बीमारी का बगैर दवाई भी इलाज़ है,मगर मौत का कोई इलाज़ नहीं दुनियावी हिसाब किताब है कोई दावा ए खुदाई नहीं लाल किताब है ज्योतिष निराली जो किस्मत सोई को जगा देती है फरमान दे के पक्का आखरी दो लफ्ज़ में जेहमत हटा देती है

Thursday, 22 July 2021

23/07/2021 आज का श्री बालाजी पंचांग क्या आप घर में लाना चाहते हैं पॉजिटिविटी? अपनाए ये 5 वास्तु टिप्स

अंतर्गत लेख:


पुण्य लाभ के लिए इस पंचांग को औरों को भी अवश्य भेजिए🙏🏻

आज का श्री बालाजी पंचांग 



सुप्रभात

आपका आज का दिन शुभ व मंगल कारी हो 

नित्य जप करें 

कल्याण मंत्र

ऊं नम शिवाय शिव जी सदा सहाय

ऊं नम शिवाय गुरु जी सदा सहाय

ऊं नम शिवाय श्री बालाजी सदा सहाय

कारोना नियम का पालन करें व औरों बताये स्वयं की दुसरो जान की रक्षा करें  सम्भव हो परेशान व जरुरतमंदों की सहायता करें  

मास्क से मुंह नाक को ढक ही बाहर निकले

🌞 ~ ⛅ दिनांक 23 जुलाई 2021

⛅ दिन - शुक्रवार

⛅ विक्रम संवत - 2078 (

⛅ शक संवत - 1943

⛅ अयन - दक्षिणायन

⛅ ऋतु - वर्षा 

⛅ मास - आषाढ़

⛅ पक्ष - शुक्ल 

⛅ तिथि - चतुर्दशी सुबह 10:43 तक तत्पश्चात पूर्णिमा

⛅ नक्षत्र - पूर्वाषाढा दोपहर 02:26 तक तत्पश्चात उत्तराषाढा

⛅ योग - वैधृति सुबह 09:24 तक तत्पश्चात विष्कम्भ

⛅ राहुकाल - सुबह 11:06 से दोपहर 12:45 तक

⛅ सूर्योदय - 06:10 

⛅ सूर्यास्त - 19:20 

⛅ दिशाशूल - पश्चिम दिशा में

⛅ व्रत पर्व विवरण - व्रत पूर्णिमा, गुरुपूर्णिमा, व्यासपूर्णिमा, ऋषि प्रसाद जयंती, कोकिला व्रतारम्भ, संन्यासी चातुर्मासारम्भ, विद्यालाभ योग

 💥 विशेष - चतुर्दशी और पूर्णिमा के दिन ब्रह्मचर्य पालन करे तथा तिल का तेल खाना और लगाना निषिद्ध है।(ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-38)

               🌞 ~  श्री बालाजी पंचांग  ~ 🌞

🌷 इसलिए जरूरी है जीवन में गुरु का होना 🌷

🙏🏻 हिंदू धर्म में आषाढ़ पूर्णिमा गुरु भक्ति को समर्पित गुरु पूर्णिमा का पवित्र दिन भी है। भारतीय सनातन संस्कृति में गुरु को सर्वोपरि माना है। वास्तव में यह दिन गुरु के रूप में ज्ञान की पूजा का है। गुरु का जीवन में उतना ही महत्व है, जितना माता-पिता का।

🙏🏻 माता-पिता के कारण इस संसार में हमारा अस्तित्व होता है। किंतु जन्म के बाद एक सद्गुरु ही व्यक्ति को ज्ञान और अनुशासन का ऐसा महत्व सिखाता है, जिससे व्यक्ति अपने सतकर्मों और सद्विचारों से जीवन के साथ-साथ मृत्यु के बाद भी अमर हो जाता है। यह अमरत्व गुरु ही दे सकता है। सद्गुरु ने ही भगवान राम को मर्यादा पुरुषोत्तम बना दिया, इसलिए गुरु पूर्णिमा को अनुशासन पर्व के रूप में भी मनाया जाता है।

🙏🏻 इस प्रकार व्यक्ति के चरित्र और व्यक्तित्व का संपूर्ण विकास गुरु ही करता है। जिससे जीवन की कठिन राह को आसान हो जाती है। सार यह है कि गुरु शिष्य के बुरे गुणों को नष्ट कर उसके चरित्र, व्यवहार और जीवन को ऐसे सद्गुणों से भर देता है। जिससे शिष्य का जीवन संसार के लिए एक आदर्श बन जाता है। ऐसे गुरु को ही साक्षात ईश्वर कहा गया है इसलिए जीवन में गुरु का होना जरूरी है।

