बीमारी का बगैर दवाई भी इलाज़ है,मगर मौत का कोई इलाज़ नहीं दुनियावी हिसाब किताब है कोई दावा ए खुदाई नहीं लाल किताब है ज्योतिष निराली जो किस्मत सोई को जगा देती है फरमान दे के पक्का आखरी दो लफ्ज़ में जेहमत हटा देती है

Tuesday, 6 April 2021

आज7-4-2021 का श्री बालाजी पंचांग

अंतर्गत लेख:


 


🌞 ~ आज का श्री बालाजी  पंचांग ~ 🌞

दिनांक 07 अप्रैल 2021

दिन - बुधवार

विक्रम संवत - 2077

शक संवत - 1942

अयन - उत्तरायण

ऋतु - वसंत

मास - चैत्र

पक्ष - कृष्ण

तिथि - एकादशी 08 अप्रैल रात्रि 02:29 तक तत्पश्चात द्वादशी

नक्षत्र - धनिष्ठा 08 अप्रैल रात्रि 03:33 तक तत्पश्चात शतभिषा

योग - साध्य दोपहर 02:30 तक तत्पश्चात शुभ

राहुकाल - दोपहर 12:41 से दोपहर 02:14 तक

सूर्योदय - 06:27

सूर्यास्त - 18:53

दिशाशूल - उत्तर दिशा में

व्रत पर्व विवरण - पापमोचनी एकादशी

 💥 विशेष - हर एकादशी को श्री विष्णु सहस्रनाम का पाठ करने से घर में सुख शांति बनी रहती है l  राम रामेति रामेति । रमे रामे मनोरमे ।। सहस्त्र नाम त तुल्यं । राम नाम वरानने ।।

💥 आज एकादशी के दिन इस मंत्र के पाठ से विष्णु सहस्रनाम के जप के समान पुण्य प्राप्त होता है l

💥 एकादशी के दिन बाल नहीं कटवाने चाहिए।

💥 एकादशी को चावल व साबूदाना खाना वर्जित है | एकादशी को शिम्बी (सेम) ना खाएं अन्यथा पुत्र का नाश होता है।

💥 जो दोनों पक्षों की एकादशियों को आँवले के रस का प्रयोग कर स्नान करते हैं, उनके पाप नष्ट हो जाते हैं।

               🌞 ~ पंचांग ~ 🌞

 

🌷 पापमोचनी एकादशी 🌷

07 अप्रैल 2021 बुधवार को रात्रि 02:10 से 08 अप्रैल, गुरुवार को रात्रि 02:29 तक (यानी 07 अप्रैल, बुधवार को पूरा दिन) एकादशी है ।

💥 विशेष - 07 अप्रैल, बुधवार को एकादशी का व्रत (उपवास) रखें ।

🙏🏻 जो श्रेष्ठ मनुष्य पापमोचनी एकादशीका व्रत करते हैं उनके सारे पाप नष्ट हो जाते हैं । इसको पढ़ने और सुनने से सहस्र गौदान का फल मिलता है । ब्रह्महत्या, सुवर्ण की चोरी, सुरापान और गुरुपत्नीगमन करनेवाले महापातकी भी इस व्रत को करने से पापमुक्त हो जाते हैं । यह व्रत बहुत पुण्यमय है ।

🙏🏻

          🌞 ~ पंचांग ~ 🌞

 

🌷 कलह-क्लेश, रोग व दुर्बलता मिटाने का उपाय 🌷

 🏡 जिसको घर में कलह-क्लेश मिटाना हो, रोग या शारीरिक दुर्बलता मिटाना हो वह इस चौपाई की पुनरावृत्ति किया करे

🌷 बुद्धिहीन तनु जानिके, सुमिरौ पवन-कुमार |

बल बुधि बिद्या देहु मोहिं, हरहु कलेस बिकार ||

🙏🏻

           🌞 ~ पंचाग ~ 🌞

🙏🍀🌻🌹🌸💐🍁🌷🌺🙏पंचक

7 अप्रैल दोपहर 3 बजे से 12 अप्रैल प्रात: 11.30 बजे तक

एकादशी

07 अप्रैल: पापमोचिनी एकादशी

 

23 अप्रैल: कामदा एकादशी

 

प्रदोष

09 अप्रैल- प्रदोष व्रत

24 अप्रैल- शनि प्रदोष व्रत

LAL Kitab Anmol

0 comments:

Post a comment

अपनी टिप्पणी लिखें

 
भाषा बदलें
हिन्दी टाइपिंग नीचे दिए गए बक्से में अंग्रेज़ी में टाइप करें। आपके “स्पेस” दबाते ही शब्द अंग्रेज़ी से हिन्दी में अपने-आप बदलते जाएंगे। उदाहरण:"भारत" लिखने के लिए "bhaarat" टाइप करें और स्पेस दबाएँ।
भाषा बदलें