बीमारी का बगैर दवाई भी इलाज़ है,मगर मौत का कोई इलाज़ नहीं दुनियावी हिसाब किताब है कोई दावा ए खुदाई नहीं लाल किताब है ज्योतिष निराली जो किस्मत सोई को जगा देती है फरमान दे के पक्का आखरी दो लफ्ज़ में जेहमत हटा देती है

Wednesday, 6 October 2021

आज का श्री बालाजी पंचांग मां भगवती की पूजा-अर्चना करते समय सर्वप्रथम कलश / घट की स्थापना विधि

अंतर्गत लेख:




🌞 ~आज का श्री बालाजी पंचांग ~ 🌞

⛅ दिनांक 07 अक्टूबर 2021

⛅ दिन - गुरुवार

⛅ विक्रम संवत - 2078 (गुजरात - 2077)

⛅ शक संवत -1943

⛅ अयन - दक्षिणायन

⛅ ऋतु - शरद 

⛅ मास -अश्विन

⛅ पक्ष - शुक्ल 

⛅ तिथि - प्रतिपदा दोपहर 01:46 तक तत्पश्चात द्वितीया

⛅ नक्षत्र - चित्रा रात्रि 09:13 तक तत्पश्चात स्वाती

⛅ योग - वैधृति - 08 अक्टूबर रात्रि 01:40 तक तत्पश्चात   विष्कम्भ

⛅  राहुकाल - दोपहर 01:55 से शाम 03:24 तक

⛅ सूर्योदय - 06:32 

⛅ सूर्यास्त - 18:19

⛅ दिशाशूल - दक्षिण दिशा में

⛅ व्रत पर्व विवरण - शारदीय  नवरात्र प्रारंभ, घट- स्थापन,   चंद्र- दर्शन, महाराजा अग्रसेन जयंती (ति.अ.)

 💥 विशेष - प्रतिपदा को कूष्माण्ड(कुम्हड़ा, पेठा) न खाये, क्योंकि यह धन का नाश करने वाला है।(ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-34)

🌞 ~श्री बालाजी पंचांग ~ 🌞


🌷 नवरात्रि पूजन विधि 🌷

➡ 07 अक्टूबर 2021 गुरुवार से नवरात्रि प्रारंभ ।

🙏🏻 नवरात्रि के प्रत्येक दिन माँ भगवती के एक स्वरुप श्री शैलपुत्री, श्री ब्रह्मचारिणी, श्री चंद्रघंटा, श्री कुष्मांडा, श्री स्कंदमाता, श्री कात्यायनी, श्री कालरात्रि, श्री महागौरी, श्री सिद्धिदात्री की पूजा की जाती है। यह क्रम शारदीय शुक्ल प्रतिपदा को प्रातःकाल  शुरू होता है। प्रतिदिन जल्दी स्नान करके माँ भगवती का ध्यान तथा पूजन करना चाहिए। सर्वप्रथम कलश स्थापना की जाती है।

➡ कलश / घट स्थापना विधि

🌷 घट स्थापना शुभ मुहूर्त (सुरत) :

07 अक्टूबर 2021 शुक्रवार को सुबह  06:32 से सुबह 10:28 तक

➡ घट स्थापना अभिजित मुहूर्त - दोपहर 12:03 से दोपहर 12:50 तक

🙏🏻 देवी पुराण के अनुसार मां भगवती की पूजा-अर्चना करते समय सर्वप्रथम कलश / घट की स्थापना की जाती है। घट स्थापना करना अर्थात नवरात्रि की कालावधि में ब्रह्मांड में कार्यरत शक्ति तत्त्व का घट में आवाहन कर उसे कार्यरत करना । कार्यरत शक्ति तत्त्व के कारण वास्तु में विद्यमान कष्टदायक तरंगें समूल नष्ट हो जाती है। धर्मशास्त्रों के अनुसार कलश को सुख-समृद्धि, वैभव और मंगल कामनाओं का प्रतीक माना गया है। कलश के मुख में विष्णुजी का निवास, कंठ में रुद्र तथा मूल में ब्रह्मा स्थित हैं और कलश के मध्य में दैवीय मातृशक्तियां निवास करती हैं।

🌷 सामग्री:

👉🏻 जौ बोने के लिए मिट्टी का पात्र

👉🏻 जौ बोने के लिए शुद्ध साफ़ की हुई मिटटी

👉🏻 पात्र में बोने के लिए जौ

👉🏻 घट स्थापना के लिए मिट्टी का कलश (“हैमो वा राजतस्ताम्रो मृण्मयो वापि ह्यव्रणः” अर्थात 'कलश' सोने, चांदी, तांबे या मिट्टी का छेद रहित और सुदृढ़ उत्तम माना गया है । वह मङ्गलकार्योंमें मङ्गलकारी होता है )

👉🏻 कलश में भरने के लिए शुद्ध जल, गंगाजल

👉🏻 मौली (Sacred Thread)

👉🏻 इत्र

👉🏻 साबुत सुपारी

👉🏻 दूर्वा

👉🏻 कलश में रखने के लिए कुछ सिक्के

👉🏻 पंचरत्न

👉🏻 अशोक या आम के 5 पत्ते

👉🏻 कलश ढकने के लिए ढक्कन

👉🏻 ढक्कन में रखने के लिए बिना टूटे चावल

👉🏻 पानी वाला नारियल

👉🏻 नारियल पर लपेटने के लिए लाल कपडा

👉🏻 फूल माला

🌷 विधि

🙏🏻 सबसे पहले जौ बोने के लिए मिट्टी का पात्र लें। इस पात्र में मिट्टी की एक परत बिछाएं। अब एक परत जौ की बिछाएं। इसके ऊपर फिर मिट्टी की एक परत बिछाएं। अब फिर एक परत जौ की बिछाएं। जौ के बीच चारों तरफ बिछाएं ताकि जौ कलश के नीचे न दबे। इसके ऊपर फिर मिट्टी की एक परत बिछाएं। अब कलश के कंठ पर मौली बाँध दें। कलश के ऊपर रोली से ॐ और स्वास्तिक लिखें। अब कलश में शुद्ध जल, गंगाजल कंठ तक भर दें। कलश में साबुत सुपारी, दूर्वा, फूल डालें। कलश में थोडा सा इत्र डाल दें। कलश में पंचरत्न डालें। कलश में कुछ सिक्के रख दें। कलश में अशोक या आम के पांच पत्ते रख दें। अब कलश का मुख ढक्कन से बंद कर दें। ढक्कन में चावल भर दें। श्रीमद्देवीभागवत पुराण के अनुसार “पञ्चपल्लवसंयुक्तं वेदमन्त्रैः सुसंस्कृतम्। सुतीर्थजलसम्पूर्णं हेमरत्नैः समन्वितम्॥” अर्थात कलश पंचपल्लवयुक्त, वैदिक मन्त्रों से भली भाँति संस्कृत, उत्तम तीर्थ के जल से पूर्ण और सुवर्ण तथा पंचरत्न मई होना चाहिए।

🙏🏻 नारियल पर लाल कपडा लपेट कर मौली लपेट दें। अब नारियल को कलश पर रखें। शास्त्रों में उल्लेख मिलता है: “अधोमुखं शत्रु विवर्धनाय,ऊर्ध्वस्य वस्त्रं बहुरोग वृध्यै। प्राचीमुखं वित विनाशनाय,तस्तमात् शुभं संमुख्यं नारीकेलं”। अर्थात् नारियल का मुख नीचे की तरफ रखने से शत्रु में वृद्धि होती है।नारियल का मुख ऊपर की तरफ रखने से रोग बढ़ते हैं, जबकि पूर्व की तरफ नारियल का मुख रखने से धन का विनाश होता है। इसलिए नारियल की स्थापना सदैव इस प्रकार करनी चाहिए कि उसका मुख साधक की तरफ रहे। ध्यान रहे कि नारियल का मुख उस सिरे पर होता है, जिस तरफ से वह पेड़ की टहनी से जुड़ा होता है।

🙏🏻 अब कलश को उठाकर जौ के पात्र में बीचो बीच रख दें। अब कलश में सभी देवी देवताओं का आवाहन करें। "हे सभी देवी देवता और माँ दुर्गा आप सभी नौ दिनों के लिए इसमें पधारें।" अब दीपक जलाकर कलश का पूजन करें। धूपबत्ती कलश को दिखाएं। कलश को माला अर्पित करें। कलश को फल मिठाई अर्पित करें। कलश को इत्र समर्पित करें।