         🌞 ~ श्री बालाजी पंचांग  ~ 🌞


🌷 गुरु पूजन 🌷

🌷 गुरुर्ब्रह्मा गुरुर्विष्णुः गुरुर्देवो महेश्वरः |

गुरुर्साक्षात परब्रह्म तस्मै श्री गुरवे नमः ||

ध्यानमूलं गुरुर्मूर्ति पूजामूलं गुरोः पदम् |

मंत्रमूलं गुरोर्वाक्यं मोक्षमूलं गुरोः कृपा ||

अखंडमंडलाकारं व्याप्तं येन चराचरम् |

तत्पदं दर्शितं येन तस्मै श्री गुरवे नमः ||

त्वमेव माता च पिता त्वमेव, त्वमेव बंधुश्च सखा त्वमेव |

त्वमेव विद्या द्रविणं त्वमेव, त्वमेव सर्वं मम देव देव ||

ब्रह्मानंदं परम सुखदं केवलं ज्ञानमूर्तिं |

द्वन्द्वातीतं गगनसदृशं तत्त्वमस्यादिलक्षयम् ||

एकं नित्यं विमलं अचलं सर्वधीसाक्षीभूतम् |

भावातीतं त्रिगुणरहितं सदगुरुं तं नमामि ||

🙏🏻 ऐसे महिमावान श्री सदगुरुदेव के पावन चरणकमलों का षोड़शोपचार से पूजन करने से साधक-शिष्य का हृदय शीघ्र शुद्ध और उन्नत बन जाता है | मानसपूजा इस प्रकार कर सकते हैं |

🙏🏻 मन ही मन भावना करो कि हम गुरुदेव के श्री चरण धो रहे हैं … सर्वतीर्थों के जल से उनके पादारविन्द को स्नान करा रहे हैं | खूब आदर एवं कृतज्ञतापूर्वक उनके श्रीचरणों में दृष्टि रखकर … श्रीचरणों को प्यार करते हुए उनको नहला रहे हैं … उनके तेजोमय ललाट में शुद्ध चन्दन से तिलक कर रहे हैं … अक्षत चढ़ा रहे हैं … अपने हाथों से बनाई हुई गुलाब के सुन्दर फूलों की सुहावनी माला अर्पित करके अपने हाथ पवित्र कर रहे हैं … पाँच कर्मेन्द्रियों की, पाँच ज्ञानेन्द्रियों की एवं ग्यारहवें मन की चेष्टाएँ गुरुदेव के श्री चरणों में अर्पित कर रहे हैं …

🌷 कायेन वाचा मनसेन्द्रियैवा बुध्यात्मना वा प्रकृतेः स्वभावात् |

करोमि यद् यद् सकलं परस्मै नारायणायेति समर्पयामि ||

🙏🏻 शरीर से, वाणी से, मन से, इन्द्रियों से, बुद्धि से अथवा प्रकृति के स्वभाव से जो जो करते  हैं वह सब समर्पित करते हैं | हमारे जो कुछ कर्म हैं, हे गुरुदेव, वे सब आपके श्री चरणों में समर्पित हैं … हमारा कर्त्तापन का भाव, हमारा भोक्तापन का भाव आपके श्रीचरणों में समर्पित है |

🙏🏻 इस प्रकार ब्रह्मवेत्ता सदगुरु की कृपा को, ज्ञान को, आत्मशान्ति को, हृदय में भरते हुए, उनके अमृत वचनों पर अडिग बनते हुए अन्तर्मुख हो जाओ … आनन्दमय बनते जाओ …

ॐ आनंद ! ॐ आनंद ! ॐ आनंद !

    🌞 ~ श्री बालाजी पंचांग  ~ 🌞

पंचक आरम्भ

जुलाई 25, 2021, रविवार को 10:48 pm

पंचक अंत

जुलाई 30, 2021, शुक्रवार को 02:03 pm

एकादशी

 20 जुलाई- देवशयनी, हरिशयनी एकादशी

प्रदोष

जुलाई 2021: प्रदोष व्रत

21 जुलाई: प्रदोष व्रत

पूर्णिमा

आषाढ़ पूर्णिमा व्रत जुलाई 23, शुक्रवार

श्रावण पूर्णिमा 22 अगस्त, रविवार

अमावस्या

अगस्त 2021 में अमावस्या तिथि (हरियाली अमावस्या) 07 अगस्त 7:11 बजे - 08 अगस्त 7:20 बजे

श्री बालाजी पंचांग 

आज का राशिफल- जानिए कैसा होगा आपका आज का दिन, क्या कहती है आपकी राशियाँ और किस राशि की चमकेगी आज किस्मत।।

मेष दैनिक राशिफल (Aries Daily Horoscope)

आज का दिन आपके लिए कुछ उतार-चढ़ाव भरा रहेगा। आज आपको नौकरी में अपने सहयोगियो से सतर्क रहना होगा। किसी भी सलाह पर अमल नहीं करना होगा, नहीं तो आपको अपने अधिकारियों की डांट खानी पड़ सकती है। ससुराल पक्ष किसी व्यक्ति को धन उधार दिया हुआ था, तो उसके वापस मिलने से आप की आर्थिक स्थिति को मजबूती मिलेगी। कार्यक्षेत्र में आज दिन आपके लिए उत्तम रहेगा। आज आप जो भी कार्य करेंगे, उसमें आपको सफलता अवश्य प्राप्त होगी। जीवनसाथी को आज कहीं घुमाने लेकर जा सकते हैं, जिससे आप दोनों के बीच प्रेम बढ़ेगा। सायंकाल का समय आज आप किसी मांगलिक समारोह में सम्मिलित हो सकते हैं

