
🙌🏻 *1. रोज सुबह उठकर अपनी हथेलियां देखें*
*रोज सुबह जब आप उठें तो सबसे पहले दोनों हाथों की हथेलियों को कुछ क्षण देखकर चेहरे पर तीन चार बार फेरे। धर्म ग्रंथों के अनुसार, हथेली के ऊपरी भाग में मां लक्ष्मी, बीच में मां सरस्वती व नीचे के भाग (मणि बंध) में भगवान विष्णु का स्थान होता है। इसलिए रोज सुबह उठते ही अपनी हथेली देखने से भाग्य चमक उठता है।*
🐄 *2. पहली रोटी गाय को दें*
*भोजन के लिए बनाई जा रही रोटी में से पहली रोटी गाय को दें। धर्म ग्रंथों के अनुसार, गाय में सभी देवताओं का निवास माना गया है। अगर प्रतिदिन गाय को रोटी दी जाए तो सभी देवता प्रसन्न होते हैं और आपकी हर मनोकामना पूरी कर सकते हैं।*
🐜 *3. चीटियों को आटा डालें*
*अगर आप चाहते हैं कि आपकी किस्मत चमक जाए तो रोज चीटियों को शक्कर मिला हुआ आटा डालें। ऐसा करने से आपके पाप कर्मों का क्षय होगा और पुण्य कर्म उदय होंगे। यही पुण्य कर्म आपकी मनोकामना पूर्ति में सहायक होंगे।*
🙏🏻 *4. देवताओं को फूलों से सजाएं*
*घर में स्थापित देवी-देवताओं को रोज फूलों से सजाना चाहिए। इस बात का ध्यान रखें कि फूल ताजे ही हो। सच्चे मन से देवी-देवताओं को फूल आदि अर्पित करने से वे प्रसन्न होते हैं व व्यक्ति के जीवन की हर परेशानी दूर कर सकते हैं। स्नान करने के बाद तोड़े गए फूल ही भगवान को चढ़ाना चाहिए, ऐसा नियम है।*
🏠 *5. सुबह करें झाड़ू-पोछा*
*घर को हमेशा साफ-स्वच्छ रखना चाहिए। रोज सुबह झाड़ू-पोछा करें। सूर्यास्त के बाद झाड़ू-पोछा नहीं करना चाहिए। ऐसा करने से मां लक्ष्मी रूठ जाती हैं और व्यक्ति को आर्थिक हानि का सामना भी करना पड़ सकता है। धर्म ग्रंथों के अनुसार, जो व्यक्ति सूर्यास्त के बाद झाड़ू-पोछा करता है, देवी लक्ष्मी उस घर में निवास नहीं करती और वहां से चली जाती हैं।*
🐠 *6. मछलियों को आटे की गोलियां खिलाएं*
*अपने घर के आस-पास कोई ऐसा तालाब, झील या नदी का चयन करें, जहां बहुत सी मछलियां हों। यहां रोज जाकर आटे की गोलियां मछलियों को खिलाएं। मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने का यह बहुत ही अचूक उपाय है। नियमित रूप से जो यह उपाय करता है, कुछ ही दिनों में उसकी परेशानियां दूर होने लगती हैं।*
👫 *7. माता-पिता का आशीर्वाद लें*
*रोज जब भी घर से निकले तो उसके पहले अपने माता-पिता और घर के बड़े बुजुर्गों के पैर छूकर आशीर्वाद लें। ऐसा करने से आपकी कुंडली में स्थित सभी विपरीत ग्रह आपके अनुकूल हो जाएंगे और शुभ फल प्रदान करेंगे। माता-पिता के आशीर्वाद से आप पर आने वाला संकट टल जाएगा और आपके काम बनते चले जाएंगे।*
🌳 *8. पीपल पर जल चढ़ाएं*
*रोज सुबह स्नान आदि करने के बाद पीपल के पेड़ पर एक लोटा जल चढ़ाएं। मान्यता है कि पीपल में भगवान विष्णु का वास होता है। रोज ये उपाय करने से भगवान विष्णु प्रसन्न होते हैं और शुभ फल प्रदान करते हैं। इस पेड़ का महत्व इसी बात से जाना जा सकता है कि अर्जुन को गीता को उपदेश देते हुए भगवान श्रीकृष्ण ने स्वयं को पेड़ों में पीपल बताया था।*
🏃🏻 *9. घर खाली हाथ न जाएं*
*बाहर से जब भी आप घर में प्रवेश करें तो कभी खाली हाथ ना जाएं। घर में हमेशा कुछ ना कुछ लेकर प्रवेश करें। चाहे वह पेड़ का पत्ता ही क्यों न हो।*
पंचक
पंचक तिथि प्रारंभ - 3 दिसम्बर, 12:58 AM  पंचक तिथि समाप्त - 8 दिसम्बर, 01:29 AM पर
एकादशी
रविवार, 08 दिसंबर मोक्षदा एकादशी
रविवार, 22 दिसंबर सफला एकादशी
प्रदोष
09 दिसंबर 2019 सोमवार सोम प्रदोष व्रत
23 दिसंबर 2019 सोमवार सोम प्रदोष व्रत
अमावस्या
26 दिसंबर 2019- गुरुवार- पौष अमावस्या।
आज का राशिफल🕉

मेष राशि
आपको मेहनत के अच्छे परिणाम मिल सकते हैं। इस राशि के बिल्डर्स के लिए आज का दिन फायदा देने वाला है। लवमेट के लिए भी आज का दिन बेहतर रहेगा। नई दिशा में आगे बढ़ने के आपको कई मौके मिलेंगे।  आज आप अपने मन की बात दोस्तों  से शेयर कर सकते हैं। अधिकारियों से आपके संबंध भी सुधर सकते हैं।हनुमान जी को लड्डू चढ़ाएं, तरक्की मिलेगी।
वृष राशि
आपका दिन अनुकूल रहेगा। आप पूरा दिन एनर्जेटिक महसूस करेंगे। आपका रूका हुआ काम समय पर पूरा हो जायेगा।अधिकारी वर्ग आपसे इम्प्रेस होंगे । इस राशि के स्टूडेंट्स के लिए आज का दिन फेवरेबल रहेगा। कुछ लोग आपसे ज्यादा उम्मीद रख सकते हैं। आप उनकी उम्मीदों पर खरा उतरेंगे। आपको निवेश के मामले में कोई अच्छी सलाह मिल सकती है। घर के बाहर छत पर मिट्टी के बर्तन में चिड़ियों के लिए पानीरखें, आपकी आर्थिक स्थिति मजबूत होगी।
मिथुन राशि
आप किसी मित्र के साथ कहीं घूमने-फिरने का प्लान बना सकते हैं। आपको जीवनसाथी से कोई सुखद समाचार मिल सकता है। काम के साथ चुनौतियाँ भी ज्यादा हो सकती है। ऑफिस के कुछ मामलों में आपकी टेंशन बढ़ सकती है। मन में आती कुछ बातें आपको परेशान कर सकती है। रोजमर्रा के कामों में मन कम ही लग पायेगा। बंदरों को केला खिलाएं, मुश्किलों का अंत होगा।
कर्क राशि
आपका दिन ठीक-ठाक रहेगा। घर के बड़े-बुजुर्गों का आशीर्वाद लेना आपके लिए कारगर साबित हो सकता है। परिवार में कुछ अनबन की स्थिति हो सकती है। ऑफिस में कुछ नयी जिम्मेदारियां आपके कंधों पर आ सकती हैं। इस राशि के स्टूडेंट्स को पढ़ाई में कड़ी मेहनत करने की जरूरत है। आपको किसी से ज्यादा उम्मीद लगाने से बचना चाहिए। आज हनुमान जी को सिंदूर चढ़ाएं,सारी परेशानियां दूर होंगी।
सिंह राशि
आप नई चीजें सीखने की कोशिश कर सकते हैं। इस राशि के वकीलों के लिए आज का दिन बेहतरीन रहेगा। कोई जरूरी केस आपके पक्ष में हो सकता है। जीवनसाथी के साथ किसी धार्मिक स्थान पर जा सकते हैं। दाम्पत्य संबंध में मधुरता बढ़ेगी। कम मेहनत से भी आपको ज्यादा फायदा हो सकता है। जरूरतमंद को भोजन करायें,रिश्तों में मिठास आयेगी।
कन्या राशि
आपका दिन बेहतरीन रहेगा। इस राशि के व्यापारी वर्ग को धन लाभ होगा। कारोबार में नए लोगों से कॉन्टैक्ट भी होंगे। आपको काम करने के कई नये मौके मिलेंगे। ऑफिस का काम समय से निपटा लेंगे। आपसे कुछ लोग इम्प्रेस भी होंगे। परिवार में कोई अच्छी खबर मिलेगी। आपको कुछ अलग तरह के अनुभव होंगे। हनुमान चालीसा का पाठ करें, सफलता मिलेगी
तुला राशि
आपका दिन सामान्य रहेगा। इस राशि के स्टूडेंट्स के लिए आज का दिन महत्वपूर्ण है। परिवार में विवाद की स्थिति बन सकती है। आप किसी बात को लेकर थोड़े परेशान हो सकते हैं। किसी मित्र से भी अनबन होने की संभावना है। फालतू की बहस करने से आपको बचना चाहिए। पुरानी बातों के कारण कुछ कामों में आपका मन नहीं लगेगा। बजरंगबली को प्रसन्न करने के लिए 108 बार  मंत्र- 'ॐ श्री हनुमंते नमः' का जाप करें।कार्यक्षेत्र में आपको सफलता मिलेगी।
वृश्चिक राशि
आपका दिन उत्तम रहेगा। आपके पारिवारिक रिश्ते मजबूत होंगे। आप किसी नये काम की शुरूआत कर सकते हैं। किसी काम में माता-पिता की राय लेना बेहतर रहेगा। इस राशि के मार्केटिंग से जुड़े लोगों के लिए आज का दिन फायदेमंद रहेगा। आपका आत्मविश्वास बढ़ सकता है। दूसरों पर आपके काम का पॉजिटिव असर पड़ेगा। अपने गुरु का आशीर्वाद लें, पूरे दिन खुशियाँ मिलाती रहेंगी।
धनु राशि
आपका दिन शानदार रहेगा। बच्चों के साथ आप अधिक समय बितायेंगे, इससे आपके बीच रिश्ते मजबूत होंगे। पैसा कमाने के नए मौके सामने आयेंगे। किसी काम से आप दोस्त के घर पर जायेंगे। प्रेम-प्रसंग में आपको सफलता मिलेगी। आपके दाम्पत्य जीवन में समरसता आयेगी। मेहनत के बल पर आप हर चीज को अपने अनुकूल कर लेंगे। अनाथालय में बच्चों को कुछ गिफ्ट करें, समाज में आपकी प्रतिष्ठा बढ़ेगी।