🌷 कलश स्थापना के बाद माँ दुर्गा की चौकी स्थापित की जाती है।

🙏🏻 नवरात्रि के प्रथम दिन एक लकड़ी की चौकी की स्थापना करनी चाहिए। इसको गंगाजल से पवित्र करके इसके ऊपर सुन्दर लाल वस्त्र बिछाना चाहिए। इसको कलश के दायीं ओर रखना चाहिए। उसके बाद माँ भगवती की धातु की मूर्ति अथवा नवदुर्गा का फ्रेम किया हुआ फोटो स्थापित करना चाहिए। मूर्ति के अभाव में नवार्णमन्त्र युक्त यन्त्र को स्थापित करें। माँ दुर्गा को लाल चुनरी उड़ानी चाहिए। माँ दुर्गा से प्रार्थना करें "हे माँ दुर्गा आप नौ दिन के लिए इस चौकी में विराजिये।" उसके बाद सबसे पहले माँ को दीपक दिखाइए। उसके बाद धूप, फूलमाला, इत्र समर्पित करें। फल, मिठाई अर्पित करें।

🙏🏻 नवरात्रि में नौ दिन मां भगवती का व्रत रखने का तथा प्रतिदिन दुर्गा सप्तशती का पाठ करने का विशेष महत्व है। हर एक मनोकामना पूरी हो जाती है। सभी कष्टों से छुटकारा दिलाता है।

🙏🏻 नवरात्रि के प्रथम दिन ही अखंड ज्योत जलाई जाती है जो नौ दिन तक जलती रहती है। दीपक के नीचे "चावल" रखने से माँ लक्ष्मी की कृपा बनी रहती है तथा "सप्तधान्य" रखने से सभी प्रकार के कष्ट दूर होते है

🙏🏻 माता की पूजा "लाल रंग के कम्बल" के आसन पर बैठकर करना उत्तम माना गया है

🙏🏻 नवरात्रि के प्रतिदिन माता रानी को फूलों का हार चढ़ाना चाहिए। प्रतिदिन घी का दीपक (माता के पूजन हेतु सोने, चाँदी, कांसे के दीपक का उपयोग उत्तम होता है) जलाकर माँ भगवती को मिष्ठान का भोग लगाना चाहिए। मान भगवती को इत्र/अत्तर विशेष प्रिय है।

🙏🏻 नवरात्रि के प्रतिदिन कंडे की धुनी जलाकर उसमें घी, हवन सामग्री, बताशा, लौंग का जोड़ा, पान, सुपारी, कर्पूर, गूगल, इलायची, किसमिस, कमलगट्टा जरूर अर्पित करना चाहिए।

🙏🏻 लक्ष्मी प्राप्ति के लिए नवरात्रि  में  पान और  गुलाब की ७ पंखुरियां रखें तथा मां भगवती को अर्पित कर दें

🙏🏻 मां दुर्गा को प्रतिदिन विशेष भोग लगाया जाता है। किस दिन किस चीज़ का भोग लगाना है ये हम विस्तार में आगे बताएँगे।

🙏🏻 प्रतिदिन कन्याओं का विशेष पूजन किया जाता है। श्रीमद्देवीभागवत पुराण के अनुसार “एकैकां पूजयेत् कन्यामेकवृद्ध्या तथैव च। द्विगुणं त्रिगुणं वापि प्रत्येकं नवकन्तु वा॥” अर्थात नित्य ही एक कुमारी का पूजन करें अथवा प्रतिदिन एक-एक-कुमारी की संख्या के वृद्धिक्रम से पूजन करें अथवा प्रतिदिन दुगुने-तिगुने के वृद्धिक्रम से और या तो प्रत्येक दिन नौ कुमारी कन्याओं का पूजन करें।  किस दिन क्या सामग्री गिफ्ट देनी चाहिए ये भी आगे बताएँगे।

🙏🏻 यदि कोई व्यक्ति नवरात्रि  पर्यन्त प्रतिदिन पूजा करने में असमर्थ हैं तो उसे अष्टमी तिथि को विशेष रूप से अवश्य पूजा करनी चाहिए।  प्राचीन काल में दक्ष के यज्ञ का विध्वंश करने वाली महाभयानक भगवती भद्रकाली करोङों योगिनियों सहित अष्टमी तिथि को ही प्रकट हुई थीं।