वृष दैनिक राशिफल (Taurus Daily Horoscope)

आज का दिन आपके लिए उत्तम फलदायक रहेगा। आज आप अपने किसी परिजनों की मदद के लिए कुछ पैसों का इंतजाम करेंगे, इसके लिए आपको प्रशंसा मिलेगी।  भविष्य में आपको इसका लाभ अवश्य मिलेगा। आज किसी नए कार्य को शुरू करने की सोच रहे हैं, तो उसके लिए दिन उत्तम होगा। सरकारी नौकरी से जुड़े जातकों की वेतन वृद्धि हो सकती है, जिसके कारण उनका मन प्रसन्न होगा। यदि कोई पारिवारिक तनाव चल रहा था, तो वह समाप्त होगा, जिसके कारण परिवारिक रिश्तों मे मजबूती आएगी। गृहस्थ जीवन जी रहे लोगों को आज अपने जीवनसाथी से किसी भी बात को नहीं छुपाना है, नहीं तो तनाव बढ़ सकता है।

मिथुन दैनिक राशिफल (Gemini Daily Horoscope) 

आज का दिन आपके लिए कुछ मिलाजुला रहेगा। बिजनेस करने वाले किसी भी कार्य को करने के लिए पूरी मेहनत करेंगे और जी जान लगा देंगे, जिसके कारण आप उसमें सफलता की सिढ़ी चढ़ेंगे और उसका लाभ अवश्य पाएंगे। जीवनसाथी को सफलता मिलने से आज परिवार में खुशी का माहौल रहेगा, जिसके कारण किसी पार्टी को आयोजन भी हो सकता है। सायंकाल का समय आज आप अपने परिवार के छोटे बच्चों के साथ मौज मस्ती में व्यतीत करेंगे। विद्यार्थियों को अपनी परीक्षा की तैयारी में अधिक परिश्रम की आवश्यकता है, तभी सफलता मिलती दिख रही है।

कर्क दैनिक राशिफल (Cancer Daily Horoscope) 

आज का दिन आपके लिए सामान्य रहने वाला है। आज आपके ऊपर किसी काम का बोझ आ सकता है, जिसके कारण आपको कुछ तनाव होगा, लेकिन सायंकाल तक वह किसी बुजुर्ग की मदद से समाप्त होगा, जिससे आपको आर्थिक मदद भी मिल सकती है। आर्थिक स्थिति को मजबूती मिलेगी। आज आप यदि कहीं निवेश करने की सोच रहे हैं, तो उसके लिए दिन उत्तम रहेगा। बिजनेस कर रहे लोगों को आज अपने बिजनेस में किसी पर भी आंखें बंद करके भरोसा नहीं करना है, नहीं तो उनको भारी नुकसान उठाना पड़ सकता है। सायंकाल के समय आज आप किसी धार्मिक स्थान की यात्रा के लिए भी जा सकते हैं।

सिंह दैनिक राशिफल (Leo Daily Horoscope) 

आज का दिन आपके लिए चारों ओर से खुशियां लेकर आएगा। आज आपकी यदि संतान के विवाह से संबंधित यदि कोई समस्या थी, तो वह भी किसी परिजन की मदद से समाप्त होगी, जिसके कारण आपका मन प्रसन्न होगा। यदि आपका धन कहीं उधार दिया हुआ था, तो वह भी आज आपको वापस मिल सकता है, जिसके कारण आप की आर्थिक स्थिति को मजबूती मिलेगी। ससुराल पक्ष से भी सामान मिलता दिख रहा है। आज आप अपने मित्र की लिए मदद के लिए भी आगे आएंगे। सायंकाल का समय आपके आस पड़ोस में कोई विवाद होता है, तो आपको उससे बचने की कोशिश करनी होगी, नहीं तो वह कानूनी हो सकता है।

कन्या दैनिक राशिफल (Virgo Daily Horoscope)  

आज का दिन आपके लिए मिश्रित परिणाम लेकर आएगा। आज आपको आपके ऑफिस में कोई महत्वपूर्ण कार्य सौंपा जा सकता है, जिसके कारण आप थोड़ा परेशान रहेंगे, लेकिन अपनी मेहनत व लगन से सायंकाल तक आप अपने उस कार्य को पूरा करने में सफल रहेंगे। जीवनसाथी का सहयोग व सानिध्य आज आपको भरपूर मात्रा में मिलता दिख रहा है। परिवार के किसी सदस्य की इच्छा पूर्ति न होने से आज परिवार में तनाव की स्थिति उत्पन्न हो सकती है। यदि ऐसा हो, तो आपको अपनी वाणी पर नियंत्रण बनाए रखना होगा।

तुला दैनिक राशिफल (Libra Daily Horoscope)