मकर राशि
आपका दिन अच्छा रहेगा। घर में किसी मेहमान के आने से खुशी का माहौल बनेगा। आपकी मुलाकात किसी पुराने दोस्त से हो सकती है। आप अपनी बात दूसरों के सामने रखने में सफल हो सकते हैं। दोस्तों के साथ कहीं घूमने जा सकते हैं। माता-पिता का सहयोग प्राप्त होगा। हनुमान जी के दर्शन करें, समस्त मनोकामनाओं की पूर्ति होगी।
कुंभ राशि
आपका दिन फेवरेबल रहेगा। ऑफिस में सभी से विनम्रता से पेश आने पर आप आगे बढ़ेंगे।आपको धन लाभ के कई सुनहरे अवसर मिलेंगे। किसी नजदीकी दोस्त के साथ मिलकर काम करने से आपको लाभ होगा। जीवनसाथी के साथ प्यार बढ़ेगा। आपके काम समय से पूरे हो जायेंगे। अचानक धन लाभ होने की संभावना है।हनुमान जी के मंदिर में जाकर रामरक्षास्तोत्र का पाठ करें, कर्ज से छुटकारा मिलेगा।
मीन राशि
आपका दिन ठीक-ठाक रहेगा। अगर कोई व्यक्ति आपकी कुछ ज्यादा ही प्रशंसा कर रहा है, तो आपको थोड़ा सतर्क रहना चाहिए। ऑफिस में आपकी परफॉरमेंस अच्छी रहेगी। इसके पीछे कोई साजिश भी हो सकती है। आपको थोड़ी सुस्ती महसूस हो सकती है। आपको कहीं-सुनी बातों पर भरोसा करने से बचना चाहिए। स्वास्थ्य में उतार-चढ़ाव बना रहेगा। जल में कुछ दाने अक्षत डालकर सूर्यदेव को जल चढ़ाएं, काम बनाते नज़र आयेगें।

जिनका आज जन्मदिन है उनको हार्दिक शुभकामनाये
🎂🎂🎂🎂🎂🎂
दिनांक 4 को जन्मे व्यक्ति का मूलांक 4 होगा। इस अंक से प्रभावित व्यक्ति जिद्दी,  कुशाग्र बुद्धि वाले,  साहसी होते हैं। ऐसे व्यक्ति को जीवन में अनेक परिवर्तनों का सामना करना पड़ता है। जैसे तेज स्पीड से आती गाड़ी को अचानक ब्रेक लग जाए ऐसा उनका भाग्य होगा। लेकिन यह भी निश्चित है कि इस अंक वाले अधिकांश लोग कुलदीपक होते हैं। आपका जीवन संघर्षशील होता है। इनमें अभिमान भी होता है। ये लोग दिल के कोमल होते हैं किन्तु बाहर से कठोर दिखाई पड़ते हैं। इनकी नेतृत्त्व क्षमता के लोग कायल होते हैं।

शुभ दिनांक : 4,  8,  13,  22,  26,  31

शुभ अंक : 4,  8,18,  22,  45,  57
शुभ वर्ष : 2017, 2020,  2031,  2040,  2060   

ईष्टदेव : श्री गणेश,  श्री हनुमान

शुभ रंग : नीला,  काला,  भूरा

कैसा रहेगा यह वर्ष
यह वर्ष पिछले वर्ष के दुष्प्रभावों को दूर करने में सक्षम है। आपको सजग रहकर कार्य करना होगा। परिवारिक मामलों में सहयोग के द्वारा सफलता मिलेगी। मान-सम्मान में वृद्धि होगी, वहीं मित्र वर्ग का सहयोग मिलेगा। नवीन व्यापार की योजना प्रभावी होने तक गुप्त ही रखें। शत्रु पक्ष पर प्रभावपूर्ण सफलता मिलेगी। नौकरीपेशा प्रयास करें तो उन्नति के चांस भी है। विवाह के मामलों में आश्चर्यजनक परिणाम आ सकते हैं।

Posted By Lal Kitab Anmol21:41

Sunday, 1 December 2019

आज का पंचांग वह पंचांग वह वास्तु का समाधान

अंतर्गत लेख:

ऊं नमः शिवाय शिवजी सदा सहाय
ऊं नमः शिवाय श्री गुरु जी सदा सहाय
ऊं नमः शिवाय श्री बालाजी सदा सहाय

निशुल्क पंचांग अपने मोबाइल फोन पर मंगवाने के लिए 9911342666 पर अपने नाम के साथ ही शहर का नाम लिख कर व्हाट्सएप्प करे

 ~ *आज का श्री बाला जी पंचांग* ~
⛅ *दिनांक 02 दिसम्बर 2019*
⛅ *दिन - सोमवार*
⛅ *विक्रम संवत - 2076*
⛅ *शक संवत -1941*
⛅ *अयन - दक्षिणायन*
⛅ *ऋतु - हेमंत*
⛅ *मास - मार्गशीर्ष*
⛅ *पक्ष - शुक्ल*
⛅ *तिथि - षष्ठी रात्रि 08:59 तक तत्पश्चात सप्तमी*
⛅ *नक्षत्र - श्रवण सुबह 11:44 तक तत्पश्चात धनिष्ठा*
⛅ *योग - ध्रुव दोपहर 01:39 तक  तत्पश्चात व्याघात*
⛅ *राहुकाल - सुबह 08:16 से 09:36 तक*
⛅ *सूर्योदय - 07:01*
⛅ *सूर्यास्त - 17:54*
⛅ *दिशाशूल - पूर्व दिशा में*
⛅ *व्रत पर्व विवरण -
 💥 *विशेष - षष्ठी को नीम की पत्ती, फल या दातुन मुँह में डालने से नीच योनियों की प्राप्ति होती है। (ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-34)*   
🌷 *वास्तु दोष* 🌷
🏡 *जिन के घर का मुख दक्षिण में हो, वे अपने घर के दरवाजे के बाहर एक गमले में आम का पौधा लगायें और गुरुमंत्र का जप करें ।*
🙏🏻 *
🌷 *गंगा स्नान का फल* 🌷
🙏🏻 *"जो मनुष्य आँवले के फल और तुलसीदल  से मिश्रित जल से स्नान करता है, उसे गंगा स्नान का फल मिलता है ।" (पद्म पुराण , उत्तर खंड) 