🌞 ~ श्री बालाजी पंचांग ~ 🌞

🙏🍀🌷🌻🌺🌸🌹🍁🙏


दिनांक 7 को जन्मे व्यक्ति का मूलांक 7 होगा। यह अंक वरूण ग्रह से संचालित होता है। आप खुले दिल के व्यक्ति हैं। आपकी प्रवृत्ति जल की तरह होती है। जिस तरह जल अपनी राह स्वयं बना लेता है वैसे ही आप भी तमाम बाधाओं को पार कर अपनी मंजिल पाने में कामयाब होते हैं। किसी के मन की बात तुरंत समझने की आपमें दक्षता होती है। इस अंक से प्रभावित व्यक्ति अपने आप में कई विशेषता लिए होते हैं। आप पैनी नजर के होते हैं।

 

शुभ दिनांक : 7, 16, 25

 

शुभ अंक : 7, 16, 25, 34



 

शुभ वर्ष : 2023

 

ईष्टदेव : भगवान शिव तथा विष्णु


 

शुभ रंग : सफेद, पिंक, जामुनी, मेहरून

 

कैसा रहेगा यह वर्ष

नौकरीपेशा व्यक्तियों के लिए समय सुखकर रहेगा। नवीन कार्य-योजना शुरू करने से पहले केसर का लंबा तिलक लगाएं व मंदिर में पताका चढ़ाएं। आपके कार्य में तेजी का वातावरण रहेगा। आपको प्रत्येक कार्य में जुटकर ही सफलता मिलेगी। अधिकारी वर्ग का सहयोग मिलेगा। व्यापार-व्यवसाय की स्थिति उत्तम रहेगी।

आज का राशिफल

मेष दैनिक राशिफल (Aries Daily Horoscope)

आज का दिन आपके लिए मिश्रित परिणाम लेकर आएगा। आज आपको अपने व्यापार व अपने घर दोनों ही जगह के लिए कड़वाहट को मिठास में बदलने की कला सीखनी होगी, तभी आप आज दोनों जगह सफलता हासिल कर सकेंगे। संतान पक्ष की ओर से आपको आज कोई हर्षवर्धन समाचार सुनने को मिल सकता है, जिससे कारण आप प्रसंता की सीढी चढ जाएंगे, लेकिन जीवनसाथी का सहयोग व सानिध्य आज आपको भरपूर मात्रा में मिलता दिख रहा है।

वृष दैनिक राशिफल (Taurus Daily Horoscope)

आज का दिन आपके लिए उन्नति भरा रहेगा। आज आप किसी भी कार्य को करेंगे, तो पूरे उत्साह से करेंगे, जो पूर्ण भी अवश्य होगा। आज आपकी सामाजिक कार्यों के प्रति रुचि पढ़ने से आपके मान सम्मान में वृद्धि होगी। आज आपको अपने किसी परिजन के लिए कुछ परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। आज रात्रि के समय आपकी कुछ अनचाहे व्यक्तियों से मुलाकात होगी। आज यदि आपने किसी व्यापार को साझेदारी में करने की सोची है, तो उसे कुछ समय के लिए टाल दें, क्योंकि उसमें आज आपको कुछ परेशानी हो सकती।


मिथुन दैनिक राशिफल (Gemini Daily Horoscope) 

आज का दिन आपके लिए थोड़ा संभलकर चलने का होगा, इसलिए आज आपको सतर्क रहना होगा। आज आपकी कोई प्रिय व मूल्यवान वस्तु चोरी हो सकती है, जिसके लिए आपको परेशान होना पड़ेगा। संतान की शिक्षा से संबंधित आज आपको कोई शुभ सूचना प्राप्त होगी, जिसके कारण आप प्रसन्न होंगे। सायंकाल के समय आपका कोई लंबे समय से रुका हुआ कार्य पूरा हो सकता है। आज आप अपने किसी परिजन के घर किसी शुभ व मांगलिक कार्यक्रम में सम्मिलित हो सकते हैं। आज आपको कुछ नए लोगों से मिलने का मौका मिलेगा।


कर्क दैनिक राशिफल (Cancer Daily Horoscope) 

आज का दिन आपके लिए उत्तम संपत्ति के संकेत दे रहा है, जिसके कारण आपकी संपत्ति में इजाफा हो सकता है, इसलिए यदि आपका कोई संपत्ति संबंधित वाद विवाद चल रहा है, तो वह भी आज सुलझेगा, जिसके कारण आपको कोई पैतृक संपत्ति प्राप्त हो सकती है। सायंकाल के समय आज आपकी प्रिय व्यक्तियों से मुलाकात होगी। आज आप संतान के दायित्वों की पूर्ति करने की पूरी कोशिश करेंगे, जिसमें आप सफल भी अवश्य होंगे। विवाह योग्य  जातकों के लिए उत्तम विवाह के प्रस्ताव आ सकते हैं, जिन्हें परिवार के सदस्यो द्वारा भी मंजूरी दी जा सकती है।