आज का दिन आपके चारों ओर का माहौल कुछ अजीब सा रहेगा। आप आज जिस भी कार्य में हाथ डालेंगे, उसमें सफलता तो मिलेगी, लेकिन उससे विलंब अवश्य होगा, जिसके कारण आपका मन विचलित होगा, लेकिन सफलता मिलने पर मन प्रसन्न होगा। आज आप अपने भाई से अपने बिजनेस के लिए सलाह ले सकते हैं, जिसमें आपको कुछ धन की आवश्यकता भी होगी। यदि आपको कोई शारीरिक कष्ट परेशान कर रहा था, तो उसके कष्टों में आज वृद्धि हो सकती है। ऐसा हो, तो डॉक्टरी परामर्श अवश्य लें। सायंकाल का समय आज आप अपने परिवार के सदस्यों के साथ देव दर्शन आदि की यात्रा के लिए जा सकते हैं।

वृश्चिक दैनिक राशिफल (Scorpio Daily Horoscope) 

आज का दिन आप कुछ परेशानियों से घिरे नजर आएंगे। आज आपको अपने हर कार्य को पूरा करने के लिए बहुत जद्दोजहद करनी पड़ेगी, जिसके कारण आपके कुछ निराशा भी हाथ लग सकती है, लेकिन आप हार नहीं मानेंगे और आगे बढ़ेंगे। यदि आपकी माताजी को कोई शारीरिक कष्ट चल रहा था, तो उसमें आज बढ़ोतरी हो सकती है, जिसके लिए भागदौड़ भी अधिक होगी। यदि आज किसी के साथ लेनदेन करने की सोच रहे हैं, तो बिल्कुल ना करें क्योंकि उसके लिए दिन उत्तम नहीं है।

धनु दैनिक राशिफल (Sagittarius Daily Horoscope) 

आज का दिन आपके लिए कुछ मिलाजुला रहेगा। बिजनेस में किसी भी कार्य को सोच विचार कर करें और यदि कहीं निवेश करें, तो अपने माता-पिता से सलाह अवश्य लें, नहीं तो आपका वह धन डूब सकता है। आज आपको कोई भी नया कार्य करने से रोकना होगा क्योंकि उसके लिए आज दिन उत्तम नहीं है। यदि आप साझेदारी में किसी व्यापार को करने की सोच रहे हैं, तो उसके लिए दिन उत्तम रहेगा। विद्यार्थियों अपनी शिक्षा में आ रही बाधा को दूर करने के लिए अपने गुरुजनों का आशीर्वाद प्राप्त करेंगे।

मकर दैनिक राशिफल (Capricorn Daily Horoscope)

आज आपके खर्चों में बढ़ोतरी होगी। आज आपके घर किसी अतिथि का आगमन हो सकता है, जिसमें आप को ना चाहते हुए भी धन व्यय करना पड़ेगा, लेकिन आपको अपनी आय और व्यय ध्यान में रखकर ही वह कार्य करना होगा, नहीं तो भविष्य में आप के ऊपर आर्थिक स्थिति का संकट मंडरा सकता है। यदि आप कही शेयर संबंधी व्यापार करते हैं, तो आज उसमें आपको लाभ मिलने के योग बनेंगे।

कुंभ दैनिक राशिफल  (Aquarius Daily Horoscope) 

आज का दिन आपके लिए धैर्य से कार्य करने का होगा। आज आप जिस कार्य को धैर्य से करेंगे, उसमें सफलता प्राप्त अवश्य करेंगे। यदि आपको अपने व्यापार के लिए कोई डील फाइनल करनी है, तो आप अपने दिल और दिमाग दोनों से सोच कर के फैसला लें। बहन के विवाह में आ रही बाधा आज आपके किसी मित्र की मदद से दूर होगी। परिवार में आज किसी मांगलिक कार्यक्रम पर चर्चा हो सकती है। सायंकाल का समय आज आप अपने किसी परिजन के यहां जाने का प्लान बना सकते है।

मीन दैनिक राशिफल (Pisces Daily Horoscope)

आज का दिन आपके लिए कुछ आलस्य से भरा रहेगा। आज आपको अपने आलस्य के कारण अपने धन लाभ के अफसरों को भी नहीं पहचान पाएंगे, लेकिन आपको ऐसा नहीं करना है। यदि ऐसा किया, तो आपको नुकसान उठाना पड़ सकता है। किसी मकान की खरीदारी करने से पहले अपने परिजनों से राय जरूर ले अन्यथा मुसीबत में पड़ सकते हैं। आज आपको कोई नया ऑर्डर या कंस्ट्रक्शन मिलने की संभावना है। शत्रु आज प्रबल नजर आएंगे। संतान को अच्छे कार्य करते देख आज मन में प्रसन्नता होगी। जीवनसाथी के लिए आज आप कोई सरप्राइज पार्टी प्लान कर सकते हैं


जिनका आज जन्मदिन है उनको हार्दिक शुभकामनाएं और शुभाशीष

23 का अंक देखने पर ॐ का आभास देता है। जो कि भारतीय परंपरा में शुभ प्रतीक है। आप बेहद भाग्यशाली हैं कि आपका जन्म 23 को हुआ है। 23 का अंक आपस में मिलकर 5 होता है। जबकि 5 का अंक बुध ग्रह का प्रतिनिधि करता है। ऐसे व्यक्ति अधिकांशत: मितभाषी होते हैं। कवि, कलाकार, तथा अनेक विद्याओं के जानकार होते हैं।

 