🌷 *चिंता, कष्ट, बीमारी निवृति के लिए* 🌷
🏡 *जिनके घर में चिंता, कष्ट और बीमारी ज्यादा है | भविष्य पुराण में आया ही की मार्गशीर्ष मास में शुक्ल पक्ष की सप्तमी माने 03 दिसम्बर 2019 को मंगलवार के दिन सुबह सूर्य भगवान को तिल के तेल का दीपक दिखाये अर्घ्य दे |*
🌞  *सूर्य भगवान को अर्घ्य दो तो इस भाव से – मन में एक बार स्मरण कर लेना की भगवत गीता में आपने कहाँ है – “ज्योति श्याम रविरंशुमान” ये ज्योतियों में सूर्य मै हूँ .... तो मेरा अर्घ्य स्वीकार करो | मेरा ये प्रणाम स्वीकार करे |*
⛅ *तो उस दिन को लोटे में चावल, तिल, कुंमकुम, केसर डालकर अर्घ्य दे | केसर न हो तो ऐसे ही कुंमकुम डाल दे अर्घ्य दे, तिल का दिया दिखा दे |*
🏡 *फिर घर में भोजन बने और सब खाये उसके पहले दही और चावल थाली में लेकर सूर्य भगवान को भोग लगाये और प्रार्थना करे हमारे घर में आपके लिए ये प्रसाद तैयार किया है ये नैवेद्य आप सूर्य भगवान स्वीकार करे और हमारे घर में सब प्रकार से आनंद छाया रहे, सब निरोग रहे, दीर्घायु बने | ऐसा करके उनको भोग लगाये और प्रसाद में थोडा-सा छ्त पर रख दे घर के लोग भी प्रसाद में दही-चावल खुद भी खा ले |*
🙏🏻आज आपका राशीफल
मेष
नया दिन नई ऊर्जा शक्ति और उत्साह के साथ शुरू होगा। किसी मामले में आप बड़ी रिस्क का मन बना सकते हैं। ये आपके लिए फायदेमंद भी रहेगा। किसी पर आंख बंद करके भरोसा करना हानिकारक हो सकता है। आज आपको सारे काम अपने ही दम पर करने होंगे।
करियर- करियर के मोर्चे पर आप में बहुत ऊर्जा है और बड़े जोखिम उठाने की इच्छा है। आपको फायदा मिल सकता है।
लव- आप अपनी भावनाओं के बारे में अडिग हैं। अपने प्रियजनों के साथ खुले तौर पर बात करके रिश्ते को फिर से जीवंत करने की आवश्यकता है।
हेल्थ- शारीरिक रूप से आप स्वस्थ्य रहेंगे, मानसिक थकान हो सकती है।
वृषभ -
आज आप खुद को मोटिवेटेड महसूस कर सकते हैं, लेकिन आप जितनी मेहनत कर रहे हैं, उसके अनुपात में रचनात्मकता और उत्पादकता का अभाव महसूस होगा। कुछ मामलों में आपको नई जिम्मेदारियां मिल सकती हैं, जो भविष्य में आपके लिए काफी फायदेमंद साबित हो सकती हैं।
करियर- आपको अपनी जिम्मेदारी से पीछे नहीं हटना चाहिए।
लव- लव लाइफ में आप कुछ नया करना चाहेंगे, लेकिन संभावनाना है कि आपको अपनी जिम्मेदारियों के कारण पीछे हटना पड़ेगा।
हेल्थ- आपका स्वास्थ्य बहुत अच्छा रहने वाला है
मिथुन -
ध्यान और एकाग्रता बनाए रखने की सलाह है। आपको कुछ मामलों पर लगातार नजर रखनी पड़ सकती है। इस कारण रोजमर्रा के कुछ काम प्रभावित भी हो सकते हैं। अगर आप किसी बात को लेकर लंबे समय से तनाव में हैं या परेशान चल रहे हैं तो आप संबंधित लोगों से इस बारे में बात कर पाएंगे।
करियर- करियर के मोर्चे पर हालात सुधर रहे हैं।
लव- आप अपने भावुक स्वभाव के नए पहलु को जान पाएंगे, जिसे आप पहले नहीं जानते थे। यदि आप प्यार में हैं और अपनी भावनाओं को व्यक्त नहीं किया है तो अब ऐसा करने का अच्छा समय है।
हेल्थ- स्वास्थ्य संबंधी मुद्दों के कारण तनाव होगा
कर्क -
घर, परिवार और हालिया मुद्दों पर ध्यान दें। काम और पारिवारिक जीवन के बीच संघर्ष होगा। कुछ भी योजना के अनुसार होने की उम्मीद न करें। आज दिन काफी कुछ आपकी सोच के विपरीत रह सकता है। अगर आप किसी मामले में अपने लिए कोई बड़ा फैसला लेना चाहते हैं तो उसे सोमवार को टाल दें।
करियर - आज करियर य जॉब को लेकर आपको कोई अच्छी खबर मिल सकती है। आप अपने आप को भाग्यशाली मान सकते हैं।
लव - जीवनसाथी से किसी मामले में तनाव हो सकता है।
हेल्थ - अपने खान-पान का ध्यान रखें। यह आपके स्वास्थ्य पर भारी पड़ सकता है।
सिंह -
दिन सकारात्मक और आशावादी है। आप पूरे दिन आसानी से चलने वाले मूड में रहेंगे। दिनचर्या ठीक रहेगी और आप वित्तीय परिस्थितियों में सुधार करने की कोशिश करेंगे। सामाजिक मामलों में आप सम्मान और प्रतिष्ठा हासिल करने के लिए तेजी से प्रयास करेंगे।
करियर- कार्य या व्यवसाय से संबंधित यात्रा अच्छी तरह से समाप्त हो जाएगी। आपको भरपूर लाभ मिल सकता है।
लव- अपने प्रियजनों के साथ समय बिताएं। किसी की अनदेखी हो सकती है, जो आपका मूड खराब कर सकती है।
हेल्थ- आज अपना समय कुछ खेल या फिजिकल एक्टिविटी में बिताएं। आपके स्वास्थ्य के लिए ये आवश्यक है।
कन्या-
आपको फालतू और आत्मग्लानि की प्रवृत्ति से बचना चाहिए। आप अपने घर और कार्यालय के लिए चीजें खरीद सकते हैं। यदि उचित उपयोग किया जाए तो आपकी रचनात्मक प्रतिभा आकर्षक साबित होगी। दिन आपके लिए अच्छा साबित होगा। कुछ अच्छे अवसर आपके सामने आ सकते हैं।
करियर - करियर में आपसे कुछ गलती हो सकती है, जिससे आपको पूरे दिन अपराध-बोध महसूस होगा। संभलकर रहें।
लव - रोमांटिक संबंध स्थिर होगा। अपने साथी के साथ लांग ड्राइव पर भी जा सकते हैं।
हेल्थ - आज आपको आलस्य और अतिनिद्रा से बचने की कोशिश करनी होगी।
तुला -
यह महत्वाकांक्षा और जिम्मेदारी निभाने का समय है, खुद को स्थिर रखने और तेजी से काम करने का समय है, क्योंकि आप लंबे समय से बहुत मेहनत कर रहे हैं। आज आपके लिए हर तरह से फेवर वाला दिन है। आपके आसपास के लोग भी आपके साथ आज काफी आत्मीयता और सहजता से पेश आएंगे।
करियर - अपने टारगेट की ओर तेज कदम बढ़ाने का समय है। सफलता नजदीक है। सहकर्मियों का साथ मिलेगा।
लव - आपका पार्टनर हर उस चीज पर शक कर रहा है, जो आप करते हैं, हर वो कदम जो आप उठाते हैं।
हेल्थ - खट्टे भोजन से बचें, हरी सब्जियों का सेवन करें और वॉकिंग की आदत डालें।
वृश्चिक
महत्वपूर्ण निर्णय लेने के लिए यह अच्छा समय नहीं है, जो आपके जीवन की परिस्थितियों को प्रभावित कर सकता है। दूसरे आपके विचारों या अधिकारों को चुनौती दे सकते हैं। कोई महत्वपूर्ण व्यक्ति या अधिकारी आपके विचारों का विरोध कर सकता है। पुराने संपर्कों को पुनर्जीवित किया जा सकता है।
करियर - बॉस या उनके समकक्षों से आपका विवाद हो सकता है। सावधान रहें।
लव - किसी पुराने व्यक्ति के मिलने से आप खुश रहेंगे। किसी नए रिश्ते की शुरुआत हो सकती है।
हेल्थ - कुछ अनहेल्दी हैबिट्स से आपको बचना होगा। स्वास्थ्य पर बुरा असर हो सकता है।
धनु -
कुछ लक्ष्य निर्धारित करें और फिर उन्हें प्राप्त करने के लिए अपने सभी तरह से मैनेजमेंट और इफिशिएंसी के साथ काम करें। एक मजेदार भरे दिन की उम्मीद करें और आप इसे बहुत आनंददायक दिन मानेंगे। कुछ चीजें आपके लिए पूरी तरह फेवरेबल हो सकती हैं। इसका आपको लाभ मिलेगा।
करियर - दफ्तर में माहौल अच्छा रहेगा। आपको सहकर्मियों और अधिकारियों का सहयोग मिलेगा।
लव - जीवनसाथी से संबंध सुधरेंगे। अपने माता-पिता के साथ समय बिताएं और उनकी बातें सुनें।
हेल्थ - आपको मानसिक स्वास्थ्य पर ध्यान देने की आवश्यकता है, यह समय है कि आप अपनी भावनाओं को नियंत्रित करें।
मकर -
आपको काम में अपनी कल्पना का उपयोग करने की क्षमता से बहुत अधिक संतुष्टि मिलेगी। यात्रा के योग की ओर कार्ड्स संकेत कर रहे हैं। एक मिशन या कार्य आज दूसरों को कड़ी मेहनत की तरह लग सकता है लेकिन यह आपके लिए सुखद चुनौतीपूर्ण संभावना होगी।
करियर - अपनी मेहनत के बल पर आप कुछ ऐसी उपलब्धियां हासिल कर सकते हैं, जो दूसरों के लिए कल्पना मात्र हो सकती है।
लव - सप्ताहांत की यात्रा की योजना बनाएं और अपने परिवार को सरप्राइज दे सकते हैं। लव लाइफ बहुत सुखद रहेगी।
हेल्थ - शरीर में थकान और स्ट्रेस दोनों बहुत अधिक मात्रा में रहेगा। आपको पर्याप्त नींद की आवश्यकता है।
कुंभ -
आज का दिन कुछ तनाव और दबाव के साथ गुजरेगा। किसी भी स्थिति में आपको दो मोर्चों पर एक साथ काम करना पड़ सकता है। आपके लिए अपनी इमेज सुधारने पर भी ध्यान देने की जरूरत है। कुछ मामलों में दिन आपके लिए फेवर का है। सिंगल या अविवाहितों के लिए दिन कुछ अच्छे संकेत लेकर आया है।
करियर - आपके लिए दो स्तरों पर तनाव हो सकता है। एक अपने काम में आगे बढ़ने का और दूसरा कुछ बिगड़ी हुई बातों को संभालने का।
लव - प्रेमी के साथ दिलचस्प बातचीत आज आपको एक नई दिशा में ले जा सकती है। जीवनसाथी के अच्छा समय गुजरेगा।
आज का राशिफल 🕉
मीन -
आज पारिवारिक जिम्मेदारियों का दिन है। घर के बुजुर्ग और बच्चे अधिक ध्यान देने की मांग कर सकते हैं। आपको थकान और तनाव के कारण काम करने का मन नहीं होग। किसी मामले को टालने का प्रयास करेंगे। अगर संभव हो तो जिम्मेदारियां उतनी ही लें, जितनी आप ठीक से पूरी कर सकें।
करियर - अब आप लंबे समय से कड़ी मेहनत कर रहे हैं, इसलिए यदि संभव हो तो थोड़ा आराम करें।
लव - आपको किसी खास व्यक्ति के साथ क्वालिटी टाइम गुजारने का मौका मिलेगा।
हेल्थ - आपको योग की जरूरत है। इसके लिए आपको समय निकालना चाहिए।
जिनका आज जन्मदिन है उनको हार्दिकशुभकामनाये
दिनांक 2 को जन्मे व्यक्ति का मूलांक 2 होगा। इस मूलांक को चन्द्र ग्रह संचालित करता है। चन्द्र ग्रह मन का कारक होता है। आप अत्यधिक भावुक होते हैं। आप स्वभाव से शंकालु भी होते हैं। दूसरों के दर्द से आप परेशान हो जाना आपकी कमजोरी है। आप मानसिक रूप से तो स्वस्थ हैं लेकिन शारीरिक रूप से कमजोर हैं। चन्द्र ग्रह स्त्री ग्रह माना गया है। अत: आप अत्यंत कोमल स्वभाव के हैं। आपमें अभिमान तो जरा भी नहीं होता। चन्द्र के समान आपके स्वभाव में भी उतार-चढ़ाव पाया जाता है। आप अगर जल्दबाजी को त्याग दें तो आप जीवन में सफल होते हैं।