सिंह दैनिक राशिफल (Leo Daily Horoscope) 

आज का दिन आपके लिए आमदनी में नए-नए स्त्रोत उत्पन्न होंगे, लेकिन इसके लिए आपको अपनी वाणी की सौम्यता को बनाए रखना होगा, नहीं तो वह आपके बनते हुए कामों को बिगाड़ सकती है। विद्यार्थियों ने यदि किसी शिक्षा प्रतियोगिता में भाग लिया था, तो आज उसका परिणाम आ सकता है, जो आपके लिए उत्तम रूप से लाभदायक रहेगा, जिसमें आपको सफलता अवश्य प्राप्त होगी। आज आपके कुछ शत्रु प्रबल रहेंगे, लेकिन परेशान ना हो। सायंकाल तक वह आपस में लड़कर नष्ट हो जाएंगे। परिवार में भी आज आपको मान सम्मान प्राप्त होता दिख रहा है।


कन्या दैनिक राशिफल (Virgo Daily Horoscope) 

आज का दिन आपके लिए सामान्य रहने वाला है। आज आप अपने कुछ खर्चा को लेकर थोड़ा परेशान रहेंगे, लेकिन आपको अपने बढ़ते हुए खर्चों पर लगाम लगाने होगी, नहीं तो वह आपको परेशानी में डाल सकते हैं। यदि आपका कोई कानूनी संबंधित मुकदमा चल रहा है, तो आज वह भी समाप्त होगा। परिवार में आज किसी सदस्य के विवाह पर बात चल सकती है, जिसके कारण परिवार में किसी शुभ व मांगलिक कार्यक्रम पर भी चर्चा होगी। आज आपको अपने पिताजी के स्वास्थ्य के प्रति भी थोड़ा सचेत रहना होगा, क्योंकि उन्हें यदि पहले से कोई कष्ट है, तो उसके कष्टों में आज वृद्धि हो सकती है।


तुला दैनिक राशिफल (Libra Daily Horoscope)

आज का दिन आपके चारों ओर का वातावरण सुखद बनाए रहेगा। जिसके कारण घर परिवार के सभी सदस्यों की खुशियां भी बड़ी नजर आएंगी, जिनके लिए आपको अधिक मेहनत भी नहीं करनी पड़ेगी। परिवार के छोटे बच्चे आज आपसे कुछ फरमाइशे कर सकते हैं, जिन्हें आप पूरी करते नजर आएंगे। सायंकाल के समय आज आप अपने जीवनसाथी को शॉपिंग पर लेकर जा सकते हैं। व्यापार कर रहे लोगों को यदि काफी दिनों से कोई लेन-देन की समस्या परेशान कर रही थी, तो वह आज समाप्त होगी। विरोधी भी आज आपकी तरक्की को देखकर आपसे जलेंगे।

वृश्चिक दैनिक राशिफल (Scorpio Daily Horoscope) 

आज का दिन आपके लिए कुछ उलझनों से भरा रहेगा। आज आपके मन में अपने घर व व्यापार के लिए कुछ कोई उलझने रहेंगी, इसलिए आज आपको अपने मन पर नकारात्मक ऊर्जा को हावी नहीं होने देना है, नहीं तो वह आपके काफी सारे बनते हुए काम बिगाड़ने की पूरी कोशिश कर सकते है। आज आपका स्वास्थ्य कुछ नरम नरम रहेगा, क्योंकि आज आपको कोई सेहत से संबंधित समस्या परेशान कर सकती है, जिसके वजह से आप परेशान रहेंगे। यदि आपने पहले कहीं कोई निवेश किया हुआ था, तो आज आप उसे पूरा करने में सफल रहेंगे।


धनु दैनिक राशिफल (Sagittarius Daily Horoscope) 