आपमें किसी भी प्रकार का परिवर्तन करना मुश्किल है। अर्थात अगर आप अच्छे स्वभाव के व्यक्ति हैं तो आपको कोई भी बुरी संगत बिगाड़ नहीं सकती। अगर आप खराब आचरण के हैं तो दुनिया की कोई भी ताकत आपको सुधार नहीं सकती। लेकिन सामान्यत: 23 तारीख को पैदा हुए व्यक्ति सौम्य स्वभाव के ही होते हैं। आपमें गजब की आकर्षण शक्ति होती है। आपमें लोगों को सहज अपना बना लेने का विशेष गुण होता है। अनजान व्यक्ति की मदद के लिए भी आप सदैव तैयार रहते हैं।

शुभ दिनांक : 1, 5, 7, 14, 23

शुभ अंक : 1, 2, 3, 5, 9, 32, 41, 50

शुभ वर्ष : 2030, 2032, 2034, 2050, 2059, 2052

ईष्टदेव : देवी महालक्ष्मी, गणेशजी, मां अम्बे।

शुभ रंग : हरा, गुलाबी जामुनी, क्रीम

कैसा रहेगा यह वर्ष

वर्ष आपके लिए सफलताओं भरा रहेगा। अभी तक आ रही परेशानियां भी इस वर्ष दूर होती नजर आएंगी। परिवारिक प्रसन्नता रहेगी। संतान पक्ष से खुशखबर आ सकती है। नौकरीपेशा व्यक्तियों के लिए यह वर्ष निश्चय ही सफलताओं भरा रहेगा। दाम्पत्य जीवन में मधुर वातावरण रहेगा। अविवाहित भी विवाह में बंधने को तैयार रहें। व्यापार-व्यवसाय में प्रगति से प्रसन्नता रहेगी।


अंकों की महिमा

भारतीय संस्कृति में अंक नौ की महिमा

आज नौ तारीख है और लिखी जाए तो 9.10.11. कितना विशेष दिन है! अंक नौ गणित की दृष्टि से तो महत्त्वपूर्ण है ही, नौ संपूर्ण अंक होता है इसलिए तो भगवान राम का जन्म चैत्र मास की नौवीं तिथि को हुआ था. मर्यादा पुरुषोत्तम के सद्गुणों को भला कौन गिन सकता है! नौ को नौ से क्या किसी भी संख्या से गुणा करें तो गुणनफल की संख्याओं का योग नौ ही होगा. नौ में कितनी ही  बार नौ जोड़ा जाए उसकी संख्याओं का योग नौ ही होगा. ग्रह होते हैं नौ, राशियां होती हैं बारहा. नौ और बारहा का गुणनफल होगा एक सौ आठ. फिर इसकी संख्याओं का योग होगा नौ. श्रवण, कीर्तन, स्मरण, अर्चन, वंदन आदि भक्तियां भी नौ होती हैं जो, नवधा भक्ति कहलाती हैं. शृंगार, करुण, हास्य, रौद्र आदि हिंदी साहित्य के नौ रस होते हैं. प्रभा, माया, जया, सूक्ष्मा आदि नौ शक्तियां होती हैं. वत्सनाभ, हारिद्रक, सक्तुक, प्रदीपन आदि नौ विष होते हैं. पद्म, महापद्म,शंख, मकर आदि कुबेर की नवनिधियां होती हैं. दो आंखें, दो कान, नाक के दो नथुने, एक मुख आदि मनुष्य-शरीर की नौ इंद्रियां होती हैं. शैलपुत्री, ब्रह्मचारिणी, चित्रघंटा, कुष्मांडा आदि नवदुर्गाएं होती हैं. ज्योतिष के अनुसार सूर्य, चंद्र, मंगल, बुध आदि नवग्रह होते हैं. नवरात्रि में पूजा-योग्य कुमारिका, त्रिमूर्ति, कल्याणी, रोहिणी आदि नौ कुमारियां होती हैं. मोती, पन्ना, मूंगा, माणिक आदि नौ रत्न होते हैं. मौन रहने के किसीकी निंदा नहीं होगी, असत्य बोलने से बचेंगे, किसीसे वैर नहीं होगा, किसीसे क्षमा नहीं मांगनी पड़ेगी आदि नौ लाभ होते हैं. इसलिए भारतीय संस्कृति में अंक नौ को अत्यंत महत्त्वपूर्ण माना गया है.



आज का  परामर्श

क्या आप घर में लाना चाहते हैं पॉजिटिविटी? अपनाए ये 5 वास्तु टिप्स

वास्तु शास्त्र को काफी महत्व दिया गया हैं. इसमें अलग अलग दिशाओं का महत्व बताया गया हैं. वास्तु में विश्वास रखने वाले कई लोग वास्तु शास्त्र के हिसाब से ही सही दिशा पर आधारित अपने घर, या ऑफिस बनवाते हैं. इससे उनके जीवन में काफी प्रोग्रेस होता हैं. यही नहीं वास्तु शास्त्र में यह भी बताया गया हैं कैसे आप अपने घर में पॉजिटिव एनर्जी को बढ़ावा देके नेगेटिव एनर्जी को नष्ट कर सकते हैं. तो आइए इस वीडियो में हम आपको बताने जा रहे हैं वास्तु के मुताबिक वो 5 उपाय जिससे आप घर में पॉजिटिविटी ला सकते हैं.