शुभ दिनांक : 2, 11,  20,  29 

शुभ अंक : 2, 11,  20,  29,  56,  65,  92
शुभ वर्ष : 2022,  2029,  2036

ईष्टदेव : भगवान शिव,  बटुक भैरव

शुभ रंग : सफेद,  हल्का नीला,  सिल्वर ग्रे

कैसा रहेगा यह वर्ष
वर्ष काफी समझदारी से चलने का रहेगा। लेखन से संबंधित मामलों में सावधानी रखना होगी। बगैर देखे किसी कागजात पर हस्ताक्षर ना करें। किसी नवीन कार्य योजनाओं की शुरुआत करने से पहले बड़ों की सलाह लें। व्यापार-व्यवसाय की स्थिति ठीक-ठीक रहेगी। स्वास्थ्य की दृष्टि से संभल कर चलने का वक्त होगा। पारिवारिक विवाद आपसी मेलजोल से ही सुलझाएं। दखलअंदाजी ठीक नहीं रहेगी। 

Posted By Lal Kitab Anmol13:28

Saturday, 30 November 2019

आज का पंचांग व राशिफल व उपाय

अंतर्गत लेख:

ऊं नमः शिवाय शिव जी सदा सहाय
ऊं नमः शिवाय श्री गुरु जी सदा सहाय
ऊं नमः शिवाय श्री बालाजी सदा सहाय

निशुल्क पंचांग अपने मोबाइल फोन पर मंगवाने के लिए 9911342666 पर अपने नाम के साथ ही शहर का नाम लिख कर व्हाट्सएप्प करे

लिंक के माध्यम से जुड़ सकते हैं
https://chat.whatsapp.com/FVOfFjuxtPn2jlxHGZQ5ec

 *आज का श्री बालाजी पंचांग* ~
⛅ *दिनांक 01 दिसम्बर 2019*
⛅ *दिन - रविवार*
⛅ *विक्रम संवत - 2076*
⛅ *शक संवत -1941*
⛅ *अयन - दक्षिणायन*
⛅ *ऋतु - हेमंत*
⛅ *मास - मार्गशीर्ष*
⛅ *पक्ष - शुक्ल*
⛅ *तिथि - पंचमी शाम 07:13 तक तत्पश्चात षष्ठी*
⛅ *नक्षत्र - उत्तराषाढा सुबह 09:41 तक तत्पश्चात श्रवण*
⛅ *योग - वृद्धि दोपहर 01:32 तक  तत्पश्चात ध्रुव*
⛅ *राहुकाल - शाम 04:16 से शाम 05:36 तक*
⛅ *सूर्योदय - 07:00*
⛅ *सूर्यास्त - 17:54*
⛅ *दिशाशूल - पश्चिम दिशा में*
⛅ *व्रत पर्व विवरण -
 💥 *विशेष - पंचमी को बेल खाने से कलंक लगता है। (ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-34)*
        *कर्ज से मुक्ति* 🌷
🙏🏻 *कर्ज से शीघ्र मुक्ति पाने के लिए हर बुधवार के दिन वट वृक्ष के मूल में घी का दीप जला कर रख दें| इससे कर्जे से शीघ्र मुक्ति मिलेगी| और बुधवार के दिन खाने में मूँग या मूँग की दाल लें|*
*कारोबार में बरकत पाने के लिए*
🙏🏻 *जिनकी अपनी दुकान है, फैक्ट्री या कारोबार है वे लोग रोज नही तो हर बुधवार को गौ माता को हरा चारा खिलायें तो उन्हें लाभ होगा ओर गौ सेवा भी होगी ।*
         
🌷 *शारीरिक कमजोरी* 🌷
💪🏻 *10 ग्राम काले तिल चबा लो, और ठंडा पानी पियो; 2 घंटे तक कुछ खाओ पियो नहीं l इससे शरीर की कमजोरी मिटकर शरीर मजबूत होगा l दांत व मसूड़े मज़बूत होंगे, मस्तक मज़बूत होगा ।*
💥 *विशेष - रात को तिल की चीजे नहीं खानी चाहिए ।*

नजर लगने पर विश्वास करना न करना एक अलग बात है
लेकिन बड़े बुजुर्गों ने कहा है बुरी नज़र बडा से बड़ा पहाड़ ढा सकती है
जब बुरी नज़र के आगे कोई दवा या तरीका काम न करे तो यह उपाय भी आज़मा के देख ले
"एक नया लाल कपड़ा ले कर रात को सोने से पहले सिर से लेकर पैरों तक पूरा शरीर पौछ ले फिर उसमें एक एक चम्मच 5तरह की दाल और 5कोई से भी फूल रख कर बांध लें और सिरहाने रख के सो जाएं
सुबह बाए पैर के अँगूठे से दाएं पैर के अंगूठे तक सिर से 7बार उतारा कर के चौराहे पे रख आएं
धयान रहे कि लौटते हुए किसी से बात न करे।
यह कैसी भी बुरी नज़र टोना टोका सब से मुक्ति मिलने का सबसे आसान उपाय है।