आज का दिन आपके लिए भाग्य के दृष्टिकोण से उत्तम रहने वाला है। शासन सत्ता पक्ष व निकटता व गठजोड़ का भी आज आपको भरपूर लाभ मिलेगा। ससुराल पक्ष से आज आपको पर्याप्त मात्रा में धन हाथ लग सकता है, जिसके कारण आपका मन प्रसन्न रहेगा और आप अपनी बुद्धि लगाकर यह सोचेंगे कि इस धन को कहां इन्वेस्ट किया जाए, जिसका भविष्य में लाभ भी उठाएंगे। सायंकाल का समय आज आप किसी सामाजिक कार्यक्रम में सम्मिलित हो सकते हैं, जिसमें आपकी किसी रसूखदार व्यक्ति से मुलाकात होगी, जो आपके व्यापार के लिए लाभदायक रहेगी।


मकर दैनिक राशिफल (Capricorn Daily Horoscope) 

आज का दिन आपके लिए उत्तम रूप से फलदायक रहेगा। यदि आपका कोई पारिवारिक व आर्थिक मामला उलझा हुआ था, तो आज वह आज सुलझ सकता है। रोजगार की दिशा में जो लोग प्रयासरत हैं,वह आज सफलता हासिल करेंगे और उनको आज आय के नए नए स्त्रोत प्राप्त होंगे, जिसके कारण आप अपनी आर्थिक स्थिति को मजबूत करेंगे। सायंकाल के समय आपके सामने कुछ परेशानियां आ सकती हैं, लेकिन आप उन्हें अपनी चतुर बुद्धि से आसानी से सुलझा लेंगे। आज आपके घर किसी अतिथि का आगमन हो सकता है, जिसमें आपका कुछ धन खर्च भी बढ़ सकता है।

कुंभ दैनिक राशिफल  (Aquarius Daily Horoscope) 

आज का दिन आपके लिए कुछ परेशानी भरा रह सकता है। आज नौकरी कर रहे जातकों का अपने किसी सहयोगी से वाद-विवाद हो सकता है, जिसमें आपको अपने अधिकारियों के कोप का भाजन भी बनना पड़ सकता है। यदि आज किसी यात्रा पर जाना पड़े, तो बहुत ही सावधान होकर जाये,क्योंकि इसमे आपके वाहन की खराबी के कारण आपका धन खर्च बढ़ सकता है, लेकिन आज आपको अपनी बुद्धि के द्वारा किए गए कार्यों में निराशा हाथ लग सकती है, इसलिए यदि कोई ऐसा कार्य करें, तो बहुत ही सावधान होकर करें।


मीन दैनिक राशिफल (Pisces Daily Horoscope) 

आज का दिन आपके लिए कुछ खास रहने वाला है। आज आपको संतान के विवाह की चिंता सता सकती है, जिसके लिए आप अपने किसी मित्र से सलाह ले सकते हैं। प्रेम जीवन जी रहे लोगों को आज किसी अनावश्यक कष्ट का सामना करना पड़ सकता है। दांपत्य जीवन में यदि लंबे समय से कोई अवरोध चल रहा था, तो आज वह समाप्त होगा, जिसके कारण आज आप चैन की सांस लेंगे। सायंकाल के समय धार्मिक क्षेत्रों की यात्रा का प्रसंग प्रबल होगा। यदि आज आप अपने किसी सगे संबंधी से रूपए पैसे का लेनदेन करें, तो बहुत ही सावधान होकर करें 

🙏🏽🙏🏽🙏🏽🙏🏽🙏🏽🙏🏽🙏🏽🙏🏽

ज्योतिष वास्तु रत्न लाल किताब उपाय हेतु निशुल्क परामर्श पाएं सम्पर्क करें

आचार्य लक्ष्मण सिंह स्वतंत्र 

लाल किताब उपाय विशेषज्ञ एवं एनर्जी हीलर  

9911342666

पंचांग नियमित रूप पाने हेतू हमारे व्हाट्सएप नंबर 9911342666

पर अपना नाम वह जगह लिखकर भेजे ताकि आपकों पंचांग नियमित रूप भेजा जा सके

LAL Kitab Anmol

0 comments:

Post a Comment

अपनी टिप्पणी लिखें

 
भाषा बदलें
हिन्दी टाइपिंग नीचे दिए गए बक्से में अंग्रेज़ी में टाइप करें। आपके “स्पेस” दबाते ही शब्द अंग्रेज़ी से हिन्दी में अपने-आप बदलते जाएंगे। उदाहरण:"भारत" लिखने के लिए "bhaarat" टाइप करें और स्पेस दबाएँ।
भाषा बदलें