1. एक कटोरी नमक ला सकता है पॉजिटिव एनर्जी (Salt for positivity) : वास्तु शास्त्र के अनुसार नमक वो चीज है जो बुरी शक्तियों को दूर करने की ताकत रखता है और घर को पॉजिटिव एनर्जी से भर देता हैं. इसलिए आप एक कटोरी नमक नॉर्थ ईस्ट या साउथ वेस्ट डायरेक्शन पर रख सकते हैं. यह नुस्खा आपके घर में पो और उत्साह ला सकता हैं.

2. हरा रंग भी है काफी पवरफुल (Colour Green for positivity): क्या आपको पता है हरा रंग भी शांति का प्रतीक है? जी बिल्कुल, इसीलिए तो कहा जाता है कि पैड पौदे उगाना ना ही हमे प्रकृति के करीब रखता है बल्कि पॉजिटिव औरा को भी आमंत्रित करता है. तो अगर आप घर में भी पॉजिटिविटी फैलाना चाहते हैं तो आप घर में मनी प्लांट, फुल, पौधे आदि रख सकते हैं.

3. विंड चाइम्स फैलाए पॉजिटिव औरा (Wind Chimes for positivity): विंड चाइम्स आज कल घर घर में काफी मशहूर हैं. खास कर इसलिए क्योंकि विंड चाइम्स घर में सुखद माहोल बनाए रखता है. तो अगर आपके घर में विंड चाइम्स नही है तो जरूर लगाएं और फिर देखिए कैसे आपका घर सुंदर और पॉजिटिव औरा से भर जायेगा.

4. घर के प्रवेश द्वार को हमेशा साफ रखें (Keep your entrance clean for positivity): आप तो जानते ही होंगे की घर का एंट्रेंस कितना मुख्य होता है, इसलिए आप ध्यान रखे कि आपके एंट्रेंस पर हमेशा रोशनी हो, वहा कूडादान बिलकुल ना रखे और अपने प्रवेश द्वार को हमेशा साफ रखें. इससे आपके घर में पॉजिटिव एनर्जी का प्रवेश होगा.

5. कांच को सही दिशा में लगाए (Mirror positioning for positivity): यह जानकर आप हैरान हो जाएंगे कि आपके घर में लगे कांच भी घर की ऊर्जा को बैलेंस करने में बड़ी भूमिका निभाते है. कांच पॉजिटिव और नेगेटिव दोनो एनर्जी रिफ्लेक्ट कर सकते हैं, इसलिए उनकी पोजिशनिंग बहुत ज्यादा जरूरी है. तो आप आपके घर में कांच वास्तु के हिसाब से ही लगाए जिससे शांति का वातावरण भी बना रहे.

तो यह थे कुछ वास्तु के टिप्स जिन्हे आजमा कर आप घर में पॉजिटिविटी फैला सकते हैं.



आज का विशेष उपाय

लाल किताब में परंपरागत और स्थानीय संस्कृति के अनुभवों पर आधारित उपाय बताए गए हैं। इसमें एक और जहां वास्तुशास्त्र की बात की गई है तो दूसरी ओर सामुद्रिक विज्ञान को बताया गया है। आओ जानते हैं कि ऐसे कौन से 10 उपाय हैं जिन्हें करने से घर में सुख, शांति, समृद्धि और धन की आवक बनी रहे।

प्रतिदिन हनुमान मंदिर जाएं और पीपल को जल चढाएं। हनुमान चालीसा पढ़ें। हनुमानजी को चोला चढ़ाएं। प्रतिदिन नहीं जा सकते हैं तो प्रति मंगल, गुरु और शनिवार को मंदिर जाएं। मंदिर के वृद्ध पुजारी या शिक्षक को पीला वस्त्र, धार्मिक पुस्तक या पीले खाद्य पदार्थ दान करें।

दूसरा उपाय-

एकादशी, प्रदोष या गुरुवार का व्रत रखें। पीला वस्त्र धारण करें। प्रतिदिन केसर या हल्दी का तिलक लगाएं। नाभि पर घी लगाएं। गुरुवार को नमक न खाएं।

तीसरा उपाय-

अपने या दूसरों के प्रति कटु वचन न बोलें। मुंह से गाली न निकालें। गृहकलह से बचें। मन में बुरे खयाल न लाएं। हमेशा सकारात्मक सोचें। इसके लिए घर में प्रतिदिन सुबह और शाम को कर्पूर जलाएं।

चौथा उपाय-

नाक और कान छिदवाएं। कुंडली की जांच करके किसी अच्छे मुहूर्त में बुधवार के दिन नाक छिदवाएं या गुरुवार के दिन गुरु का दान कर दें। नाक में चांदी का तार 43 दिन तक डालकर रखें और कान में सोने का तार।