आज का राशिफल🕉
मेष
प्रेम-प्रसंगों में सफलता मिलेगी। परिवार में तनाव होगा। जमीन जायदाद के कागजात एकत्रित करने में लगे रहेंगे। यात्रा को टालने का प्रयास करें। किसी का मजाक न बनाएं। नए आभूषण प्राप्त हो सकते हैं।
वृषभ
: सत्संग का लाभ मिलेगा। हीरे के व्यापारियों के लिए समय अभी कमजोर है। छात्र सम्मान प्राप्त कर सकेंगे। संतान का स्वास्थ खराब हो सकता है। घर के नौकरों से परेशान रहेंगे।
मिथुन
: जो भी निर्णय लें, सोच समझकर लें। जल्दबाजी में नुकसान हो सकता है। जो लोग धार्मिक यात्रा पर जाना चाहते हैं, वह यात्रा का लाभ ले सकते हैं। सोचे कार्यों के समय पर न होने से आत्मविश्वास में कमी आ सकती है।
कर्क
 जो लोग कला लेखन से जुड़े हैं, वो ख्याति को प्राप्त करेंगे। कार्यस्थल अधिकारी वर्ग से वाक् युद्ध हो सकता है। संतान उन्नति से मन प्रसन्न होगा। वाहन क्रय करने का मन हो रहा है।
सिंह
 राशि के लोगों का दिन शुभ रहेगा. धन की जरूरत पड़ सकती है, पैसे को बचाना भी शुरू करें. कुछ लोगों के घर जल्द ही शादी की शहनाई बजेगी. जीवनसाथी से एक बार फिर आपको प्यार होगा.
कन्या
राशि के लोगों का दिन सामान्य रहेगा. आज आप आर्थिक तंगी दूर करने में कामयाब होंगे. माता-पिता को खुश करने में थोड़ी कठनाई हो सकती है. जीवनसाथी की वजह से काम गड़बड़ भी हो सकते हैं.
तुला
राशि के लोगों का दिन शुभ रहेगा. आज नकारात्मक भावनाओं को वृत्तियों पर लगाम लगाएं. उधार का पैसा आज वापस मिल सकता है. जीवनसाथी की वजह से आपके सम्मान को ठेस पहुंच सकती है.
वृश्चिक
 राशि के लोगों का दिन सामान्य रहेगा. आर्थिक जीवन की स्थिति अच्छी नहीं कही जा सकती है. नई चीजों पर ध्यान लगाएं. प्यार में थोड़ी निराधा परेशान कर सकती है.
धनु
राशि के लोगों का दिन शुभ रहेगा. आज जरूरी फैसले लेने का दिन है. विवाहित लोग अपने बच्चों पर धन खर्च करेंगे. जीवनसाथी के साथ कुछ तनातनी हो सकती है.
मकर
 राशि के लोगों का दिन सामान्य रहेगा. जीवनसाथी की सेहत तनाव दे सकती है. धन संचय करने के विचार आज जरूर बनाएं. अच्छे भविष्य के लिए योजना बनाएं.
कुंभ
राशि के लोगों का दिन सामान्य बीतेगा. आज विवाहित लोगों को ससुराल पक्ष से धन लाभ हो सकता है. जीवनसाथी के साथ संबंध बने रहेंग. छोटे भाई के साथ कहीं घूमने जा सकते हैं.
मीन
मीन राशि के लोगों का दिन सामान्य रहेगा. बच्चों का प्रदर्शन आपको खुशी देगा. परिवार के लोगों की जरूरतों पर ध्यान देना आपकी प्राथमिकता होनी चाहिए.


जिनका आज जन्मदिन है उनको हार्दिक
शुभकामनाये
🎂🎂🎂🎂🎂🎂
दिनांक 1 को जन्मे व्यक्ति का मूलांक 1 होगा। आप शाही प्रवृत्ति के हैं। आपको किसी और का शासन पसंद नहीं है। आप साहसी और जिज्ञासु हैं। आपका मूलांक सूर्य ग्रह के द्वारा संचालित होता है। आप अत्यंत महत्वाकांक्षी हैं। आपकी मानसिक शक्ति प्रबल है। आपको समझ पाना बेहद मुश्किल है। आप आशावादी होने के कारण हर स्थिति का सामना करने में सक्षम होते हैं। आप सौन्दर्यप्रेमी हैं। आपमें सबसे ज्यादा प्रभावित करने वाला आपका आत्मविश्वास है। इसकी वजह से आप सहज ही महफिलों में छा जाते हैं।
शुभ दिनांक : 1,  10,  19,  28 

शुभ अंक : 1, 10,  19,  28,  37,  46,  55,  64,  73,  82
 
शुभ वर्ष : 2020,  2026,   2028,   2033,   2035

ईष्टदेव : सूर्य उपासना तथा मां गायत्री 

शुभ रंग : लाल,  केसरिया,   क्रीम

कैसा रहेगा यह वर्ष
यह वर्ष आपके लिए अत्यंत सुखद रहेगा। अधूरे कार्यों में सफलता मिलेगी। स्वास्थ्य की दृष्टि से यह वर्ष उत्तम रहेगा। पारिवारिक मामलों में महत्वपूर्ण कार्य होंगे। अविवाहितों के लिए सुखद स्थिति बन रही है। विवाह के योग बनेंगे। नौकरीपेशा के लिए समय उत्तम हैं। पदोन्नति के योग हैं। बेरोजगारों के लिए भी खुशखबर है इस वर्ष आपकी मनोकामना पूरी होगी। 

Posted By Lal Kitab Anmol19:31

Saturday, 23 November 2019

आज का राशिफल व पंचांग अथवा पंचक की जानकारी

अंतर्गत लेख:

ऊं नमः शिवाय शिवजी सदा सहाय
ऊं नमः शिवाय श्री गुरु जी सदा सहाय
ऊं नमः शिवाय श्री बाला जी सदा सहाय
ऊं आदित्याय सूर्य नमोस्तुते
निशुल्क पंचांग अपने मोबाइल फोन पर मंगवाने के लिये 9911342666 पर अपने नाम के साथ में शहर का नाम लिख कर व्हाट्सएप्प करे अपनी कुण्डली दिखाने के सम्पर्क करें 9911342666

🌞 ~ *आज का श्री बालाजी  पंचांग* ~ 🌞
⛅ *दिनांक 24 नवम्बर 2019*
⛅ *दिन - रविवार*
⛅ *विक्रम संवत - 2076*
⛅ *शक संवत -1941*
⛅ *अयन - दक्षिणायन*
⛅ *ऋतु - हेमंत*
⛅ *मास - मार्गशीर्ष
⛅ *पक्ष - कृष्ण*
⛅ *तिथि - त्रयोदशी 25 नवम्बर रात्रि 01:06 तक तत्पश्चात चतुर्दशी*
⛅ *नक्षत्र - चित्रा दोपहर 12:48 तक तत्पश्चात स्वाती*
⛅ *योग - सौभाग्य 25 नवम्बर रात्रि 2:56 तक  तत्पश्चात शोभन*
⛅ *राहुकाल - शाम 04:16 से शाम 05:37 तक*
⛅ *सूर्योदय - 06:55*
⛅ *सूर्यास्त - 17:54*
⛅ *दिशाशूल - पश्चिम दिशा में*
⛅ *व्रत पर्व विवरण - प्रदोष व्रत*
 💥 *विशेष - त्रयोदशी को बैंगन खाने से पुत्र का नाश होता है। (ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-34)*
         

🌷 *काजू प्रयोग* 🌷
🔹 *पैरो की एडियों में दरारे हो, पेट में कृमि हो तो बच्चों को २/३ काजू शहद के साथ अच्छी तरह तरह से चबा चबा कर खाने दे…और बड़े है तो ५/७ काजू…..कृमि,कोढ़, काले मसुडो आदि में आराम होगा |*
🔹 *काजू प्रयोग से मन भी मजबूत होता है*
🙏🏻
             
🌷 *कर्ज-मुक्ति के लिए मासिक शिवरात्रि* 🌷
👉🏻 *25 नवम्बर 2019 सोमवार को मासिक शिवरात्रि है।*
🙏🏻  *हर मासिक शिवरात्रि को सूर्यास्‍त के समय घर में बैठकर अपने गुरुदेव का स्मरण करके शिवजी का स्मरण करते- करते ये 17 मंत्र बोलें, जिनके सिर पर कर्जा ज्यादा हो, वो शिवजी के मंदिर में जाकर दिया जलाकर ये 17 मंत्र बोले।इससे कर्जा से मुक्ति मिलेगी*
🌷 *1).ॐ शिवाय नम:*
🌷 *2).ॐ सर्वात्मने नम:*
🌷 *3).ॐ त्रिनेत्राय नम:*
🌷 *4).ॐ हराय नम:*
🌷 *5).ॐ इन्द्र्मुखाय नम:*
🌷 *6).ॐ श्रीकंठाय नम:*
🌷 *7).ॐ सद्योजाताय नम:*
🌷 *8).ॐ वामदेवाय नम:*
🌷 *9).ॐ अघोरह्र्द्याय नम:*
🌷 *10).ॐ तत्पुरुषाय नम:*
🌷 *11).ॐ ईशानाय नम:*
🌷 *12).ॐ अनंतधर्माय नम:*
🌷 *13).ॐ ज्ञानभूताय नम:*
🌷 *14). ॐ अनंतवैराग्यसिंघाय नम:*
🌷 *15).ॐ प्रधानाय नम:*
🌷 *16).ॐ व्योमात्मने नम:*
🌷 *17).ॐ युक्तकेशात्मरूपाय नम:*
 🙏🏻 *आर्थिक परेशानी से बचने हेतु* 🙏🏻
👉🏻 *हर महीने में शिवरात्रि (मासिक शिवरात्रि - कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी) को आती है | तो उस दिन जिसके घर में आर्थिक कष्ट रहते हैं वो शाम के समय या संध्या के समय जप-प्रार्थना करें एवं शिवमंदिर में दीप-दान करें ।*
👉🏻 *और रात को जब 12 बज जायें तो थोड़ी देर जाग कर जप और एक श्री हनुमान चालीसा का पाठ करें।तो आर्थिक परेशानी दूर हो जायेगी।*
🙏🏻  *प्रति वर्ष में एक महाशिवरात्रि आती है और हर महीने में एक मासिक शिवरात्रि आती है। उस दिन शाम को बराबर सूर्यास्त हो रहा हो उस समय एक दिया पर पाँच लंबी बत्तियाँ अलग-अलग उस एक में हो शिवलिंग के आगे जला के रखना |बैठ कर भगवान शिवजी के नाम का जप करना प्रार्थना करना, | इससे व्यक्ति के सिर पे कर्जा हो तो जल्दी उतरता है, आर्थिक परेशानियाँ दूर होती है ।*


पंचक
2 दिसंबर रात्रि 12.57 से 7 दिसंबर रात्रि 1.29 तक

ज्योतिष में अशुभ समय होने पर शुभ कामों को करने की मनाही होती है। इसी के चलते पंचक के समय हर किसी को शुभ करने से रोका जाता है। देखो-देखी लोग इस बात को अपना तो लेते हैं, परंतु पंचक है क्या और इसे अशुभ क्यों माना जाता है इसके बारे में किसी को नहीं पता। तो आइए आज जानते हैं कि आखिर क्यों पंचक को अशुभ कहा जाता है और साल 2019 में पंचक कब पढ़ने वाला है। बता दें कि ज्योतिष में पांच नक्षत्रों के मेल से बनने वाले योग को पंचक कहा जाता है। जब चंद्रमा कुंभ और मीन राशि पर रहता है तो उस समय को पंचक कहा जाता है। ज्योतिष के अनुसार चंद्रमा एक राशि में लगभग ढाई दिन रहता है इस तरह इन दो राशियों में चंद्रमा पांच दिनों तक भ्रमण करता है। इन पांच दिनों के दौरान चंद्रमा पांच नक्षत्रों धनिष्ठा, शतभिषा, पूर्वाभाद्रपद, उत्तराभाद्रपद और रेवती से होकर गुजरता है। अतः ये पांच दिन पंचक कहे जाते हैं।

पचक
इतना तो सब जानते ही हैं कि हिंदू संस्कृति में प्रत्येक काम को करने से पहले मुहूर्त देखा जाता है, जिसमें पंचक सबसे महत्वपूर्ण है। जब भी कोई काम प्रारंभ किया जाता है तो उसमें शुभ मुहूर्त के साथ पंचक का भी विचार किया जाता है। नक्षत्र चक्र में कुल 27 नक्षत्र होते हैं। इनमें अंतिम के पांच नक्षत्र दूषित माने गए हैं। ये नक्षत्र धनिष्ठा, शतभिषा, पूर्वाभाद्रपद, उत्तराभाद्रपद और रेवती होते हैं। प्रत्येक नक्षत्र चार चरणों में विभाजित रहता है। पंचक धनिष्ठा नक्षत्र के तृतीय चरण से प्रारंभ होकर रेवती नक्षत्र के अंतिम चरण तक रहता है। हर दिन एक नक्षत्र होता है इस लिहाज से धनिष्ठा से रेवती तक पांच दिन हुए। ये पांच दिन पंचक होता है।

पंचक यानि पांच। माना जाता है कि पंचक के दौरान यदि कोई अशुभ काम हो तो उनकी पांच बार आवृत्ति होती है। इसलिए उसका निवारण करना आवश्यक होता है। पंचक का विचार खासतौर पर किसी की मृत्यु के समय किया जाता है। माना जाता है कि यदि किसी व्यक्ति की मृत्यु पंचक के दौरान हो तो घर-परिवार में पांच लोगों पर मृत्यु के समान संकट रहता है। इसलिए जिस व्यक्ति की मृत्यु पंचक में होती है उसके दाह संस्कार के समय आटे-चावल के पांच पुतले बनाकर साथ में उनका भी दाह कर दिया जाता है। इससे परिवार पर से पंचक दोष समाप्त हो जाता है।  शास्त्रों में पंचक के दौरान कुछ कामों को करने की मनाही रहती है। उन्हें भूलकर भी इस दौरान नहीं करना चाहिए
आज का राशिफल
मेष राशिफल
: जीवन में कई उतार चढ़ाव आते हैं, आप इस तरह हताश होकर बैठ गए तो नुकसान आपके साथ कई लोगों का होगा। कारोबार में उन्नति के योग है। कर्मचारियों से सहयोग मिलेगा। न्याय पक्ष मजबूत होगा।


वृषभ राशिफल /
 भाग्योदय का समय है। अपनी पूरी मेहनत से अपने कार्य में लग जाएं, सफल होंगे। कार्यस्थल बार-बार हो रही मशीनरी के खराब होने से परेशान रहेंगे। मशीनरी का स्थान परिवर्तन कर दें, समाधान हो जाएगा।


मिथुन राशिफल
 परिणय चर्चाओं में सफलता मिलेगी। खानपान में ध्यान देने की जरूरत है। कई दिनों से आपके मन में किसी बात को लेकर दुविधा है। झूठ बोलकर आप स्वयं फंस सकते हैं। धन लाभ हो सकता है।


कर्क राशिफल
 काम को टालना बंद करें और समय पर कार्य को करना सीखें। जल्दबाजी में लिए गए फैसले गलत साबित होंगे। व्यापार को बढ़ाने के लिए कर्ज लेना पड़ सकता है। संतों का सानिध्य प्राप्त हो सकता है।
सिंह राशिफल /
बेहतर सफलता के लिए कार्ययोजना में बदलाव लाएं। खुद के तौर तरीके को बदलें। परिवार में बहनों के विवाह की चिंता बनी रहेगी। कपास तेल और लोहा व्यापार से जुड़े लोगों को नुकसान हो सकता है।


कन्या राशिफल
 केवल पैसा कमाने में ही न लगें, अपनी जरूरी जिम्मेदारी भी पूरी करें। व्यस्तता के चलते जरूरी कार्य आज भी पूर्ण नहीं हो पाएंगे। नौकरी में तबादले के योग बन रहे हैं। आर्थिक लाभ होगा।


तुला राशिफल
 अपने व्यवहार में परिवर्तन लाएं। कार्यस्थल पर कर्मचारियों से विवाद हो सकता है। आजीवका के नए स्त्रोत स्थापित होंगे। कोई बड़ा प्रोजेक्ट मिल सकता है। मान कीर्ति में वृद्धि होगी।


वृश्चिक राशिफल
 व्यवसायिक नए अनुबंध हो सकते हैं। पारिवारिक यात्रा के योग है। धर्म-कर्म में रूचि बढ़ेगी। आर्थिक पक्ष मजबूत होगा। सम्मान प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी। नई तकनिकी के प्रयोग से लाभ होगा।
धनु राशिफल /
आत्मविश्वास और इष्ट बल की मदद से सफलता मिलेगी। साझेदारी से लाभ होगा। मानसिकता बदलें और अच्छा सोचें। बुजुर्गों के स्वास्थ की चिंता रहेगी। अपने सपनों को साकार करने का समय आ गया है। पूरी मेहनत और लगन से अपने कार्य में लग जाएं।


मकर राशिफल /
मन ही मन किसी बात से परेशान हैं, पूर्ण विचार और अपने विश्वसनीय जनों से विचार कर निर्णय लें। शत्रु सक्रीय होंगे। विदेश यात्रा के योग बन रहे हैं। पूर्व में किए गए निवेशों से लाभ होगा।

कुंभ राशिफल /
अपने कार्यक्षेत्र के प्रति अपनी जिम्मेदारी को समझें, गुस्सा करने से कुछ हासिल नहीं होगा। बड़ों का अनुभव आपके लिए लाभप्रद रहेगा। अपने मन की बातें और व्यापारिक योजना हर किसी को न बताएं, नुकसान हो सकता है।
मीन राशिफल /
: जोखिम के कार्यों से दूर रहें। किसी अजनबी पर भरोसा न करें। आत्मविश्वास में वृद्धि होगी। आपके विरोधी आपको उलझाने की कोशिश कर रहे हैं, सतर्क रहें। धन संचय में सफल होंगे। संतान सुख की प्राप्ति होगी।