पांचवां उपाय-

घर में 10 वस्तुएं अवश्य रखें। पहला चांदी से बना ठोस हाथी, दूसरा पत्थर की घट्टी, तीसरा पीतल-तांबे के बर्तन, चौथा मिट्टी के बर्तन में शहद, पांचवां काला सुरमा, छठा चांदी की डिब्बी जिसमें पानी भरा हो, सातवां काला सुरमा, आठवां देशी गुड़, नौवां चांदी का एक चौकोर टुकड़ा और दसवां हनुमानजी का चित्र या मूर्ति।

छठा उपाय-

शनि के मंदे कार्य न करें, जैसे परस्त्रीगमन, शराब पीना, ब्याज का धंधा करना और किसी मनुष्य या प्राणी को सताना। प्रति शनिवार को छाया दान नहीं कर सकते हैं तो कम से कम 11 शनिवार को छाया दान करें।

सातवां उपाय-

वृक्ष, चींटी, पक्षी, गाय, कुत्ता, कौवा, कछुआ, मछली, वृद्ध, अनाथ, कन्या, अशक्त मानव आदि प्राणियों के अन्न-जल की व्यवस्था करने से इनकी हर तरह से दुआ मिलती है। अत: इन सभी को अन्न और जल देते रहने से पितृदोष, राहु-केतु दोष, शनि दोष, शुक्रदोष आदि दोष तो दूर होते ही हैं साथ ही व्यक्ति कर्ज, आकस्मिक संकट और दुर्घटना से भी बचा रहता है।

आठवां उपाय-

5 काम वर्ष में 2 बार अवश्य करें। पहला अलग-अलग पानीदार नारियल लेकर अपने और अपने परिवार के सदस्यों के ऊपर से 21 बार वार कर उसे अग्नि में जला दें। इसी तरह 21 बार वार कर बहते पानी में बहा दें। दूसरा काम तांबे के लोटे में जल भरकर उसे सिरहाने रखकर सोएं और सुबह उठते ही उसे बाहर ढोल दें या कीकर के वृक्ष में डाल दें। तीसरा कार्य काला और सफेद दोरंगी कंबल 21 बार खुद पर से वार कर किसी गरीब को दान करें। चौथा कार्य बहते पानी में रेवड़ियां, बताशे, शहद या सिंदूर बहाएं। पांचवां कार्य कभी-कभी आंखों में काला सुरमा लगाएं।

नौवां उपाय-

यदि आप संकटों से जूझ रहे हैं, बार-बार एक के बाद एक कोई न कोई संकट से आप घिर जाते हैं तो किसी की शवयात्रा में श्मशान से लौटते वक्त कुछ सिक्के पीछे फेंकते हुए आ जाएं।

दसवां उपाय-

घर को वास्तु अनुसार ही बनाएं। वास्तु अनुसार नहीं बना है तो उसमें सुधार करवाएं। घर के वास्तुदोष को मिटाने के लिए कर्पूर का बहुत‍ महत्व है। यदि सीढ़ियां, टॉयलेट या द्वार किसी गलत दिशा में निर्मित हो गए हैं तो सभी जगह 1-1 कर्पूर की बट्टी रख दें। वहां रखा कर्पूर चमत्कारिक रूप से वास्तुदोष को दूर कर देगा।

अच्छी आदतें 

स्वस्थ रहने के लिए रूटीन में शामिल करें ये 10 हैल्दी आदतें

स्वस्थ रहने के लिए रूटीन में शामिल करें ये 10 हैल्दी आदतें

हैल्दी रहने की अच्छी आदतें : हर कोई अच्छे, हैल्दी और स्वस्थ जीवन की ख्वाहिश रखता है। स्वस्थ रहने के लिए आप हैल्दी डाइट से लेकर एक्सरसाइज तक करते हैं। इसके बावजूद भी आप कई बीमारियों की चपेट मे आ जाते हैं। ऐसा इसलिए है क्योंकि स्वस्थ रहने के लिए कुछ अच्छी आदतों का होना बेहद जरूरी है। कई बार आप कुछ चीजों को लेकर लापरवाह हो जाते है और बीमारियों की चपेट में आ जाते हैं। ऐसे में आज हम आपको 10 हैल्दी आदतों के बारे में बताएंगे, जिसे रूटीन में शामिल करके आप खुद को स्वस्थ रख सकते हैं।   एेसे करेंगे दिन की शुरुआत तो आसपास ही रहेगी बीमारियां

रूटीन में शामिल करें ये हैल्दी आदतें

1. बाहर से घर आने के बाद, भोजन पकाने से पहले, खाना खाने के पहले या बाद में और बाथरूम का इस्तेमाल करने के बाद हाथों को अच्छी तरह साबुन से धोएं। यदि आपके घर में कोई छोटा बच्चा है तब तो यह और भी जरूरी हो जाता है। उसे हाथ लगाने से पहले अपने हाथ अच्छी तरह से धोएं।

2. स्वस्थ रहने के लिए रोजाना रुटीन में कुछ हल्की-फुल्की एक्सरसाइज, व्यायाम या योग शामिल करें। कुछ समय निकालकर सुबह-शाम सैर जरूर करें। इससे आपकी आधी से ज्यादा समस्याएं दूर हो जाएगी।