जिनका आज जन्मदिन है उनको हार्दिक शुभकामनाये
🎂🎂🎂🎂🎂🎂🎂
दिनांक 24 को जन्मे व्यक्ति का मूलांक 6 होगा। इस अंक से प्रभावित व्यक्ति आकर्षक,  विनोदी,  कलाप्रेमी होते हैं। आपमें गजब का आत्मविश्वास है। इसी आत्मविश्वास के कारण आप किसी भी परिस्थिति में डगमगाते नहीं है। आपको सुगंध का शौक होगा। आप अपनी महत्वाकांक्षा के प्रति गंभीर होते हैं। 6 मूलांक शुक्र ग्रह द्वारा संचालित होता है। अत: शुक्र से प्रभावित बुराई भी आपमें पाई जा सकती है। जैसे स्त्री जाति के प्रति आपमें सहज झुकाव होगा। अगर आप स्त्री हैं तो पुरुषों के प्रति आपकी दिलचस्पी होगी। लेकिन आप दिल के बुरे नहीं है। 

शुभ दिनांक : 6,  15,  24

शुभ अंक : 6,  15,  24,  33,  42,  51,  69,  78
शुभ वर्ष :  2015,  2022,  2026
 
ईष्टदेव : मां सरस्वती,  महालक्ष्मी

शुभ रंग : क्रीम,  सफेद,  लाल,  बैंगनी 

कैसा रहेगा यह वर्ष
लेखन संबंधी मामलों के लिए उत्तम होती है। जो विद्यार्थी सीए की परीक्षा देंगे उनके लिए शुभ रहेगा। व्यापार-व्यवसाय में भी सफलता रहेगी। विवाह के योग भी बनेंगे। स्त्री पक्ष का सहयोग मिलने से प्रसन्नता रहेगी। नौकरीपेशा व्यक्ति अपने परिश्रम के बल पर उन्नति के हकदार होंगे। बैक परीक्षाओं में भी सफलता अर्जित करेंगे। दाम्पत्य जीवन में मिली जुली स्थिति रहेगी। आर्थिक मामलों में सभंलकर चलना होगा।

Posted By Lal Kitab Anmol13:54

Thursday, 14 November 2019

आज का राशिफल पंचांग पुराने जोड़ों दर्द जरुर राहत मिलेंगी

अंतर्गत लेख:

ऊं नम शिवाव शिवजी सदा सहाय
ऊं नम शिवाय गुरु जी सदा सहाय
ऊं नम शिवाय श्री बालाजी सदा सहाय

निशुल्क पंचांग अपने मोबाईल फोन पर मंगवाने के लिए 9911342666 पर नाम के साथ में अपने शहर का नाम लिख कर व्हाट्सएप्प करे
🌞 ~ *आज का श्री बालाजी  पंचांग* ~
⛅ *दिनांक 13 नवम्बर 2019*
⛅ *दिन - बुधवार*
⛅ *विक्रम संवत - 2076*
⛅ *शक संवत -1941*
⛅ *अयन - दक्षिणायन*
⛅ *ऋतु - हेमंत*
⛅ *मास - मार्गशीर्ष
⛅ *पक्ष - कृष्ण*
⛅ *तिथि - प्रतिपदा शाम 07:42 तक तत्पश्चात द्वितीया*
⛅ *नक्षत्र - कृत्तिका रात्रि 10:02 तक तत्पश्चात रोहिणी*
⛅ *योग - वरीयान् सुबह 10:06 तक तत्पश्चात परिघ*
⛅ *राहुकाल - दोपहर 12:11 से दोपहर 01:33 तक*
⛅ *सूर्योदय - 06:48*
⛅ *सूर्यास्त - 17:56*
⛅ *दिशाशूल - उत्तर दिशा में*
⛅ *व्रत पर्व विवरण -*
 💥 *विशेष - प्रतिपदा को कूष्माण्ड(कुम्हड़ा, पेठा) न खाये, क्योंकि यह धन का नाश करने वाला है। (ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-34)*
               🌞
🌷 *मार्गशीर्ष मास* 🌷
🙏🏻 *मार्गशीर्ष हिन्दू धर्म का नौवाँ महीना है। मार्गशीर्ष को अग्रहायण नाम भी दिया गया है। अग्रहायण शब्द 'आग्रहायणी' नक्षत्र से संबंधित है जो मृगशीर्ष या मृगशिरा का ही दूसरा नाम है । अग्रहायण का तद्भव रूप 'अगहन' है । इस वर्ष 13 नवंबर 2019 (उत्तर भारत हिन्दू पञ्चाङ्ग के अनुसार) से मार्गशीर्ष का आरम्भ हो रहा है। वैदिक काल से मार्गशीर्ष माह का विशेष महत्व रहा है। प्राचीन समय में मार्गशीर्ष से ही नववर्ष का प्रारम्भ माना जाता था। मार्गशीर्ष माह में सनातन संस्कृति के दो प्रमुख विवाह संपन्न हुए थे। शिव विवाह तथा राम विवाह। मार्गशीर्ष शुक्ल पंचमी को राम विवाह तो सर्वविदित है ही साथ ही शिवपुराण, रुद्रसंहिता, पार्वतीखण्ड के अनुसार सप्तर्षियों के समझाने से हिमवान ने शिव के साथ अपनी पुत्री का विवाह मार्गशीर्ष माह में निश्चित किया था ।*
👉🏻 *श्रीमद्भागवतगीता में श्रीकृष्ण स्वयं कहते हैं  “मासानां मार्गशीर्षोऽहं नक्षत्राणां तथाभिजित्” अर्थात  मैं महीनों में मार्गशीर्ष और नक्षत्रों में अभिजित् हूँ।*
👉🏻 *स्कन्दपुराण, वैष्णवखण्ड के अनुसार “मार्गशीर्षोऽधिकस्तस्मात्सर्वदा च मम प्रियः ।। उषस्युत्थाय यो मर्त्यः स्नानं विधिवदाचरेत् ।। तुष्टोऽहं तस्य यच्छामि स्वात्मानमपि पुत्रक ।।” श्रीभगवान कहते हैं की मार्गशीर्ष मास मुझे सदैव प्रिय है। जो मनुष्य प्रातःकाल उठकर मार्गशीर्ष में विधिपूर्वक स्नान करता है, उस पर संतुष्ट होकर मैं अपने आपको भी उसे समर्पित कर देता हूँ।*
💥 *मार्गशीर्ष में सप्तमी, अष्टमी मासशून्य तिथियाँ हैं। मासशून्य तिथियों में मंगलकार्य करने से वंश तथा धन का नाश होता है।*
👉🏻 *महाभारत अनुशासन पर्व अध्याय 106 के अनुसार “मार्गशीर्षं तु वै मासमेकभक्तेन यः क्षिपेत्। भोजयेच्च द्विजाञ्शक्त्या स मुच्येद्व्याधिकिल्बिषैः।। सर्वकल्याणसम्पूर्णः सर्वौषधिसमन्वितः। कृषिभागी बहुधनो बहुधान्यश्च जायते।।” जो मार्गशीर्ष मास को एक समय भोजन करके बिताता है और अपनी शक्ति के अनुसार ब्राह्माण को भोजन कराता है, वह रोग और पापों से मुक्त हो जाता है । वह सब प्रकार के कल्याणमय साधनों से सम्पन्न तथा सब तरह की औषधियों (अन्न-फल आदि) से भरा-पूरा होता है। मार्गशीर्ष मास में उपवास करने से मनुष्य दूसरे जन्म में रोग रहित और बलवान होता है। उसके पास खेती-बारी की सुविधा रहती है तथा वह बहुत धन-धान्य से सम्पन्न होता है ।*
👉🏻 *स्कन्दपुराण, वैष्णवखण्ड के अनुसार “मार्गशीर्षं समग्रं तु एकभक्तेन यः क्षिपेत् ।। भोजयेद्यो द्विजान्भक्त्या स मुच्येद्व्याधिकिल्विषैः।।” जो प्रतिदिन एक बार भोजन करके समूचे मार्गशीर्ष को व्यतीत करता है और भक्तिपूर्वक ब्राह्मणों को भोजन कराता है, वह रोगों और पातकों से मुक्त हो जाता है।*
👉🏻 *शिवपुराण के अनुसार मार्गशीर्ष में चाँदी का दान करने से वीर्य की वृद्धि होती है। शिवपुराण विश्वेश्वर संहिता के अनुसार मार्गशीर्ष में अन्नदान का सर्वाधिक महत्व है “मार्गशीर्षे ऽन्नदस्यैव सर्वमिष्टफलं भवेत् ॥ पापक्षयं चेष्टसिद्धिं चारोग्यं धर्ममेव च॥” अर्थात मार्गशीर्ष मास में केवल अन्नका दान करने वाले मनुष्यों को ही सम्पूर्ण अभीष्ट फलों की प्राप्ति हो जाती है | मार्गशीर्षमास में अन्न का दान करने वाले मनुष्य के सारे पाप नष्ट हो जाते हैं |*
🙏🏻 *मार्गशीर्ष माह में मथुरापुरी निवास करने का बहुत महत्व है। स्कन्दपुराण में स्वयं श्रीभगवान, ब्रह्मा से कहते हैं -*
🌷 *“पूर्णे वर्षसहस्रे तु तीर्थराजे तु यत्फलम् । तत्फलं लभते पुत्र सहोमासे मधोः पुरे ।।” अर्थात तीर्थराज प्रयाग में एक हजार वर्ष तक निवास करने से जो फल प्राप्त होता है, वह मथुरापुरी में केवल अगहन (मार्गशीर्ष) में निवास करने से मिल जाता है।*
🙏🏻 *मार्गशीर्ष मास में विश्वदेवताओं का पूजन किया जाता है कि जो गुजर गये उनके आत्मा शांति हेतु ताकि उनको शांति मिले | जीवनकाल में तो बिचारेशांति न लें पाये और चीजों में उनकी शांति दिखती रही पर मिली नहीं | तो मार्गशीर्ष मास में विश्व देवताओं के पूजन करते है भटकते जीवों के सद्गति हेतु |*
आज का देसी सुझाव 👌
पीड़ा नाशक संजीवनी तेल
👌👌👌👌👌
शीत ऋतु का मौसम आ गया ऐसे में पुराने जोड़ों दर्द
परेशान पीड़ा दायक तकलीफ देता है  क्योंकि यह वात रोग है वायु से बढ़ता है
कमर दर्द जोड़ों का या धुटने  का दर्द परेशान करता है
जिस किसी को यह परेशानी हो वह यह प्रयोग करे जरुर राहत मिलेंगी
1एक लिंटर तिल का तेल
2 150 ग्राम अजवाइन
3150 ग्राम लहसुन
4 150पीसी हुई सोंठ
5 150ग्राम मेथी दाना
यह सामान रात तिल के तेल डालकर कर रख दें वह सुबह इसको धीमी आंच पर
पकाते जब तक यह तेल आधा ना हो जाये तेल को छानकर किसी कांच की बोतल में भरकर रख लें वह अपने इष्ट भगवान के आगे रख कर दुआ करे ताके तेल संजीवन बन जाये रात सोने
से पहले दर्द वाली जगह पर लगाकर  सोये चमत्कारी लाभ की अनुभूति मिलेगी
दिन में तेल की बोतल को  धूप में रख दिया करें
यदि आराम चाहते हैं सुबह गुनगुने पानी के साथ  अजवायन एक चम्मच लें
व रात को हल्दी का दुध लेने
का नियम भी बनाए ले

आज का राशिफल 🕉

मेष राशिफल
जीवन में कई उतार-चढ़ाव आते हैं, आप इस तरह हताश हो कर बैठ गए तो नुकसान आप के साथ कई लोगों का होगा। कारोबार में उन्नति के योग है। कर्मचारियों से सहयोग मिलेगा। न्याय पक्ष मजबूत होगा।


वृषभ राशिफल
 भाग्योदय का समय है। अपनी पूरी मेहनत से अपने कार्य में लग जाएं, सफल होंगे। कार्यस्थल पर बार-बार हो रही मशीनरी के खराब होने से परेशान रहेंगे। मशीनरी का स्थान परिवर्तन कर दें, समाधान हो जाएगा।


मिथुन राशिफल /
: परिणय चर्चाओं में सफलता मिलेगी। खानपान में ध्यान देने की जरूरत है। कई दिनों से आपके मन में किसी बात को लेकर दुविधा है। झूठ बोलकर आप स्वयं फंस सकते हैं। धन लाभ हो सकता है।


कर्क राशिफल
: काम को टालना बंद करें और समय पर कार्य को करना सीखें। जल्दबाजी में लिए गए फैसले गलत साबित होंगे। व्यापार को बढ़ाने के लिए कर्ज लेना पड़ सकता है। संतों का सानिध्य प्राप्त हो सकता है।

सिंह राशिफल
 बेहतर सफलता के लिए कार्ययोजना में बदलाव लाएं। खुद के तौर तरीके को बदलें। परिवार में बहनों के विवाह की चिंता बनी रहेगी। कपास तेल और लोहा व्यापार से जुड़े लोगों को नुकसान हो सकता है।

कन्या राशिफल
: केवल पैसा कमाने में ही न लगें, अपनी जरूरी जिम्मेदारी भी पूरी करें। व्यस्तता के चलते जरूरी कार्य आज भी पूर्ण नहीं हो पाएंगे। नौकरी में तबादले के योग बन रहे हैं। आर्थिक लाभ होगा।

तुला राशिफल
 अपने व्यवहार में परिवर्तन लाएं। कार्यस्थल पर कर्मचारियों से विवाद हो सकता है। आजीवका के नए स्त्रोत स्थापित होंगे। कोई बड़ा प्रोजेक्ट मिल सकता है। मान कीर्ति में वृद्धि होगी।


वृश्चिक राशिफल
 व्यवसायिक नए अनुबंध हो सकते हैं। पारिवारिक यात्रा के योग है। धर्म-कर्म में रूचि बढ़ेगी। आर्थिक पक्ष मजबूत होगा। सम्मान प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी।
धनु राशिफल
: आत्मविश्वास और इष्ट बल की मदद से सफलता मिलेगी। साझेदारी से लाभ होगा। मानसिकता बदलें और अच्छा सोंचे। बुजुर्गों के स्वास्थ की चिंता रहेगी। अपने सपनों को साकार करने का समय आ गया है। पूरी मेहनत और लगन से अपने कार्य में लग जाएं।


मकर राशिफल
: मन ही मन किसी बात से परेशान हैं, पूर्ण विचार और अपने विश्वसनीय जनों से विचार कर निर्णय लें। शत्रु सक्रीय होंगे। विदेश यात्रा के योग बन रहे हैं। पूर्व में किये निवेशों से लाभ होगा।
कुंभ राशिफल
: अपने कार्यक्षेत्र के प्रति अपनी जिम्मेदारी को समझें, गुस्सा करने से कुछ हासिल नहीं होगा। बड़ों का अनुभव आपके लिए लाभप्रद रहेगा। अपने मन की बातें और व्यापारिक योजना हर किसी को न बताएं, नुकसान हो सकता है।


मीन राशिफल
 जोखिम के कार्यों से दूर रहें। किसी अजनबी पर भरोसा न करें। आत्मविश्वास में वृद्धि
 होगी। आपके विरोधी आपको उलझाने की कोशिश कर रहे हैं, सतर्क रहें। धन संचय में सफल होंगे। संतान सुख की प्राप्ति होगी।
🎂🎂🎂🎂🎂🎂🎂
जिनका आज जन्मदिन है उनको हार्दिक शुभकामनाये
दिनांक 13 को जन्मे व्यक्ति का मूलांक 4 होगा। इस अंक से प्रभावित व्यक्ति जिद्दी,  कुशाग्र बुद्धि वाले,  साहसी होते हैं। ऐसे व्यक्ति को जीवन में अनेक परिवर्तनों का सामना करना पड़ता है। जैसे तेज स्पीड से आती गाड़ी को अचानक ब्रेक लग जाए ऐसा उनका भाग्य होगा। लेकिन यह भी निश्चित है कि इस अंक वाले अधिकांश लोग कुलदीपक होते हैं। आपका जीवन संघर्षशील होता है। इनमें अभिमान भी होता है। ये लोग दिल के कोमल होते हैं किन्तु बाहर से कठोर दिखाई पड़ते हैं। इनकी नेतृत्त्व क्षमता के लोग कायल होते हैं।

शुभ दिनांक : 4,  8,  13,  22,  26,  31,

शुभ अंक : 4,  8,18,  22,  45,  57,
शुभ वर्ष : ,  2020,  2021,  2024,  2030 

ईष्टदेव : श्री गणेश,  श्री हनुमान

शुभ रंग : नीला,  काला,  भूरा

कैसा रहेगा यह वर्ष
यह वर्ष पिछले वर्ष के दुष्प्रभावों को दूर करने में सक्षम है। आपको सजग रहकर कार्य करना होगा। परिवारिक मामलों में सहयोग के द्वारा सफलता मिलेगी। मान-सम्मान में वृद्धि होगी, वहीं मित्र वर्ग का सहयोग मिलेगा। नवीन व्यापार की योजना प्रभावी होने तक गुप्त ही रखें। शत्रु पक्ष पर प्रभावपूर्ण सफलता मिलेगी। नौकरीपेशा प्रयास करें तो उन्नति के चांस भी है। विवाह के मामलों में आश्चर्यजनक परिणाम आ सकते हैं।

Posted By Lal Kitab Anmol05:43

 
भाषा बदलें
हिन्दी टाइपिंग नीचे दिए गए बक्से में अंग्रेज़ी में टाइप करें। आपके “स्पेस” दबाते ही शब्द अंग्रेज़ी से हिन्दी में अपने-आप बदलते जाएंगे। उदाहरण:"भारत" लिखने के लिए "bhaarat" टाइप करें और स्पेस दबाएँ।
भाषा बदलें