3. 45 की उम्र के बाद अपना रूटीन चेकअप करवाते रहें और अगर डॉक्टर आपको कोई दवाई देता है तो उसे नियमित रुप से लें। बीमारियों से बचने के लिए सिर्फ दवाइयां ही नहीं, रोज कोई भी एक व्यायाम रोज जरूर करें। अगर इसके लिए समय नहीं निकाल पा रहे तो दफ्तर या घर की सीढ़ियां चढ़ने और तेज चलने का रूटीन अपनाएं। इसके अलावा कोशिश करें कि दफ्तर में भी आपको बहुत देर तक एक ही पोजीशन में न बैठा रहना पड़े।

4. बिजी शेड्यूल के चक्कर में अक्सर लोग सुबह का नाश्ता नहीं करते लेकिन यह सेहत के लिए हानिकारक है। हैलेदी रहना चाहते है तो नाश्ते के साथ-साथ लंच और डिनर भी समय पर करें। इसके अलावा गर्मियों में ज्यादा से ज्यादा पानी पीएं।

5. छोटी-छोटी बातों को लेकर तनाव न लें और अपने गुस्से को भी कंट्रोल में रखें। इससे भी आप कई बीमारियों की चपेट में आ जाते हैं। इसलिए हमेशा खुश रहे और दिमाग पर ज्यादा जोर न डालें। अपनी भावनाओं को दूसरों के साथ शेयर करें। इससे आपको हल्का महसूस होगा।

6. अपने विश्राम करने या सोने के कमरे को साफ-सुथरा, हवादार और खुला-खुला रखें। चादरें, तकियों के गिलाफ तथा पर्दों को 3 से 4 दिन में बदलते रहें। मैट्रेस या गद्दों को भी समय-समय पर धूप में रखें, ताकि उसकी धूल-मिट्टी और किटाणु निकल जाएं।

7. खाने में सलाद, दही, दूध, दलिया, हरी सब्जियों, साबुत दाल-अनाज आदि का इस्तेमाल जरूर करें। कोशिश करें कि आपकी प्लेट में 'वैरायटी ऑफ फूड' शामिल हो। खाना पकाने तथा पीने के लिए साफ पानी का प्रयोग करें और सब्जियों तथा फलों को अच्छी तरह धोकर खाएं।

8. भोजन पकाने के लिए अनसैचुरेटेड वेजिटेबल औयल जैसे- सोयाबीन, सनफ्लावर, मक्का या औलिव ऑयल का प्रयोग करें। खाने को सही तापमान पर पकाएं और ज्यादा पकाकर सब्जियों आदि के पौष्टिक तत्व नष्ट न करें। साथ ही ओवन का प्रयोग करते समय तापमान का खास ध्यान रखें। जंकफूड, सॉफ्ट ड्रिंक, मसालेदार भोजन और आर्टिफिशियल शक्कर से बने जूस का सेवन न करें।

9. घर में सफाई पर खास ध्यान दें, खासकर रसोई और शौचालयों पर। पानी को कहीं भी इकट्ठा न होने दें। सिंक, वॉश बेसिन आदि जैसी जगहों पर नियमित रूप से सफाई करें तथा फिनाइल, फ्लोर क्लीनर आदि का इस्तेमाल करती रहें।

10. रात का खाना 8 बजे तक कर लें और रात के समय ज्यादा हैवी भोजन न करें। ध्यान रहे कि भोजन हल्का-फुल्का हो। इसके अलावा सोने से पहले 15 से 20 मिनट टहलना ना भूलें।

आपको हमारे पंचांग में अच्छा लगा और अच्छा बनाने के लिये क्या सामग्री  जोड़ें हमारे  व्हाट्सएप नंबर 9911342666 पर बताये ताकि सुधार कर अधिक बेहतर बना सके

ज्योतिष, वास्तु लाल किताब व स्वास्थ्य संबंधी जानकारी हेतु हमारे WhatsApp ग्रुप में शामिल होने के लिए यह लिंक खोलें:या हमारे व्हाट्सएप नंबर 9911342666पर अपना नाम जगह लिख भेजे https://chat.whatsapp.com/HWs76X3eTzF1dLPuHGGf4H


अपनी किसी प्रकार की समस्या के समाधान के लिए सरल ज्योतिष वास्तु रेकी हीलिंग एवं लाल किताब उपाय  हेतु हमसे सम्पर्क करें

निशुल्क परामर्श के इच्छुक व्यक्ति दोपहर में 2से 3 बजे संपर्क करें आचार्य लक्ष्मण 

श्री बालाजी ज्योतिष अनुसंधान केंद्र

09354328527, 09911342666, 01127651180


LAL Kitab Anmol

0 comments:

Post a Comment

अपनी टिप्पणी लिखें

 
भाषा बदलें
हिन्दी टाइपिंग नीचे दिए गए बक्से में अंग्रेज़ी में टाइप करें। आपके “स्पेस” दबाते ही शब्द अंग्रेज़ी से हिन्दी में अपने-आप बदलते जाएंगे। उदाहरण:"भारत" लिखने के लिए "bhaarat" टाइप करें और स्पेस दबाएँ।
भाषा बदलें